कोरोना के खिलाफ सेना की सबसे बड़ी तैयारी, 10 दिनों में कर दिखाया ये काम

देशों के पास कोरोना से निपटने के लिए संसाधनों की कमी है। लेकिन एक देश ने सिर्फ 10 दिनों के अंदर 4 हजार बेड का एक इमरजेंसी अस्पताल तैयार कर दिया।

नई दिल्ली: कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ने के कारण दुनिया भर के कई देश रोकथाम और इलाज को लेकर काम कर रहे हैं। हालाँकि कोरोना मरीजों का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है तो वहीं अभी हालत और खराब होने के आसार हैं, ऐसे में देशों के पास संसाधनों की कमी हो गयी है। जिसे पूरा करने में के लिए सरकारें जुट गयी हैं। इसी कड़ी में एक देश ने सिर्फ 10 दिनों के अंदर 4 हजार बेड का एक इमरजेंसी अस्पताल तैयार कर दिया।

लंदन में 10 दिनों में 4 हजार बेड का हॉस्पिटल तैयार

खबर ब्रिटेन की है, जहां कोरोना वायरस के लड़ने के लिए सरकार ने दस दिनों में 4000 बेड का इमरजेंसी हॉस्पिटल खड़ा कर दिया। इसे ‘नाइटेंगल अस्पताल’ का नाम दिया गया है। हॉस्पिटल तैयार कराने में सेना का बड़ा योगदान है। गौतलब है कि इसके पहले चीन के वुहान में 10 दिनों में एक हजार बेड का हॉस्पिटल बनाया था।

ये भी पढ़ेंः चीन से भी आगे बढ़े ये देश, 42,151 पहुंचा मौत का आकड़ा

ब्रिटेन की सेना ने इतने बड़े प्रोजेक्ट को दिया अंजाम

दरअसल, कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या में इजाफा होने की सम्भावना जताते हुए सरकार ने फैसला लिया कि इसके समाधान की रणनीति बनाई जाये। जिसके बाद सेना बुलाी गयी और एक बड़े अस्पताल को तैयार कराया गया।

ये भी पढ़ेंःपीएम मोदी ने फ्रांस के राष्ट्रपति से की बात, कोरोना के उपचार में मदद पर जतायी सहमति

कन्वेंशन सेंटर को हॉस्पिटल में किया तब्दील

4 हजार बेड वाले इस अस्पताल के लिए जगह की जरूरत थी, तो पूर्वी लंदन के डॉकलैंड जिले में एक्सेल कन्वेंशन सेंटर को हॉस्पिटल में तब्दील कर दिया। जहां दो-दो हजार वाले दो बड़े वार्ड बनाये गए।

ये भी पढ़ेंःHIV की नहीं, ये दवा कोरोना मरीजों पर असरदार: स्वास्थ्य मंत्रालय का दावा

रिटायरमेंट से पहले कर्नल एशलेग बोरेम ने का मिशन ‘नाइटेंगल अस्पताल’

सेना ने हॉस्पिटल बनाने का जिम्मा उठाया और कर्नल एशलेग बोरेम ने मिशन का प्रतिनिधत्व किया। उन्होंने इतने कम समय में बड़े अस्पताल को तैयार किये जाने के बारे में कहा कि हॉस्पिटल तैयार करना उनकी जिंदगी का सबसे बड़ा मिशन हो गया था। मिलिट्री का हमेशा एक ही उद्देश्य होता है- लोगों की जान बचाना। बता दें कि कर्नल एशलेग कुछ ही हफ्ते में रिटायर होने वाले हैं।

लंदन के अलावा यहां भी बन रहे इमरजेंसी हॉस्पिटल

बुधवार यानी आज से इस हॉस्पिटल में मरीजों का इलाज शुरू भी हो सकता है। ब्रिटेन की नेशनल हेल्थ सर्विस इस प्रोजेक्ट का नेतृत्व कर रही है। सरकार लंदन के अलावा ब्रिटेन मैनचेस्टर, बर्मिंघम और ग्लासको में भी इमरजेंसी हॉस्पिटल तैयार करवा रही हैं।

ये भी पढ़ेंःकोरोना ने दुनियाभर में मचाई तबाही, अब रूस के राष्ट्रपति पुतिन पर आई बड़ी खबर

ब्रिटेन में 1700 से अधिक लोगों की मौत

ब्रिटेन में अब तक 25,000 से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं,वहीं 1700 से अधिक लोगों की मौत भी हो चुकी है। खुद ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन भी कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।