आखिरकार मान गया चीन: इससे नहीं फैला कोरोना वायरस, पढ़ें पूरी खबर

कोरोना वायरस को लेकर शुरूआत से ही चीन पर कई तरह के आरोप लगाए जा रहे हैं। चीन के वुहान प्रांत से फैले इस महामारी को लेकर अब चीन ने मान लिया है कि कोरोना वायरस वुहान के जंगली जीवों के मार्केट से नहीं फैला।

बीजिंग: कोरोना वायरस को लेकर शुरूआत से ही चीन पर कई तरह के आरोप लगाए जा रहे हैं। चीन के वुहान प्रांत से फैले इस महामारी को लेकर अब चीन ने मान लिया है कि कोरोना वायरस वुहान के जंगली जीवों के मार्केट से नहीं फैला। एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, चीन के सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रीवेंशन के डायरेक्टर गाओ फू ने कहा कि शुरूआत में हमे लगा कि यह वायरस शायद सी-फूड मार्केट में रहा हो।

लेकिन अब समझ आता है कि मार्केट विक्टिम बन गया। कोरोना वायरस काफी पहले से ही मौजूद था। रिपोर्ट के मुताबिक, वायरस कहां से फैला इसकी खोज जारी है।

यह भी पढ़ें: अभी-अभी पाकिस्तान ने की गोलीबारी, सेना दे रही मुंहतोड़ जवाब

किसी भी जीव के सैंपल में वायरस नहीं मिला

डायरेक्टर गाओ फू ने कहा कि वे जनवरी की शुरूआत में वुहान प्रांत गए थे। लेकिन उन्हें किसी भी जीव के सैंपल में वायरस नहीं मिला। उन्होंने कहा कि चीन के वैज्ञानिक कड़ी मेहनत कर रहे हैं, जिससे वायरस कैसे उत्पन्न हुआ इसका पता लगाया जा सके। बता दें कि कोरोना वायरस के सामने आने के बाद से ही चीन का कहना रहा है कि नोवेल कोरोना वायरस जंगली जीवों के बाजार से फैला है।

अमेरिका समेत कई देश चीन को मानते हैं इसके लिए जिम्मेदार

लेकिन अमेरिका समेत कई देशों का आरोप है कि वुहान के वायरोलॉजी इंस्टीट्यूट की लैब से कोरोना वायरस लीक हुआ है। अमेरिका तो ये भी कहता आया है कि लैब से वायरस लीक होने के उसके पास सबूत भी हैं। कोरोना वायरस के फैलने के बाद से चीन के वुहान प्रांत के जंगली जीवों के मार्केट को बंद कर दिया गया था। चीन इस वक्त कोरोना वायरस को लेकर पूरी दुनिया के निशाने पर है।

यह भी पढ़ें: यूपी में तबाही ही तबाही: तेज आंधी-बारिश-ओले से मचा कोहराम, इतने लोगों की मौत

चीन ने माना जंगली जीवों के मार्केट से नहीं फैला कोरोना वायरस

अब चीन के सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रीवेंशन के डायरेक्टर गाओ फू ने मान लिया है कि नोवेल कोरोना वायरस वुहान स्थित जंगली जीवों के मार्केट से नहीं फैला है। मार्केट के जीवों के सैंपल में कोई वायरस नहीं मिला था। बता दें कि गाओ फू चीन के प्रमुख महामारी विशेषज्ञ होने के साथ-साथ देश के प्रमुख राजनीतिक सलाहकार समूह के सदस्य भी हैं।

चीन इन दावों को करता आया है खारिज

जहां दुनियाभर के तमाम देश चीन को कोरोना वायरस फैलने के लिए जिम्मेदार मानते हैं और इसे उसकी एक साजिश करार देते हैं। वहीं चीन हमेशा से इन दावों को खारिज करता आया है कि वुहान के लैब से वायरस लीक हुआ है। वुहान इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी की डायरेक्टर वांग यानयी ने भी एक टीवी इंटरव्यू के दौरान कहा था कि लैब से वायरस होने की थ्योरी झूठी है।

यह भी पढ़ें: इस प्रधानमंत्री ने बनाया समोसा, लेकिन खाना चाहते हैं PM मोदी के साथ

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।