होगा भयानक युद्ध: इस देश पर कब्जा करने जा रहा चीन, कभी भी कर सकता है हमला

चीन ताइवान पर हमले की तैयारी कर रहा है। ड्रैगन ने ताइवान से लगती सीमा पर DF-17 मिसाइल, लड़ाकू विमान J-20 और S-400 एयर डिफेंस सिस्टम को तैनात किया है। आशंका जताई जा रही है कि चीन कभी भी ताइवान पर हमला कर सकता है।

China Army

होगा भयानक युद्ध: इस देश पर कब्जा करने जा रहा चीन, कभी भी कर सकता है हमला (फोटो: सोशल मीडिया)

नई दिल्ली: चीन और ताइवान में तनाव चरम पर पहुंच गया है। दोनों देशों के बीच विवाद बढ़ गया है। अब ताइवान पर चीन हमले की तैयारी कर रहा है। चीन ने इसके मद्देनजर ताइवान से सटी सीमाओं पर DF-17 हाइपरसोनिक मिसाइल और S-400 एयर डिफेंस सिस्टम को तैनात कर दिया है। इस इलाके में चीन की तरफ बढ़ी संख्या में सैनिकों की तैनाती की गई है।

चीन की इस हरकत पर कई सैन्य पर्यवेक्षकों ने चिंता व्यक्त की है। उनका कहना है कि चीन इस क्षेत्र में अपने ताकतवर हथियारों की तैनाती कर सीधे ताइवान को धमकी दे रहा है।

चीन की तरफ से पहले से ही इस क्षेत्र में DF-11 और DF-15 मिसाइलों को तैनात किया गया है। जानकारों का कहना है कि अब इन पुरानी मिसाइलों के स्ता पर ड्रैगन अपने हाइपरसोनिक मिसाइल DF-17 को तैनात करेगा। यह मिसाइल लंबी दूरी तक सटीक निशाना लगाने में माहिर है। ऐसे में अगर चीन हमला करता है तो ताइवान को अपनी सुरक्षा के लिए तगड़े इंतजाम करने पड़ेंगे।

S-400 Defence System

ये भी पढ़ें…सिंधिया की सभा में मातम: किसान की चली गई जान, भाषण देने के दौरान हुई ये घटना

DF-17 मिसाइल कर सकती है परमाणु हमला

चीन की DF-17 मिसाइल 2500 किलोमीटर की दूरी हाइपरसोनिक स्पीड से अपने टारगेट को तबाह कर सकती है। इस मिसाइल को पहली बार साल 2019 चीन की स्थापना के 70वें वर्षगांठ पर दुनिया के सामने लाया था। इस मिसाइल का वजन 15000 किलोग्राम है और यह 11 मीटर लंबी है। यह मिसाइल परमाणु हमला भी कर सकती है। अब आशंका जताई जा रही है कि किसी भी समय चीन ताइवान पर हमला बोल सकता है।

China Df-17 Missile

ये भी पढ़ें…करोड़ों कर्मचारियों को तोहफा: कार का सपना अब होगा पूरा, मिला ये धमाकेदार ऑफर

एस-400 एयर डिफेंस सिस्टम को किया सक्रिय

चीन ने ताइवान से सटी सीमा पर S-400 एयर डिफेंस सिस्टम को भी तैनात कर दिया है। इस डिफेंस सिस्टम में शक्तिशाली रडार लगा हुआ है जो 600 किलोमीटर दूरी से ही ताइवानी सेना के मिसाइलों, ड्रोन और लड़ाकू विमानों का पता लगाने में सक्षम है। S-400 का रडार सिस्टम पूरे ताइवान को कवर कर सकता है। इसमें लगी मिसाइलें किसी भी लड़ाकू विमान को तबाह कर सकती हैं। चीन ने S-400 एयर डिफेंस सिस्टम को रूस से खरीदा है। इसके साथ ही चीन ने कथित स्टील्थ लड़ाकू विमान J-20 को भी तैनात किया हुआ।

ये भी पढ़ें…मारी जाएगी चीनी सेना: बदला लेने को तैयार भारत, ऐसे मिलेगा चीन को सबक

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App