चीन ने अब इस देश में किया कब्जा, मार-मारकर भगा रहा लोगों को, मचेगी तबाही

ऑस्ट्रेलिया में एक चीनी कंपनी ने आइलैंड का एक हिस्सा पैसे से खरीदा था। इसके बाद वह अब आस्ट्रेलिया के लोगों को ही वहां नहीं जाने नहीं दे रही है। यह आरोप आस्ट्रेलिया के लोगों ने लगाया है। उनका कहना है कि उनको आइलैंड पर चीनी कंपनी नहीं जाने दे रही है।

China

चीन ने अब इस देश में किया कब्जा, मार-मारकर भगा रहा लोगों को, अब मचेगी तबाही (फोटो: सोशल मीडिया)

नई दिल्ली: चीन की दूसरे देशों पर कब्जा करने की भूख बढ़ती ही जा रही है। चीन पड़ोसी देशों समेत दुनिया के दूसरे दशों को कर्ज की जाल फंसाता है फिर वहां की जमीन कब्जा करता है। चीन की इस चाल में कई छोटे गरीब देश फंस चुके हैं। चीन ने श्रीलंका, म्यांमार समेत कई देशों को अपना शिकार बना चुका है। अब चीन ने आस्ट्रलिया को अपना शिकार बनाया है।

बीते साल ऑस्ट्रेलिया में एक चीनी कंपनी ने आइलैंड का एक हिस्सा पैसे से खरीदा था। इसके बाद वह अब आस्ट्रेलिया के लोगों को ही वहां नहीं जाने नहीं दे रही है। यह आरोप आस्ट्रेलिया के लोगों ने लगाया है। उनका कहना है कि उनको आइलैंड पर चीनी कंपनी नहीं जाने दे रही है। स्थानीय लोगों ने बताया कि आइलैंड का इस्तेमाल सिर्फ टूरिस्ट के लिए हो रहा है।

चीनी कंपनी ने लीज पर लिया है आईलैंड

एक मीडिया रिपोर्ट में बताया गया है कि चीन की चाइना ब्लूम नामक कंपनी ने बीते साल ऑस्ट्रेलिया के केस्विक आइलैंड का एक हिस्सा 99 साल के लिए लीज पर लिया। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि कंपनी अब स्थानीय लोगों को वहां पर नहीं जाने दे रही है। बताया जा रहा है जहां पर सार्वजनिक बीच और पार्क हैं वहीं भी चीनी कंपनी नहीं जाने दे रही है।

ये भी पढ़ें…रातोंरात बना करोड़पति: उल्टी-मल से चमकी मछुआरे की किस्मत, हुआ मालामाल

Australia

अब चीनी कंपनी ने आइलैंड पर किराए पर मकान लेकर र रहे एक परिवार को सिर्फ तीन दिन के नोटिस पर घर खाली करने के लिए कहा है। तो वहीं आइलैंड पर पहले से रह रहे लोगों को अपने घर को एयरबीएनबी के जरिए किराए पर देने से भी रोक लगा दी है।

ये भी पढ़ें…भारत के किसानों के दर्द से कराह उठे ब्रिटेन और कनाडा के सांसद, किया ये बड़ा एलान

चीनी टूरिस्ट के लिए रिजर्व करने की कोशिश

इस रिपोर्ट के मुताबिक, स्थानीय लोगों ने कहा कि आइलैंड चीन की कम्युनिस्ट पार्टी की संपत्ति हो गई है। लोगों ने आरोप लगाया है कि आइलैंड को सिर्फ चीनी टूरिस्ट के लिए रिजर्व करने की कोशिश हो रही है।

ये भी पढ़ें…सबसे भयानक मिसाइल: रुस-अमेरिका में छिड़ी जंग, अब युद्ध होना तय

आइलैंड पर एक परिवार पहले रहता था। उस परिवार की सदस्य जुली विलिस का कहना है कि उन्हें नहीं लगता कि वे लोग ऑस्ट्रेलियाई नागरिक को आइलैंड पर रहने देना चाहते हैं। वे लोग सिर्फ चीनी टूरिज्म मार्केट के लिए आइलैंड का इस्तेमाल करने की कोशिश कर रही हैं।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App