Top

ब्राजील के बाद अमेरिका में मिला कोरोना का खतरनाक स्ट्रेन, दुनिया में फैली दहशत

ब्राजील में मिल कोरोना के इस नए स्ट्रेन का P1 का नाम रखा गया है। यह वायरस अमेरिका के मिन्नेसोटा राज्य में पाया गया है। विशेषज्ञों के मुताबिक, यह वायरस सामान्य कोरोना से 50 प्रतिशत अधिक संक्रामक है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 26 Jan 2021 7:40 AM GMT

ब्राजील के बाद अमेरिका में मिला कोरोना का खतरनाक स्ट्रेन, दुनिया में फैली दहशत
X
अमेरिका में ब्राजील में पाया गया कोरोना का सबसे अत्यधिक संक्रामक रूप पहुंच गया है। इसके बाद सबसे ज्यादा प्रभावित देशों में शामिल अमेरिका में दहशत फैल गई है।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: कोरोना माहमारी ने दुनियाभर में तबाही मचा रखी है। इस खतरनाक वायरस को लेकर आए दिन नए-नए खुलासे हो रहे हैं। अब अमेरिका में ब्राजील में पाया गया कोरोना का सबसे अत्यधिक संक्रामक रूप पहुंच गया है। इसके बाद सबसे ज्यादा प्रभावित देशों में शामिल अमेरिका में दहशत फैल गई है।

मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि कोरोना का यह नया रूप कोरोना वायरस वैक्सीन को भी आंशिक रूप से मात दे सकता है। अमेरिका में पहले से कोरोना ने तबाही मचा रखी है। अब इस बीच नया स्टेन मिलने के बाद वैज्ञानिकों के साथ लोगों की चिंता बढ़ गई है।

कोरोना के इस नए स्टेन नाम P1

ब्राजील में मिल कोरोना के इस नए स्ट्रेन का P1 का नाम रखा गया है। यह वायरस अमेरिका के मिन्नेसोटा राज्य में पाया गया है। विशेषज्ञों के मुताबिक, यह वायरस सामान्य कोरोना से 50 प्रतिशत अधिक संक्रामक है। अमेरिका के स्वास्थ्य विभाग ने एक बयान में गृकहा है कि 50 लोगों के रैंडम सैंपल लिए थे।

ये भी पढ़ें...मारे गए खूंखार आतंकी: कमांडरों का हुआ खात्मा, चलाया गया खुफिया ऑपरेशन

Coronavirus

ब्राजील की यात्रा से आया था शख्स

मिन्नेसोटा में ब्राजील से यात्रा कर लैटे शख्स में यह वायरस पाया गया है। वह हाल में ही ब्राजील गया था। यह व्यक्ति जनवरी के पहले हफ्ते में बीमार पड़ा था और 9 जनवरी को उसका सैंपल लिया गया था। मिन्नेसोटा के हेल्थ कमिश्नर जन मैकलम ने बयान जारी कर बताया कि हमे अपने टेस्टिंग प्रोग्राम के जरिए इस खतरनाक वायरस को पहचानने में कामयाबी मिली है।

ये भी पढ़ें...अंतिम संस्कार में चमत्कार: मरी महिला 10 दिन बाद जिंदा, आंखे खुली की खुली रह गई

उन्होंने कहा कि मैं उन सभी लोगों का शुक्रिया करना चाहता हूं जो बीमार पड़ने पर टेस्ट कराने के लिए आगे आ रहे हैं। बता दें कि इससे निपटने के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने कोविड-19 के नए स्ट्रेन के मिलने के बाद यूरोप, ब्रिटेन और ब्राजील से आवाजाही पर रोक लगा दिया था।

ये भी पढ़ें...चीन में 14 दिनों से 2000 फीट नीचे जमीन में फंसे थे 11 लोग, जानिए आगे क्या हुआ

ब्राजील के अमेजोनास से फैला खरनाक वायरस

कोरोना वायरस का यह बेहद संक्रामक रूप ब्राजील के अमेजोनास से दुनियाभर में फैला है। विशेषज्ञों इसको लेकर आशंका जता रहे हैं कि यह खतरनाक वायरस जुलाई महीने से ही दुनिया में फैल रहा है। ब्राजील में कोरोना के इस रूप के मिलने के बाद मौते की संख्या बढ़ने की आशंका है।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story