‘हाउडी मोदी’ में साथ होंगे मोदी और ट्रंप, अमेरिकी राष्ट्रपति कर सकते हैं बड़े ऐलान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप रविवार को ‘हाउडी मोदी’ आयोजन में एक साथ मंच पर होंगे। इस दिन का दोनों देशों के लोगों को इंतजार है। यह दुनिया में पहली बार होगा जब दो बड़े लोकतांत्रिक देशों के नेता एकसाथ रैली करेंगे।

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप रविवार को ‘हाउडी मोदी’ आयोजन में एक साथ मंच पर होंगे। इस दिन का दोनों देशों के लोगों को इंतजार है। यह दुनिया में पहली बार होगा जब दो बड़े लोकतांत्रिक देशों के नेता एकसाथ रैली करेंगे।

इस बीच अमेरिकी राष्ट्रपति ने संकेत दिए हैं कि वह ह्यूस्टन में होने वाली इस मेगा रैली में कुछ बड़े ऐलान कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें…तेजस में राजनाथ ने भरी उड़ान, जानें इस लड़ाकू विमान की विशेषताएं, डरते हैं चीन-पाक

बता दें कि ह्यूस्टन कार्यक्रम में 50 हजार से ज्यादा भारतीय समुदाय के लोग शामिल होंगे। अमेरिका और भारत के नेताओं की यह गर्मजोशी ऐसे समय में देखने को मिलेगी जब पाकिस्तान कश्मीर पर झूठ फैलाने में जुटा है।

ट्रंप से पत्रकारों ने पूछा था कि क्या ह्यूस्टन रैली में जब भारतीय पीएम के साथ वह होंगे तो कुछ बड़े ऐलान कर सकते हैं? इस पर ट्रंप ने कहा कि हो सकता है। प्रधानमंत्री मोदी के साथ मेरे काफी अच्छे संबंध हैं।’

यह भी पढ़ें…पाकिस्तान की ख़तरनाक ट्रेनिंग का खुलासा, भारतीय सेना अलर्ट पर

हालांकि उन्होंने विस्तार से कुछ नहीं बताया। मीडिया रिपोर्टों में कहा गया है कि ह्यूस्टन में मोदी और ट्रंप की मुलाकात से पहले दोनों देशों के अधिकारी एक ट्रेड डील को अंतिम रूप देने की कोशिश कर रहे हैं।

दरअसल, ट्रंप ने इस बात की शिकायत की थी कि अमेरिकी उत्पादों पर भारत ज्यादा शुल्क लगा रहा है और यह स्वीकार्य नहीं है। इसके बाद भारत और अमेरिका के बीच कारोबारी तनाव बढ़ गया था।

यह भी पढ़ें…योगी सरकार के ढाई साल: सीएम ने पेश किया रिपोर्ट कार्ड, गिनाईं उपलब्धियां

इसके बाद जून में अमेरिका ने भारत का तरजीही देश का दर्जा (जीएसपी) खत्म कर दिया था। हालांकि अब अमेरिका के ही सांसदों ने कहा है कि इसे वापस बहाल कर दिया जाना चाहिए।