पाक ने फिर छेड़ा कश्मीर राग, समर्थन के लिए इस ताकतवर मुल्क के आगे गिड़गिड़ाया

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक तुर्की राष्ट्रपति रेचेप तैय्यप एर्दोआन ने शनिवार को पाकिस्तान के राष्ट्रपति आरिफ अल्वी से बातचीत की और कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान के रुख का समर्थन किया।

इस्लामाबाद: कश्मीर मसले पर दुनिया भर से मुंह की खाने के बाद पाकिस्तान एक बार फिर भारत के खिलाफ आवाजें उठाने लगा है। उसने मदद के लिए मुस्लिम राष्ट्रों की तरफ देखना शुरू कर दिया है। मलेशिया और तुक्री दो ऐसे मुल्क हैं जो उस वक्त पाकिस्तान के साथ खड़े हुए थे। एक बार फिर पाकिस्तान को तुर्की के राष्ट्रपति रेचेप तैय्यप एर्दोआन में उम्मीद नजर आ रही है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक तुर्की राष्ट्रपति रेचेप तैय्यप एर्दोआन ने शनिवार को पाकिस्तान के राष्ट्रपति आरिफ अल्वी से बातचीत की और कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान के रुख का समर्थन किया।

वहीँ इमरान खान के ऑफिस से जारी किए गए बयान के मुताबिक, पाकिस्तान कश्मीर की लड़ाई में तुर्की के सहयोग की सराहना करता है, एर्दोआन ने फरवरी 2020 में पाकिस्तानी संसद के संयुक्त सत्र को संबोधित करते हुए कश्मीर मुद्दे पर समर्थन दिया था जिसे उन्होंने फिर से दोहराया है।

अफगानिस्तान की पाकिस्तान को धमकी: सुधर जाओ नहीं तो बुरा होगा अंजाम

भारत पर लगाया कश्मीर में दमनकारी नीति लागू करने का आरोप

पाकिस्तान के राष्ट्रपति आरिफ अल्वी ने तुर्की के राष्ट्रपति रेचेप तैय्यप एर्दोआन से बातचीत में फिलिस्तीन के साथ कश्मीर का भी जिक्र किया और आरोप लगाया कि दोनों जगह सरकारें दमन की नीति पर चल रही हैं।

एक दूसरे ट्वीट में कहा गया, तुर्की के राष्ट्रपति ने आश्वस्त किया है कि वह कश्मीर पर पाकिस्तान के रुख का समर्थन करना जारी रखेंगे क्योंकि दोनों देशों के बीच भाईचारे का संबंध है और दोनों का एक ही मकसद है। एर्दोआन ने कोरोना महामारी खत्म होने के बाद पाकिस्तान के राष्ट्रपति आरिफ अल्वी को तुर्की आने के लिए भी आमंत्रित किया।

तुर्की राष्ट्रपति ने ईद-उल-अजहा पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से भी बातचीत की। आरिफ अल्वी के कार्यालय की तरफ से किए गए ट्वीट में कहा गया, राष्ट्रपति आरिफ अल्वी और तुर्की राष्ट्रपति एर्दोआन ने टेलिफोन पर हुई बातचीत में एक-दूसरे को ईद की शुभकामनाएं दीं। इसके अलावा, कश्मीर और कोविड-19 जैसे अहम मुद्दों पर चर्चा हुई।

पाकिस्तान बौखला उठा: सुबह शाम ले रहा भारत का नाम, नहीं सो पा रहे इमरान

तुर्की के राष्ट्रपति रेचेप के इस फैसले की हुई थी जमकर आलोचना

बता दें कि तुर्की के राष्ट्रपति रेचेप तैय्यप एर्दोआन ने बीते दिनों एक म्यूजियम को मस्जिद में तब्दील कर दिया था जिसकी दुनिया भर में आलोचना हो रही है। यह म्यूजियम मूल रूप से एक चर्च थी। हालांकि, पाकिस्तानी राष्ट्रपति ने एर्दोआन को हागिया सोफिया म्यूजियम को नौ दशकों बाद मस्जिद में तब्दील करने पर बधाई दी। पाकिस्तान ने कहा कि वह तुर्की के वैध हितों की रक्षा के लिए हमेशा उसका साथ देगा और तुर्की की हरसंभव मदद करने की अपनी नीति पर कायम रहेगा।

भारत से डरा पाकिस्तान: इमरान सरकार की दिखी बौखलाहट, उठाया ये कदम

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App