भारत से डरा पाकिस्तान: इमरान सरकार की दिखी बौखलाहट, उठाया ये कदम

पाकिस्तान ने FATF द्वारा ब्लैक लिस्ट किए जाने के डर से गुरुवार को आतंक रोधी कानून में संशोधन किया है। कानून में हुए संशोधन को संसद से पास कराने के बाद पाकिस्तान को उम्मीद है कि अब वह FATF की ग्रे लिस्ट से बाहर हो पाएगा।

Pak PM Imran Khan

Pak PM Imran Khan

इस्लामाबाद: अपनी जमीन पर आतंकियों को शरण देने वाले पाकिस्तान ने फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (FATF) द्वारा ब्लैक लिस्ट किए जाने के डर से गुरुवार को आतंक रोधी कानून में संशोधन किया है। कानून में हुए संशोधन को संसद से पास कराने के बाद पाकिस्तान को उम्मीद है कि अब वह FATF की ग्रे लिस्ट से बाहर हो पाएगा। बता दें कि एफएटीएफ की जून 2018 से ही पाकिस्तान पर कड़ी नजर है।

विधेयकों को पारित करके भारत के मंसूबों पर फेरा पानी- कुरैशी

वहीं इस दौरान पाकिस्‍तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि सीनेट ने दो विधेयकों को पारित करके भारत के मंसूबों पर पानी फेर दिया है। जो ये चाहता है कि पाकिस्तान FATF द्वारा ब्‍लैकलिस्‍ट कर दिया जाए। उन्होंने कहा कि इस कानून के पास होने के बाद भारत अब उन्हें ब्लैकलिस्ट नहीं करा पाएगा।

यह भी पढ़ें: रिया आई सबके सामने: सुशांत की मौत पर फूट-फूटकर रोई, कही ये बड़ी बात

Pakistan Foreign Minister Shah Mehmood Qureshi

ग्रे लिस्‍ट से हटाए जाने की कोशिश

शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि हम देश को ग्रे लिस्‍ट से हटाए जाने की कोशिश कर रहे हैं। इससे पहले पाकिस्तान ने यूनाइडेट नेशंस (सिक्यॉरिटी काउंसिल) बिल 2020 भी उच्च सदन में पास किया। इस बिल को लेकर कुरैशी ने कहा कि पाकिस्तान कुलभूषण जाधव केस में इंटरनेशल कोर्ट ऑफ जस्टिस (ICJ) के आदेश को लागू करने के लिए लाया है। कुरैशी ने बताया कि इससे जाधव को कोई छूट नहीं दी गई है।

यह भी पढ़ें: सुशांत पर बड़ी खबर: बिहार DGP के नेतृत्व में बैठक, सभी आला अधिकारी मौजूद

अगली बैठक में पाकिस्तान ब्लैक लिस्ट में डाला जाएगा!

बता दें कि पाकिस्तान लंबे समय से FATF की ग्रे लिस्ट में शामिल है और माना जा रहा है कि अगली बैठक में पाकिस्तान ब्लैक लिस्ट में डाल दिया जाएगा। इसी डर से पाकिस्तान ने कानून में बदलाव किया है। बता दें कि पाकिस्तान के आतंक रोधी कानून 1997 में UNSCRs 126 और 1373 को लागू करने के उचित प्रावधान नहीं थे। पाकिस्तान में मामूली जुर्माने का ही प्रावधान था। संपत्ति जब्त करने का प्रवाधन नहीं था।

यह भी पढ़ें: खतरे में यूपी: बढ़ा कोरोना का कहर, 4 हज़ार के पार हुई संकर्मितों की संख्या

FATF

आतंकवादियों के खिलाफ कार्रवाई करने का वैश्विक दबा

गौरतलब है कि पाकिस्तान पर लंबे वक्त से आतंकवादियों के खिलाफ कार्रवाई करने का वैश्विक दबाव है। माना जा रहा है कि वह FATF की ब्लैक लिस्ट में शामिल हो सकता है। कई बार तो उसके सदाबहार दोस्त चीन ने उसे बचा लिया है। बता दें कि FATF जून में फिर से पाक के प्रदर्शन पर विचार करने वाली थी, लेकिन कोरोना के चलते इसे स्थगित कर दिया गया।

यह भी पढ़ें: ऐसा होगा Unlock 3.0: सरकार ने जारी की गाइडलाइन, इसमें मिली छूट-यहां पाबंदी

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App