ट्रंप को देश से ज्यादा सत्ता का मोह! बोले- मेरे दुश्मन चाहते हैं कि देश बंद रहे ताकि मैं चुनाव हार जाऊं

कोरोना का कहर इस कदर फैल चुका है कि दुनिया के शक्तिशाली देश भी इसके सामने घुटने टेकने पर मजबूर हैं। दुनिया के तमाम देशों के पास कोरोना से बचने के लिए लॉकडाउन के आलावा और कोई उपाय नहीं बचा है। लेकिन अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को अभी भी देश की जनता से ज्यादा सत्ता का मोह है…

Published by Ashiki Patel Published: March 26, 2020 | 9:06 pm
Modified: March 26, 2020 | 9:09 pm

नई दिल्ली: कोरोना का कहर इस कदर फैल चुका है कि दुनिया के शक्तिशाली देश भी इसके सामने घुटने टेकने पर मजबूर हैं। दुनिया के तमाम देशों के पास कोरोना से बचने के लिए लॉकडाउन के आलावा और कोई उपाय नहीं बचा है। लेकिन अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को अभी भी देश की जनता से ज्यादा सत्ता का मोह है।

ये भी पढ़ें: Lucknow का सन्नाटा दे रहा Corona को मात, न लांगे मोदी की लक्ष्मण रेखा

फेक खबरें फैलाने कोशिश की जा रही है-

बता दें कि कोरोना वायरस को लेकर अमेरिका में चल रहे लॉकडाउन पर डोनाल्ड ट्रंप ने बड़ा बयान दिया है। बुधवार को डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि फेक खबरें फैलाकर कोशिश की जा रही है कि देश की इकोनॉमी को बंद रखा जाए ताकि वो दोबारा नहीं चुने जा सकें। मीडिया पर इल्जाम लगाते हुए व्हाइट हाउस में प्रेस ब्रीफिंग के दौरान ट्रंप ने कहा कि ऐसा लगता है कि मीडिया चाहती है कि मैं चुनावों में बुरा प्रदर्शन करूं।

एक रिपोर्ट के मुताबिक ट्रंप ने ऐसी सभी ख़बरों को फेक बताया है, जिसमें ट्रंप प्रशासन को कोरोना वायरस के संक्रमण को काबू में करने में नाकाम बताया गया था। कोरोना वायरस के संक्रमण से निपटने में अमेरिका में मास्क और वेंटिलेटर्स की कमी की ख़बरें अमेरिकी मीडिया में छाई हुई है। जिसे लेकर व्हाइट हाउस की लगातार आलोचना की जा रही है। जबकि ट्रंप इन सबको फेक न्यूज करार दे रहे हैं।

कोरोना वायरस के एक्सपर्ट से इतर ट्रंप ने बीते दिनों कहा था कि उन्हें लगता है कि अप्रैल के मध्य ईस्टर तक अमेरिकी इकोनॉमी को खोल देना चाहिए। अमेरिका इतने दिनों के लॉक डाउन के लिए तैयार नहीं है। वहीँ मेडिकल एक्सपर्ट का कहना है कि ऐसा करना घातक होगा और इससे संक्रमण और ज्यादा तेजी से फैलेगा।

मीडिया को कोसते नजर आये ट्रंप-

डोनाल्ड ट्रंप ने इस बात को लेकर मीडिया को कई बार कोसा। व्हाइट हाइस की प्रेस ब्रीफिंग के बाद ट्विटर पर भी ट्रंप मीडिया की शिकायत करते नजर आए। उन्होंने ट्विटर पर लिखा- ‘मैं पूरे दिन मीटिंग में लगा रहा। मेरे पास बेवकूफियों के लिए वक्त नहीं है। हम दिन रात अमेरिका की सुरक्षा में लगे हुए हैं।’

ये भी पढ़ें: अब दवायें भी घर तक: नहीं जाना पड़ेगा मेडिकल स्टोर, दरवाजे पर ही सभी सुविधाएं

प्रेस ब्रीफिंग के दौरान एक रिपोर्टर के सवाल करने पर ट्रंप ने कहा- ‘मेरा मानना है कि कुछ लोग ऐसे हैं, जो लॉकडाउन को जल्दी खत्म होते देखना नहीं चाहते हैं। उन लोगों को लगता है कि अच्छा होगा अगर मैं चुनाव हार जाऊं।’

अमेरिकी अर्थव्यवस्था पर निर्भर करता है ट्रंप का फिर से चुना जाना-

ट्रंप का सत्ता में दोबारा चुना जाना इस बात पर निर्भर करता है कि अमेरिकी अर्थव्यवस्था कितनी मजबूत रहती है। लेकिन पिछले दिनों कोरोना वायरस की वजह से शेयर बाजार लुढ़का है। बिजनेस ठप पड़ा है और लोग अपने घरों में रहने को मजबूर हैं। ट्रंप के राष्ट्रपति पद संभालने के बाद अमेरिकी अर्थव्यवस्था में जो तेजी आई थी, वो अब कोरोना की वजह से कम हो चुकी है। वहीँ कुछ एक्सपर्ट का कहना है कि कोरोना वायरस की वजह से हुए लॉक डाउन से 20 से 30 फीसदी अमेरिकियों को अपनी नौकरी गंवानी पड़ सकती है।

ये भी पढ़ें: Corona से यहां 35 साल के युवक ने दम तोड़ा, देश में सबसे कम उम्र में मौत का मामला