×

नेपाली सांसद को देश छोड़ने की धमकी, भारत का समर्थन करने पर हुआ ऐसा

पाल में दो दिन पहले संसद में नए नक्शे को मान्यता देने के लिए संविधान संशोधन विधेयक पास किया गया है। वहीं इस दौरान सांसद सरिता गिरी ने संविधान संशोधन का विरोध किया था। जो अब परेशानियों में फंस गई हैं।

Shreya
Published on: 11 Jun 2020 9:56 AM GMT
नेपाली सांसद को देश छोड़ने की धमकी, भारत का समर्थन करने पर हुआ ऐसा
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

काठमांडू: नेपाल में दो दिन पहले संसद में नए नक्शे को मान्यता देने के लिए संविधान संशोधन विधेयक पास किया गया है। वहीं इस दौरान सांसद सरिता गिरी ने संविधान संशोधन का विरोध किया था। जो अब परेशानियों में फंस गई हैं। दरअसल, सरिता गिरी के घर पर कुछ अज्ञात लोगों ने हमला किया है। साथ ही उन्हें देश छोड़ने तक की धमकी दी है।

पुलिस भी मदद के लिए नहीं पहुंची

यहीं नहीं रिपोर्ट्स के मुताबिक विरोधियों ने उनके घर के बाहर काले झंडे भी लगा दिए हैं। उन्होंने इस मामले में पुलिस को भी सूचना दी, लेकिन उनकी मदद के लिए कोई नहीं पहुंचा। उनकी पार्टी ने भी उनसे दूरी बना ली है। इस हमले के बारे में उन्होंने ट्वीट कर जानकारी दी है। तो चलिए आपको बताते हैं कि आखिर कौन हैं सरिता गिरी और उनका विरोध क्यों किया जा रहा है?

यह भी पढ़ें: घिनौनी हरकत: आदिवासी महिलाओं के साथ ऐसा काम, बंधक बना कर की हिंसा

नेपाल की सोशलिस्ट पार्टी से सांसद हैं सरिता

सरिता गिरी नेपाल की सोशलिस्ट पार्टी से सांसद हैं और संविधान संशोधन विधेयक का विरोध करने वाले पहली सांसद हैं। सरिता गिरी ने मधेशी समुदाय के हितों की लड़ाई के लिए साल 2007 में राजनीति में कदम रखा। उन्हें राजनीति की अच्छी समझ भी है।

दरअसल, सरिता गिरि पर हमेशा नेपाल से ज्यादा भारतीय हितों के बारे में सोचने का आरोप लगाया जाता रहा है। सरिता गिरी अब तक एक भारत नागरिक है। जिन्होंने एक नेपाली नागरिक से शादी की है।

यह भी पढ़ें: गरीबों के राशन पर डाला जा रहा डाका, दाने-दाने को मोहताज हो रहे गरीब परिवार

कालापानी क्षेत्र को शामिल करने पर सरकार का किया विरोध

स्थानीय मीडिया के मुताबिक, उन्होंने नेपाल के नए नक्शे में कालापानी क्षेत्र को शामिल करने को लेकर नेपाल सरकार का विरोध किया था। सरिता गिरी के इस फैसले ने तमाम राजनीतिक दलों के सांसद को आश्चर्य में डाल दिया। इसके अलावा उन्होंने अपना अलग से संशोधन प्रस्ताव डालते हुए इसे खारिज करने की मांग की थी। सरिता गिरि ने ये तक साफ कहा था कि नेपाल चीन के इशारे पर नक्शे में बदलाव करना चाहता है।

यह भी पढ़ें: हैवानियत की हदें पार: महिला की पीट-पीटकर हत्या, सामने आई पुलिस की लापरवाही

खुद की पार्टी ने भी उनसे बना ली दूरी

सरिता गिरी द्वारा संविधान संशोधन विधेयक का विरोध करने को लेकर उनके घर पर हमला हुआ है। यहां तक कि उन्हें देश छोड़ने की भी धमकी मिली है। उनके घर के बाहर विरोधियों ने काले झंडे भी लगा दिए हैं। इस घटना की जानकारी पुलिस को देने के बाद भी कोई मदद के लिए नहीं पहुंचा। यहां तक कि खुद की पार्टी ने भी उनसे दूरी बना ली है।

पार्टी ने दी निलंबित करने की चेतावनी

जब जनता समाजवादी पार्टी की सांसद सरिता गिरि ने नेपाल सरकार के इस फैसले को खारिज करने की मांग की तो उनकी पार्टी ने उन्हें संशोधन प्रस्ताव वापस लेने की बात कही। पार्टी ने उन्हें प्रस्ताव वापस नहीं लेने पर पार्टी से निलंबित करने तक की चेतावनी दी है।

यह भी पढ़ें: कमाल है: इधर डॉक्टर कर रहे दिमाग की सर्जरी, मरीज महिला ने बना डाले 90 पकौड़े

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story