कोरोना: पाक का फर्जीवाड़ा, न्यूज चैनल ने चला दी इस PM की मौत की खबर, हुआ ट्रोल

कोरोना वायरस को लेकर पूरी दुनिया में फर्जी खबरों की मानों बाढ़ आ गई है। लेकिन इस बीच पाकिस्तान के एक न्यूज चैनल ऐसी फर्जी खबर चलाई जिसके बाद उसे लोगों सोशल मीडिया पर जमकर ट्रोल कर दिया।

नई दिल्ली: कोरोना वायरस को लेकर पूरी दुनिया में फर्जी खबरों की मानों आ बाढ़ गई है। लेकिन इस बीच पाकिस्तान के एक न्यूज चैनल ऐसी फर्जी खबर चलाई जिसके बाद उसे लोगों सोशल मीडिया पर जमकर ट्रोल कर दिया।

कोरोना वायरस से संक्रमित ब्रिटिश पीएम बोरिस जॉनसन के आईसीयू में भर्ती हैं। पूरी दुनिया उनके जल्द स्वस्थ होने की कामना कर रही है। लेकिन पाकिस्तानी मीडिया ने बेशर्मी की सारी हदें पार कर दीं और उनके मौत की खबर चला दी। इस नापाक हरकत की काफी आलोचना हो रही है। तो वहीं डाउनिंग स्ट्रीट ने बताया कि जॉनसन की तबीयत में सुधार हो रहा है।

यह भी पढ़ें…नोएडा की झुग्गी में मिले 200 लोग कोरोना संदिग्ध, सभी को किया गया क्वारंटाइन

पाक के जाने माने न्यूज चैनल डॉन ने ब्रिटेन के एक न्यूज चैनल के फर्जी अकाउंट के हवाले से यह खबर चलाई जिसके बाद उसे काफी ट्रोल भी किया जा रहा है। सबसे ज्यादा बड़ी बात यह है इतने बड़े न्यूज चैनल ने खबर को प्रसारित करने से पहले फैक्ट तक चेक नहीं किया, क्योंकि जिस अकाउंट के हवाले से खबर चलाई गई उसे महज 100 लोग ही फॉलो करते हैं। इस हरकत पर लोगों ने डॉन न्यूज को ट्रोल करना शुरू कर दिया।

यह भी पढ़ें…पुलिसकर्मियों को CM योगी ने दी बड़ी सौगात, मिलेगा 50 लाख रुपए का इंश्योरेंस

गौरतलब है कि बोरिस जॉनसन को नियमित चेकअप के लिए अस्पताल ले जाया गया था, लेकिन उनकी तबीयत बिगड़ने पर सोमवार रात अस्पताल ने उन्हें आईसीयू में भर्ती करने का फैसला किया। बोरिस की जगह विदेश मंत्री डॉमिनिक राब ने कार्यभार संभाल लिया है और उन्हें भारतवंशी वित्त मंत्री रिषि सुनक और गृह मंत्री प्रीति पटेल का सहयोग मिल रहा है।

यह भी पढ़ें…कोरोना संकट में भी सियासी तंज के तीर, आखिर क्या है सोनिया की चिट्ठी का मतलब

ब्रिटिश मीडिया का जवाब

ब्रिटिश न्यूज ने इस दावे के बीच खबर दी है कि बोरिस जॉनसन की सेहत में सुधार हो रहा है और उन्हें वेंटिलेटर की भी जरूरत नहीं है। वेंटिलेटर किसी मरीज को तब दिया जाता है जब वह खुद से सांस न ले पाए। उधर, डाउनिंग स्ट्रीट ने बयान जारी कर बताया कि बोरिस जॉनसन की सेहत में सुधार हो रहा है और उन्हें वेंटिलेटर की भी जरूरत नहीं है।