बेचारा पाकिस्तान! भारत के सामने गिड़गिड़ाया, मांग रहा ये मदद

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर किए गए आतंकी हमले के बाद से ही भारत और पाकिस्तान दोनों देशों के बीच व्यापारिक संबंध काफी तनावपूर्ण हैं।

Published by Shreya Published: February 19, 2020 | 11:40 am
Modified: February 19, 2020 | 1:50 pm
बेचारा पाकिस्तान! भारत के सामने गिड़गिड़ाया, मांग रहा ये मदद

बेचारा पाकिस्तान! भारत के सामने गिड़गिड़ाया, मांग रहा ये मदद

नई दिल्ली: पाकिस्तान द्वारा पिछले साल फरवरी महीने में जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर किए गए आतंकी हमले के बाद से ही भारत और पाकिस्तान दोनों देशों के बीच व्यापारिक संबंध काफी तनावपूर्ण हैं। उसके बाद केंद्र सरकार द्वारा जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 खत्म किए जाने के बाद से दोनों देशों में किसी तरह के व्यापारिक संबंध बंद किए जा चुके हैं। लेकिन अब पाकिस्तान ने एक बार फिर से भारत के सामने मदद के लिए हाथ फैलाया है। पाकिस्तान पर आए आफत के बाद से पड़ोसी देश को भारत के सामने व्यापारिक मदद के लिए हाथ फैलाना पड़ रहा है।

यह भी पढ़ें: खत्म होगा शाहीन बाग प्रदर्शन! बातचीत के बाद आज होगा फैसला

देश में लगाई गई National Emergency

दरअसल, इस समय पाकिस्तान पर टिड्डियों के दल ने हमला बोला हुआ है और इससे निपटना पाकिस्तान के लिए कड़ी चुनौती बनी हुई हैं। टिड्डियों की वजह से पाकिस्तान की हालत इतनी खराब हो चुकी है, जिसके चलते पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने देश में नेशनल इमरजेंसी National Emergency तक घोषित कर दिया है।

पाकिस्तान पर खतरनाक हमला: इमरान खान ने लगाई इमरजेंसी!

पाकिस्तान की हो चुकी है 75 प्रतिशत फसल बर्बाद

टिड्डियों की वजह से पंजाब क्षेत्र की लगभग 75 प्रतिशत फसल बर्बाद कर दी, जिससे पाकिस्तान की सरकार को कुल 70 मिलियन डॉलर से अधिक नुकसान हुआ है। टिड्डियों के हमले की वजह से पाकिस्तान में खाने की कमी होने के भी आसार लगाए जा रहे हैं। इस स्थिति के मद्देनजर पाकिस्तान की इमरान सरकार ने देश में राष्ट्रीय आपातकाल यानि National Emergency लागू कर दी है।

यह भी पढ़ें: गरीब पाकिस्तान का मिसाइल परीक्षण: खाने को पैसे नहीं, कर रहा ये काम…

कीड़े-मकोड़े से निपटने के लिए किए जा रहे कई उपाय

फिलहाल इन सभी कीड़े-मकोड़े से निजात पाने के लिए भारी मात्र में दवा का छिड़कावा करवाया गया है। लेकिन इन कीड़े-मकोड़ों की संख्या अरबों में बताई जा रही है, जिसके कारण दवा ज्यादा काम नहीं कर पा रही है। कहा ये भी जा रहा है कि अगर पाकिस्तान की सरकार जल्द से जल्द कीड़े-मकोड़ों को खत्म करने के लिए कोई कदम नहीं उठाया तो टिड्डे पूरे देश की फसल को खा कर बर्बाद कर सकते हैं।

कीटनाशक आयात करने पर पाकिस्तान कर रहा विचार

अब इन टिड्डियों से निपटने के लिए पाकिस्तान सरकार एक बार भारत से कीटनाशक आयात करने की बात पर विचार कर रही है। पाकिस्तान के प्रतिष्ठित अखबार द डॉन की एक रिपोर्ट में इसकी जानकारी दी गई है। अखबार के इस रिपोर्ट के मुताबिक, मंगलवार को पाकिस्तान के केंद्रीय कैबिनेट बैठक में भारत से कीटनाशक आयात करने के फैसले पर अंतिम फैसला लिया जा सकता है।

यह भी पढ़ें: सुनील कुमार ने कुश्ती में रचा इतिहास, 27 साल बाद हासिल की एकतरफा जीत

एक दशक का सबसे बड़ा प्रकोप

मौजूदा समय में पाकिस्तान पर पिछले एक दशक में टिड्डियों का अब तक का सबसे बड़ा प्रकोप छाया हुआ है। जिसकी वजह से पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में काफी बड़े स्तर पर फसलें बर्बाद हो चुकी हैं और ये सिलसिला अभी भी जारी है। इसी महीने हुए एक बैठक में पाक पीएम इमरान खान ने नेशनल इमरजेंसी घोषित किया था। इस बैठक में पाकिस्तान ने करीब 7.3 अरब रुपये का आवंटन भी किया था, ताकि टिड्डियों के इस अटैक से निपटा जा सके।

अनिश्चित काल तक नहीं होगा कोई ट्रेड

इसके साथ ही इस बैठक में पाकिस्तान ने अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (International Monetary Fund- IMF) से 450 मिलियन डॉलर प्राप्त करने पर भी विचार किया गया। बता दें कि पिछले साल 10 अगस्त के बाद से भारत और पाकिस्तान दोनों देशों के बीच कोई भी व्यापार नहीं हुआ है। हालांकि ऐसी भी खबरें हैं कि भारत से कीटनाशक आयात करने का फैसला केवल एक ही बार के लिए लिया जा सकता है। दोनों देशों के बीच अनिश्चित काल तक कोई ट्रेड नहीं होगा।

यह भी पढ़ें: 1 रुपये सस्ता हुआ पेट्रोल-डीजल, जानें कितना है मौजूदा रेट…