×

पाकिस्तान ने हाथी का किया बुरा हाल, 35 सालों तक रखा कैद

हाथी कावन को पाकिस्तान के एक चिड़ियाघर में छोटी सी जगह पर बदतर हालात में 35 सालों तक अकेले बंद करके रखा गया था। लेकिन अब आखिरकार इस हाथी को पाक के चिड़ियाघर से आजादी मिलने जा रही है।

Shreya
Updated on: 6 Sep 2020 12:14 PM GMT
पाकिस्तान ने हाथी का किया बुरा हाल, 35 सालों तक रखा कैद
X
पाकिस्तान ने हाथी कावन को 35 सालों तक रखा कैद
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

इस्लामाबाद: पाकिस्तान अपने मुल्क के लोगों के साथ तो बुरी तरह से पेश आता ही है, साथ ही वो अपने यहां के जानवरों के साथ भी बुरा बर्ताव करने से बाज नहीं आता। ऐसा ही कुछ हुआ हाथी कावन के साथ, जिसे पाकिस्तान के एक चिड़ियाघर में छोटी सी जगह पर बदतर हालात में 35 सालों तक अकेले बंद करके रखा गया था। लेकिन अब आखिरकार इस हाथी को पाक के चिड़ियाघर से आजादी मिलने जा रही है। इसके लिए एक्टिविस्ट ने लंबी कोशिश की है। बता दें कि पाकिस्तान के इस बर्ताव के चलते इस हाथ को दुनिया का सबसे अकेला हाथी भी कहा जा रहा है।

यह भी पढ़ें: तेज धमाकों से हिल उठा कश्मीर, पुलिस अधिकारी के घर को बनाया गया निशाना

35 सालों से चिड़ियाघर में अकेले था बंद

कावन नाम का यह हाथ बुरे हालात में 35 सालों से पाकिस्तान के चिड़ियाघर में अकेले ही बंद था। इस हाथी को बेहतर स्थिति में रखने के लिए जानवरों के अधिकारों के लिए काम करने वाले एक्टिविस्ट की ओर से काफी लंबे समय से मांग की जा रही थी। फिलहाल अब इस हाथी को ट्रैवल के लिए मेडिकल अप्रूवल मिल गया है। अब जल्द ही इसे आजादी मिलने जा रही है। इस बारे में जानवरों के मुद्दे पर काम करने वाली संस्था Four Paws ने जानकारी दी।

यह भी पढ़ें: बड़ी खबर: कुपोषण के लिए उठाए गए कदम, लगाएं जाएंगे पोषण वाटिका

Kaavan Elephant

कावन को ले जाया जाएगा कंबोडिया

बताया जा रहा है कि कावन को अब कंबोडिया ले जाया जाएगा जहां वह अन्य हाथी के साथ बेहतर स्थिति में रहेगा। इससे पहले पाकिस्तान के चिड़ियाघर में हाथी की स्वास्थ्य जांच की गई थी। कावन की मदद के लिए दुनियाभर के एनिमल एक्टिविस्ट सामने आए थे। बता दें कि मई में हाईकोर्ट की तरफ से Marghazar चिड़ियाघर को बंद करने के आदेश दिए गए थे।

यह भी पढ़ें: IPS से कांपे आतंकी: शर्मीली लड़की आज ऐसे बनी योद्धा, मिली ये कमान

Elephant Kaavan

पाकिस्तान में हाथी को नहीं मिला पर्याप्त खाना

इसके बाद इस्लामाबाद वाइल्डलाइफ मैनेजमेंट बोर्ड ने Four Paws संस्था को जू से जानवरों को अन्य जगहों पर ले जाने के लिए आमंत्रित किया था। एक्सपर्ट्स की मानें तो अभी कावन हाथी को पूरी तरह से रिकवर होने में समय लगेगा। क्योंकि ऐसा लगता है कि जैसे ये हाथी शारीरिक के साथ-साथ मानसिक परेशानियों का भी सामना कर रहा है। पाकिस्तान में उसे पर्याप्त खाना भी नहीं मिल पा रहा था।

यह भी पढ़ें: BJP MLA की चेतावनी: सुरेंद्र सिंह ने प्रशासन पर उठाए सवाल, करेंगे आमरण अनशन

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story