सावधान: चीन में ठीक हुए लोगों को फिर से हो गया कोरोना, डॉक्टर्स भी हुए हैरान

कोरोना वायरस की शुरुआत चीन के वुहान शहर से हुई थी। देखते ही देखते इस वायरस ने पूरी दुनिया में अपना पैर पसार लिया। इस वायरस के संक्रमण का केंद्र रहे वुहान शहर के डॉक्टर्स ने अब नई चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि ठीक हुए मरीजों में से करीब 10% फिर से संक्रमित हो गए हैं, ये कैसे हुए इसका पता नहीं लग पा रहा है…

बीजिंग: कोरोना वायरस की शुरुआत चीन के वुहान शहर से हुई थी। देखते ही देखते इस वायरस ने पूरी दुनिया में अपना पैर पसार लिया। लेकिन चीन से अब खबरें आ रही थी कि चीन ने कोरोना संक्रमण के मामलों पर काफी हद तक काबू पा लिया है। इस समय चीन में प्रतिदिन अब भी कोरोना के 40 नए मरीज सामने आ रहे हैं जबकि 5000 से ज्यादा लोगों का अस्पतालों में इलाज जारी है। कोरोना वायरस संक्रमण का केंद्र रहे वुहान शहर के डॉक्टर्स ने एक नई चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि ठीक हुए मरीजों में से करीब 10% को फिर से संक्रमण हो गया है, ये कैसे हुए इसका पता नहीं लग पा रहा है।

ये भी पढ़ें: ट्रंप को देश से ज्यादा सत्ता का मोह! बोले- मेरे दुश्मन चाहते हैं कि देश बंद रहे ताकि मैं चुनाव हार जाऊं

…नहीं पता कैसे हुआ

खबर के मुताबिक वुहान के वैज्ञानिकों और डॉक्टर्स ने बताया है कि अभी पता लगाया जा रहा है कि ठीक हो जाने के बाद आखिर इन लोगों को फिर से संक्रमण कैसे हो गया। डॉक्टर समझ नहीं पा रहे हैं कि ठीक हो चुके लोगों के शरीर में तो कोरोना के खिलाफ एंटीबॉडीज विकसित हो जाने चाहिए, ऐसे में इम्यून हो गए लोगों का फिर से संक्रमित होना काफी परेशान करने वाला विषय है।

ये भी पढ़ें: बड़ा कदम: यहां बनेंगे 1000 बेड वाले 2 बड़े कोरोना अस्‍पताल, 15 दिन में बनकर होगा तैयार

संक्रमित व्यक्तियों के परिवारों और दोस्तों से बातचीत की जा रही है

चीन के सरकारी मीडिया से बात करते हुए वुहान के तोंगजी हॉस्पिटल के डॉक्टर्स ने बताया कि यही वो अस्पताल है जहां कोरोना वायरस का पहला मामला सामने आया था। लेकिन अब इसी अस्पताल में कई ऐसे केस सामने आए हैं जहां संक्रमण ठीक होने के कुछ ही दिन बाद व्यक्ति फिर से संक्रमित पाया गया। डॉक्टर्स के अनुसार अभी नए संक्रमण के कारणों का पता लगाया जा रहा है और संक्रमित लोगों के परिवारों और दोस्तों के बारे में भी पता लगाया जा रहा है। डॉक्टर्स ने बताया कि सिर्फ यहां ही नहीं देश भर में लगातार ऐसे केस सामने आ रहे हैं जिनमें लोग फिर से संक्रमित हो गए हैं लेकिन ये कैसे हुए इसका पता नहीं लग पा रहा है।

अब टेस्ट पर भी उठ रहे सवाल

जानकारों ने इन ख़बरों के बाद कोरोना के लिए किए जा रहे टेस्ट पर भी सवाल खड़े कर दिए हैं। सवाल उठ रहा है कि कहीं कुछ लोगों के शरीर में मौजूद कोरोना न्यूक्लिक एसिड टेस्ट को मात देने में तो सक्षम नहीं है? एक शो के दौरान पांच ऐसे लोग भी मौजूद थे जिन्हें ठीक होने के बाद फिर से कोरोना संक्रमण हो गया था। जबकि इन्होंने दावा किया कि ठीक होने के बाद वे किसी भी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में नहीं आए। फिलहाल ऐसे मामलों में वुहान के अस्पताल के अलावा चीन के कई अन्य अस्पतालों में जांच की जा रही है।

ये भी पढ़ें: कोरोना से जंग: मोदी सरकार की बड़ी तैयारी, कैबिनेट मंत्रियों को दी ये जिम्मेदारी