कांप उठा चीन: भारत के साथ आया ये देश, इस मामले में दिया साथ

भारत और चीन के बीच जारी सीमा विवाद के बीच रूस ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) में स्थायी सदस्यता के लिए भारत का जोरदार तरीके से समर्थन किया है।

नई दिल्ली: भारत और चीन के बीच सीमा पर जारी विवाद के बीच रूस का बड़ा बयान सामने आया है। रूस क विदेश मंत्री सर्गेई लवारोव ने कहा है कि मुझे नहीं लगता कि भारत और चीन को किसी तीसरे पक्ष की मदद चाहिए। मुझे नहीं लगता कि उन्हें मदद लेने की आवश्यकता है। वो खुद ही इस मसले को सुलझा लेंगे। इसके साथ ही रूस ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) में स्थायी सदस्यता के लिए भारत का जोरदार तरीके से समर्थन किया है।

यह भी पढ़ें: मुसीबत आ रही: यहां भीषण बाढ़ का खतरा, नेपाल की जिद के कारण होगा ऐसा

स्थायी सदस्यता के लिए भारत का समर्थन

रूस ने एक बार फिर स्थायी सदस्यता के लिए भारत का समर्थन किया है। बता दें कि रूस पहले भी UNSC स्थायी सदस्यता के लिए भारत का समर्थन कर चुका है। रूस के विदेश मंत्री का बयान ऐसे समय में सामने आया है जब भारत और चीन के बीच लद्दाख में LAC पर तनाव अपने चरम पर है और स्थिति को सामान्य करने के लिए लगातार दोनों पक्षों के बीच बातचीत जारी है।

रूस ने भारत को बताया मजबूत उम्मीदवार

सर्गेई लावरोव ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) में भारत को स्थायी सदस्य बनने के लिए एक मजबूत उम्मीदवार बताया है। उन्होंने कहा कि हमारा मानना है कि भारत UNSC में एक पूर्ण सदस्य बन सकता है। हम भारत की उम्मीदवारी का समर्थन करते हैं।

यह भी पढ़ें: बारिश का अलर्ट: यूपी समेत इन राज्यों में बदलेगा मौसम, IMD ने दी चेतावनी

चीन खुद ही सुलझा सकता है सीमा विवाद

साथ ही उन्होंने भारत और चीन के बीच सीमा पर बने तनाव को लेकर यह भी कहा कि मुझे नहीं लगता कि उन्हें बाहर से मदद चाहिए। उनकी सहायता करने की आवश्यकता नहीं है, खासकर तब जब मामला देश के मसले से जुड़ा हो। वो खुद ही इस मामले को हल कर सकते हैं।

ऑस्ट्रेलिया भी कर चुका है भारत की दावेदारी का समर्थन

बता दें कि ऑस्ट्रेलिया पहले ही UNSC में स्थायी सदस्यता के लिए भारत का समर्थन कर चुका है। उसने पिछले हफ्ते भारत की स्थायी सदस्यता की दावेदारी का समर्थन किया था।

यह भी पढ़ें: ‘लखनऊ विश्वविद्यालय’ के छात्र फ़ीस माफ़ी और परीक्षा प्रोन्नत की मांग पर अड़े, पुलिस ने किया गिरफ्तार

8वीं बार अस्थायी सदस्य के तौर पर चुना गया था भारत

फिलहाल भारत अभी संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) में अस्थायी सदस्य है। भारत पिछले हफ्ते ही यूएनएससी में 8वीं बार अस्थायी सदस्य के तौर पर चुना गया था। भारत सबसे पहली बार 1950 में गैर-स्थायी सदस्य के रूप में चुना गया था। इस साल वो आठवीं बार अस्थायी सदस्य के तौर पर चुना गया। भारत के पक्ष में 192 वोटों में से 184 वोट पड़े।

कब-कब UNSC में अस्थायी सदस्य बना भारत

भारत को 1950-1951, 1967-1968, 1972-1973, 1977-1978, 1984-1985, 1991-1992 और हाल ही में 2011-2012 में सुरक्षा परिषद के गैर-स्थायी सदस्य के रूप में चुना जा चुका है। इस बार फिर भारत अपनी मौजूदगी से वसुधैव कुटूंबकम की भावना को चरित्रार्थ करेगा।

यह भी पढ़ें: परमाणु विस्फोट से डरे लोग, सामने आई हाइकत तो दंग रह गए

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App