सऊदी के प्रिंस ने कराया दुनिया के सबसे अमीर शख्स का तलाक! हुए ये बड़े खुलासे

सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस सलमान पर सनसीखेज आरोप लग रहे हैं। उनके कई तरह के आरोप लग चुके हैं, लेकिन अब जो आरोप उन पर लग रहे हैं उससे पूरी दुनिया हैरान है। क्राउन प्रिंस सलमान पर पहले दुनिया के सबसे धनी व्यक्ति अमेजन के सीईओ जेफ बेजोस का फोन हैक करवाने का आरोप लगा।

नई दिल्ली: सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस सलमान पर सनसीखेज आरोप लग रहे हैं। उनके कई तरह के आरोप लग चुके हैं, लेकिन अब जो आरोप उन पर लग रहे हैं उससे पूरी दुनिया हैरान है। क्राउन प्रिंस सलमान पर पहले दुनिया के सबसे धनी व्यक्ति अमेजन के सीईओ जेफ बेजोस का फोन हैक करवाने का आरोप लगा। इसके बाद अब उनके तलाक के पीछे भी सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस के होने की बात सामने आई है। बता दें जेफ बेजोस का दुनिया का सबसे महंगा 2.75 लाख करोड़ का तलाक हुआ था।

अमेजन के सीईओ जेफ बेजोस के फोन हैक के खुलासे के बाद अब सनसनीखेज जानकारियां सामने आ रही हैं। इसके बाद अब जेफ बेजोस की उनकी पत्नी सेतलाक के पीछे भी सऊदी क्राउन प्रिंस का ही हाथ होने का एक अखबार ने दावा किया है। अमेजन के मालिक जेफ बेजोस के मालिक का फोन हैक करने के पीछे सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस बिन सलमान थे।

इस बीच जेफ बेजोस ने अक्टूबर 2019 की एक फोटो ट्वीट की है। इसमें वे सऊदी पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या की बरसी पर हुई एक श्रद्धांजलि सभा में शामिल होते दिखाई दे रहे हैं। जेफ बेजोस की फोन हैकिंग में सऊदी प्रिंस का हाथ होने की खबरों के बीच यह उनकी पहली प्रतिक्रिया है। बेजोस ने ट्वीट कर कहा है कि खशोगी की हत्या में सऊदी प्रिंस का हाथ था।

यह भी पढ़ें..PM मोदी ने ‘वीर बच्चों’ से स्मृति ईरानी को लेकर किया ये सवाल, लगने लगे ठहाके

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक हैकिंग के बाद जेफ बेजोस की कुछ निजी जानकारी एक अमेरिकी टैबलॉयड अखबार को भेजी गईं। इस अखबार ने जेफ बेजोस और उनकी गर्लफ्रेंड लॉरेंस सांचेज के प्राइवेट मेसेज लीक किए। इससे एक महीने पहले ही जेफ और उनकी पत्नी मैकेंजी बेजोस ने ऐलान किया था कि वे अपने 25 साल के रिश्ते को तोड़ रहे हैं।

जेफ बेजोस ने अपनी पत्नी से दुनिया का सबसे महंगा तलाक लिया। ये तलाक 2.75 लाख करोड़ में हुआ। विशेषज्ञ तलाक और प्राइवेट मेसेज लीक होने के मामलों में समानता देख रहे हैं। कहा जा रहा है बेजोस के सांचेज के साथ अंतरंग मेसेज उनकी पत्नी को भी भेजे गए हों, जो तलाक का मुख्य आधार बना हो।

यह भी पढ़ें…महाराष्ट्र में घमासान! अब फोन टैपिंग में सरकार परेशान, जानें क्या है मामला

बता दें कि लास एंजेलिस में प्रिंस सलमान और जेफ बेजोस के बीच 4 अप्रैल 2018 को मुलाकात हुई थी। दोनों ने एक-दूसरे का मोबाइल नंबर शेयर किया। इसके बाद जेफ बेजोस को क्राउन प्रिंस का वॉट्सऐप मेसेज मिला, जिसमें एक वीडियो लिंक था। माना जा रहा है कि उस वीडियो लिंक में एक मालवेयर था जिससे जेफ बेजोस का फोन हैक हो गया। इसके बाद से कई बड़ी घटनाएं हुईं।

पांच महीने बाद 2 अक्टूबर 2018 को सऊदी पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या हुई। खशोगी बेजोस के अखबार वॉशिंगटन पोस्ट से जुड़े थे। नवंबर 2018 में प्रिंस ने बेजोस को वॉट्सऐप मैसेज किया था, जिसमें मीम्स से संकेत देने की कोशिश की थी कि सबकुछ उनका ही किया धरा है।

यह भी पढ़ें…EC का सुप्रीम कोर्ट को सुझाव, कहा- अपराधियों को न मिले टिकट

इस है हैकिंग का शक

जेफ बेजोस के फोन में हैकिंग का पता लगाने वाली एफटीआई कंसल्टिंग की रिपोर्ट में अंदेशा जताया गया है कि ऐसी हैकिंग दो ही समूह कर सकते हैं। इनमें से एक इटली के मिलान से जुड़ा हैकिंग ग्रुप है, जिसमें प्रिंस सलमान के करीबी की 20% हिस्सेदारी है। एफटीआई ने स्क्रीनशॉट भी जारी किया है।