अभी-अभी इस देश में हुआ भीषण विस्फोट, सात लोग खून से हो गये लथपथ

सितंबर में कतर में अफगानिस्तान-तालिबान के बीच बातचीत शुरू हुई थी। इसके बावजूद अफगानिस्तान में हिंसक झड़पें और बम विस्फोट हो रहे हैं। दोनों पक्षों की तरफ से लंबे समय तक चलने वाले संघर्ष विराम की इच्छा जताई गई थी।

Published by Aditya Mishra Published: November 7, 2020 | 2:14 pm
Modified: November 7, 2020 | 3:12 pm
blast

ब्लास्ट()फोटो: सोशल मीडिया)

नई दिल्ली: अफगानिस्तान के जाबुल में शनिवार को हुए एक विस्फोट में सात लोग घायल हो गए हैं, इसमें पांच आम नागरिक भी शामिल हैं। बीते दिनों भी अफगानिस्तान में ऐसा ही एक मामला सामने आया था।

काबुल के फुल-ई-खोस्क क्षेत्र में भीषण धमाका हुआ था। इस धमाके में 18 लोगों की मौत हो गई थी। अफगानिस्तान की मीडिया ने गृह मंत्रालय के हवाले से बताया था कि इस विस्फोट में 30 ज्यादा लोगों की जान गई थी।

गृह मंत्रालय की तरफ से बताया गया था कि आत्मघाती हमलावर को एक ट्रेनिंग सेंटर के गार्ड्स ने पहचान लिया था, लेकिन वेस्ट काबुल में लक्ष्य तक पहुंचने से पहले ही उसने विस्फोट से उड़ा लिया।

इससे पहले शनिवार को अफगानिस्तान के गजनी प्रांत में दो विस्फोट हुए थे जिसमें 9 लोगों की मौत हो गई थी। दो पुलिसकर्मी बुरी तरह घायल हो गए थे।

Blast
ब्लास्ट की फोटो(सोशल मीडिया)

ये भी पढ़ें…सुप्रीम कोर्ट से आजम खान के बेटे को मिली राहत, हाईकोर्ट के आदेश पर रोक

दो जबरदस्त विस्फोट

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक गजनी के रावजई शहर में सवारियों से भरी एक वैन के सड़क किनारे एक बारूदी सुरंग से टकरा गई। इसके बाद जबरदस्त विस्फोट हुआ था। इसके बाद पुलिस अधिकारियों के घटनास्थल पर पहुंचने के समय वहां एक और विस्फोट हो गया था।

गौरतलब है कि सितंबर में कतर में अफगानिस्तान-तालिबान के बीच बातचीत शुरू हुई थी। इसके बावजूद अफगानिस्तान में हिंसक झड़पें और बम विस्फोट हो रहे हैं। दोनों पक्षों की तरफ से लंबे समय तक चलने वाले संघर्ष विराम की इच्छा जताई गई थी।

ये भी पढ़ें…भड़की भयानक हिंसा: 18 सुरक्षाकर्मियों समेत 69 लोगों की मौत, सेना की गई तैनात

Dead Body
लाश की फोटो(सोशल मीडिया)

33 आतंकियों को मार गिराया

अफगानिस्तान के पूर्वी प्रांत नांगरहार में सुरक्षा अभियान के दौरान कम से कम 33 तालिबानी आतंकवादी मार गिराए गये हैं  जबकि पांच से अधिक घायल हुए हैं।

अफगानिस्तान सेना ने शनिवार को यह जानकारी दी। सेना की 201वीं सेलेब कोर के चार इन्फेंट्री ब्रिगेड ने बताया कि तालिबान आतंकवादियों ने शेरजाद जिले के हशीम खेल इलाके में सेना की चौकी पर हमला कर दिया था। इसके बाद सुरक्षा बलों जवाबी कार्रवाई शुरू की।

ये भी पढ़ें…बिहार में मतदान से पहले तड़तड़ाईं गोलियां, प्रत्याशी की हत्या, मारा गया एक हमलावर

दोस्तो देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App