×

भारत हुआ मजबूत: अमेरिका देगा ऐसे खतरनाक हथियार, चीन-पाकिस्तान होंगे बर्बाद

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की सरकार भारत और चीन के सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प को ध्यान में रखते हुए भारत में हथियारों की बिक्री बढ़ाने की योजना बना रही है।

Shreya
Updated on: 5 Aug 2020 8:32 AM GMT
भारत हुआ मजबूत: अमेरिका देगा ऐसे खतरनाक हथियार, चीन-पाकिस्तान होंगे बर्बाद
X
India-US
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

नई दिल्ली: अमेरिका बीते कई सालों से भारत का भरोसेमंद दोस्त है। वहीं यूएस और भारत ने तमाम मोर्चे पर एक-दूसरे का साथ देकर अपनी इस दोस्ती को सिद्ध किया है। अब इस खबर है कि अमेरिका, भारत में हथियारों की बिक्री बढ़ाने की योजना बना रहा है। कहा जा रहा है कि इन हथियारों में सशस्त्र ड्रोन भी शामिल हैं, जो कि एक हजार पौंड से अधिक बम और मिसाइल ले जाने में सक्षम हैं। वहीं US के इस कदम से वॉशिंगटन और बीजिंग के बीच तकरार बढ़ने की संभावना है।

यह भी पढ़ें: इंदिरा गांधी का हिंदुत्व: हर दौरे पर जाती थीं धार्मिक स्थानों पर, ऐसी थी आस्था

भारत और चीन के बीच हिंसक झड़प

भारत और चीन के बीच जारी सीमा विवाद के बाद यह कदम काफी अहम माना जा रहा है। गौरतलब है कि पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में 15 जून को भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प में भारतीय सेना के 20 जवान शहीद हो गए थे। इस झड़प में चीनी पक्ष को भी काफी नुकसान हुआ था, हालांकि चीन ने अभी तक अपने मारे गए सैनिकों की संख्या सार्वजनिक नहीं की है। लेकिन माना जा रहा है कि उसके 35 से 40 सैनिक घायल या मारे गए हैं।

america-china

यह भी पढ़ें: मोदी ने बनाया रिकॉर्ड: हारे नहीं डटे रहे प्रधानमंत्री, इतिहास के पन्नों में दर्ज हुआ ये दिन

हिंसक झड़प के मद्देनजर लिया ये फैसला

वहीं मीडिया रिपोर्ट में अमेरिकी अधिकारियों और संसद के सहयोगियों के साक्षात्कारों के आधार पर लिखा गया है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की सरकार भारत और चीन के सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प को ध्यान में रखते हुए भारत में हथियारों की बिक्री बढ़ाने की योजना बना रही है। जिससे अमेरिका और चीन के बीच तनाव का एक मुद्दा उभर सकता है।

यह भी पढ़ें: राम भक्त भी अंजान: इन रास्तों से होकर गुजरे थे श्रीराम, अब बनेगा कॉरिडोर

America-India

ट्रंप ने किए नियमों में संसोधन

मीडिया रिपोर्ट में अधिकारियों के हवाले से लिखा गया है कि अमेरिका ने हाल ही में भारत को नए हथियारों की बिक्री की योजना बनाई है। इन हथियारों में सशस्त्र ड्रोन जैसी उच्च स्तर की हथियार प्रणाली और उच्च स्तर की प्रौद्योगिकी भी शामिल हैं। इसके लिए ट्रंप ने आधिकारिक तौर पर उन नियमों में भी संसोधन किया है, जो भारत जैसे विदेशी भागीदारों के लिए सैन्य-स्तर ड्रोन की बिक्री को प्रतिबंधित करते थे।

यह भी पढ़ें: राम मंदिर भूमि पूजन: अयोध्या में आगमन हुआ पीएम मोदी सहित इन नेताओं का

वहीं इस मामले में एक सांसद ने कहा कि वे भारत को सशस्त्र प्रीडेटर्स मुहैया कराने वाले हैं। उन्होंने बताया कि MQ-1 प्रीडेटर ड्रोन एक हजार पौंड से अधिक बम और मिसाइल ले जा सकता है।

यह भी पढ़ें: राममंदिर भूमि पूजन: PM मोदी ने बनाए ये 3 रिकाॅर्ड, रामलला के लिए लाए खास भेंट

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story