Astro

मकर संक्रांति  का त्योहार मुख्य रूप से भगवान सूर्य को समर्पित है। कहते हैं कि सूर्य देव सभी देवों में प्रमुख स्थान रखते हैं। ज्योतिष शास्त्र की मानें तो सूर्य सभी ग्रहों के पिता हैं।इसलिए ज्योतिष शास्त्र में सूर्य ग्रह को विशेष महत्व प्रदान किया गया है।

दिन-मंगलवार ,तिथि- चतुर्थी और पंचमी, पक्ष-कृष्ण, माह-माघ, नक्षत्र-मघा, अभिजित काल-12.14- 12.58। राहुकाल-03.19 -4.40 तक। सूर्योदय-07.20 , सूर्यास्त-17.37। आज मगंलवार है बजरंगबली का दिन। आज दोपहर 2.49 मिनट के बाद पंचमी तिथि लगेगी। और सूर्य मकर राशि में जाएगा तो मकर संक्राति का स्नान आज नहीं कल 15 जनवरी को होगा।

चंदन महत्‍वपूर्ण और पवित्र है जो पाप का नाश करता है व आपदा का हरण कर लक्ष्‍मी की सदैव रक्षा करता है। चंदन जहां मानव जाति की धार्मिक भावानाओं से जुड़ा हुआ है वहीं मनुष्‍य के निजी जीवन में प्रयोग की वस्‍तुओं में भी काम आता है।

सकट चौथ व्रत आज मनाया जा रहा है। इसे संकष्टी चतुर्थी के नाम से भी जाना जाता है। इस दिन महिलाएं अपने परिवार की सुख और समृद्धि के लिए निर्जल व्रत रखती है और गणेश जी की बड़े ही धूमधाम से पूजा करती है। जिससे परिवार पर कभी भी किसी तरह की कोई समस्याएं न आए

माह-माघ, दिन- सोमवार, पक्ष- कृष्ण, नक्षत्र-अश्लेषा, सूर्यास्त-7.20.सूर्योदय-17.36। आज लोहड़ी का त्योहार है इस दिन उत्तर भारत में लोग हर्षोल्लास से जश्न मनाते है। आज लोहड़ी के साथ सकट चौथ व्रत भी है यह व्रत महिलाएं अपनी संतान के दीर्घायू के लिए करती है। जानते हैं कैसा रहेगा आज का दिन...

माघ महीने के गणेश चतुर्थी को सकट, तिलवा  और तिलकुटा चौथ का व्रत कहते है।  इस बार सकट व्रत का पूजन 13 जनवरी यानि कि दिन सोमवार  को होगा। ये व्रत महिलाएं संतान की लंबी आयु के लिए करती है। पहले ये व्रत पुत्र के लिए किया जाता रहा है

लोहड़ी की तिथि को लेकर कोई असमंजस नहीं है। इस साल 2020 में लोहड़ी 13 जनवरी को है। इस बार मकर संक्रांति की तिथि में बदलाव है।  इस साल मकर संक्रांति 15 जनवरी को पड़ रही है।

मकर संक्रांति हिन्दुओं का एक मुख्य पर्व है। इस साल मकर संक्रांति 15 जनवरी को मनाया जाएगा। इस पर्व की सही तारीख को लेकर लोगों के बीच असमंजसहै लेकिन धर्मानुसार यदि किसी साल मकर संक्रांति का पर्व शाम को पड़ता है तो इसे अगले दिन मनाया जाता है।

माह-माघ, तिथि-द्वितीया, दिन-रविवार, पक्ष-कृष्ण, नक्षत्र-पुष्य, सूर्योदय- 07.20, सूर्यास्त-17.37। आज रविवार है। सूर्य देव को जल चढाएं। सूर्य मंत्र के जाप के साथ  दिन की शुरुआत करें। जानते हैं आज का दिन 12 राशियों के लिए कैसा है...

हिंदू धर्म को सबसे पुरातन धर्म माना जाता है। कहा जाता है सृष्टि की उत्पत्ति के साथ ही इस धर्म की उत्पत्ति हुई है। इस धर्म के ग्रंथ,वेद-पुराण में बहुत सी ऐसी बातें लिखी गई है जिसके शाश्वत प्रमाण भी मिलते है। पूरी सृष्टि की रचना में जितने भी सजीव और निर्जीव वस्तुएं है उन सबका संबंध ईश्वर से है।