Top

मध्य प्रदेश की सियासत में घुसा चीन, भाजपा ने बोला कमलनाथ पर बड़ा हमला

मध्य प्रदेश की सियासत में अब चीन की भी एंट्री हो गई है। भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा ने मध्य प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पर...

Ashiki Patel

Ashiki PatelBy Ashiki Patel

Published on 26 Jun 2020 3:36 PM GMT

मध्य प्रदेश की सियासत में घुसा चीन, भाजपा ने बोला कमलनाथ पर बड़ा हमला
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

अंशुमान तिवारी

भोपाल: मध्य प्रदेश की सियासत में अब चीन की भी एंट्री हो गई है। भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा ने मध्य प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पर बड़ा हमला बोलते हुए उन्हें चीनी एजेंट तक की संज्ञा दे डाली। झा ने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार में वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय का प्रभार संभालने के दौरान कमलनाथ ने चीन के हित में काम किया है। प्रभात झा के इस आरोप के बाद राज्य की सियासत एक बार फिर गरमा गई है।

ये भी पढ़ें: आत्मनिर्भर रोजगार अभियान के मौके पर PM मोदी ने की श्रमिकों से बात

वाणिज्य मंत्री के रूप में चीन को पहुंचाया फायदा

भाजपा के प्रदेश कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत के दौरान भाजपा नेता ने कमलनाथ पर आरोपों की झड़ी लगा दी। उन्होंने कहा कि लद्दाख में भारत और चीन के बीच तनातनी के दौरान कांग्रेस के वरिष्ठ नेता चीन की भाषा क्यों बोल रहे हैं, यह बात अब सबको समझ में आने लगी है। उन्होंने कमलनाथ पर चीन के हित में काम करने का आरोप लगाते हुए कहा कि इस संबंध में खुलासा हो चुका है और यह ऑन रिकॉर्ड है। इससे जुड़े दस्तावेज भी सामने आ चुके हैं। उन्होंने कहा कि जो भी दस्तावेज सामने आए हैं, उन्हें देखते हुए यदि मैं अपनी भाषा में कहूं तो कमलनाथ वाणिज्य मंत्री के रूप में चीन का एजेंट बनकर काम कर रहे थे।

ये भी पढ़ें: सवालों के घेरे में नगर निगम का वृक्षारोपण अभियान, पार्षदों ने मांगा खर्चे का ब्योरा

फायदे का पैसा राजीव गांधी फाउंडेशन को दिया

भाजपा नेता ने कहा कि चीन की कम्युनिस्ट पार्टी और कांग्रेस के बीच बहुत सारी बातों को लेकर समझौता हुआ। एक समझौता यह भी हुआ कि भारत में जो सामान सहजता से उपलब्ध है, उसका आयात बढ़ाया जाए। 250 सामानों को चिन्हित कर उनका आयात कम करने का फैसला किया गया। इसके साथ ही आयात पर टैक्स भी घटाने का फैसला किया गया। उन्होंने कहा कि सरकार के इन कदमों से चीन को जो फायदा हुआ, उसके पैसे से कांग्रेस की मदद की गई और यह पैसा राजीव गांधी फाउंडेशन के खाते में भेजा गया। उन्होंने कांग्रेस के इस कदम को राष्ट्रीय अपराध बताया।

ये भी पढ़ें: बढ़ती पेट्रोल-डीजल की कीमतों पर सपा का विरोध प्रदर्शन, सरकार के खिलाफ लगे नारे

अपनी स्थिति स्पष्ट करें कमलनाथ

झा ने कहा कि इन सब बातों के लिए तत्कालीन केंद्रीय वाणिज्य मंत्री कमलनाथ ही जिम्मेदार हैं और उन्हें इस बारे में अपनी स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए। अगर कमलनाथ ने आगे आकर इस बारे में अपनी भूमिका को साफ नहीं किया तो हम लोग गांव-गांव जाकर इस संबंध में लोगों को जानकारी देंगे। देश के लोगों को यह भी बताया जाएगा कि राहुल गांधी के चीन की भाषा बोलने का कारण क्या है। राजीव गांधी फाउंडेशन में कितने पैसे और क्यों आते रहे। मनमोहन सिंह सरकार में कमलनाथ 2004 से 2009 तक केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्री के पद पर थे।

कांग्रेस ने किया पलटवार

प्रभात झा के इन आरोपों के बाद कांग्रेस की ओर से पलटवार किया गया है। कांग्रेस के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने कहा कि इन दिनों प्रभात झा की मानसिक स्थिति ठीक नहीं चल रही है। जब से उनके कट्टर विरोधी ज्योतिरादित्य सिंधिया को भाजपा ने राज्यसभा का उम्मीदवार बनाया है, तब से वे काफी बेचैन दिख रहे हैं। बेचैनी कि इसी हालत के कारण वे उल्टे सीधे बयान दे रहे हैं।

ये भी पढ़ें: स्वास्थ्य मंत्री की कोरोना रिपोर्ट आई सामने, प्लाज्मा थेरेपी से हो रहा था इलाज

सलूजा ने कहा कि प्रभात झा ने सिंधिया पर भूमाफिया होने का आरोप लगाया था मगर अब उन्होंने सिंधिया के बारे में चुप्पी साध ली है। उन्होंने कहा कि कमलनाथ बड़े कद के नेता हैं और उन्होंने 10 बार सांसद का चुनाव जीता है। कमलनाथ पर आरोप लगाने से पहले प्रभात झा एक बार पार्षद या सरपंच का चुनाव जीतकर दिखाएं।

ये भी पढ़ें: अभी-अभी बैंकों के नियमों में हुए ये बड़े बदलाव, आपकी जेब पर पड़ेगा असर

Ashiki Patel

Ashiki Patel

Next Story