लॉकडाउन में फंसे मजदूरों पर CM शिवराज का बड़ा फैसला, ये कदम उठाएगी सरकार

कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए देशभर में लॉकडाउन की घोषणा की गयी। बता दें की प्रवासी मजदूरों के लिए भी सरकार ने कहा था कि जो जहां पर है वहीं रहे…

Published by Ashiki Patel Published: April 25, 2020 | 10:24 am
Modified: April 25, 2020 | 10:25 am

नई दिल्ली: कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए देशभर में लॉकडाउन की घोषणा की गयी। बता दें की प्रवासी मजदूरों के लिए भी सरकार ने कहा था कि जो जहां पर है वहीं रहे, सबके खाने पीने की व्यवस्था की जाएगी। हालांकि की बहुतेरे मजदूर अपने गांवों की ओर कूच कर गए, लेकिन कुछ प्रवासी मजदूर अभी भी फंसे रह गए।

ये भी पढ़ें: दिल्ली दंगे में बड़ी कार्रवाई की तैयारी, पुलिस के रडार पर PFI समेत चार संगठन

मजदूरों को वापस लाएगी शिवराज सरकार

इस बीच मध्यप्रदेश सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को जानकारी देते हुए बताया है कि लॉकडाउन के कारण अन्य राज्यों में फंसे मध्यप्रदेश के मजदूरों को सरकार मध्यप्रदेश वापस लाएगी। अब इसके साथ ही सरकार ने अन्य राज्यों में फंसे मजदूरों की जानकारी इकट्ठा करने की तैयारी शुरू कर दी है। मजदूरों को वापस लाने के लिए सीएम शिवराज ने उत्तरप्रदेश, राजस्थान, गुजरात और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्रियों से बात की है। और सभी राज्य के मुख्यमंत्रियों ने शिवराज सिंह चौहान को सहयोग देने का आश्वासन दिया है।

ये भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर में 27 नए कोरोना पॉजिटिव केस, संक्रमितों की कुल संख्या 454

इसके साथ ही सरकार अन्य राज्यों में फंसे व्यक्तियों को लाने के लिए उनके परिवारजनों को मध्यप्रदेश से जाने की अनुमति भी देगी। वहीं मध्यप्रदेश में अन्य राज्यों के फंसे हुए मजदूरों को भी उनके प्रदेशों भेजे जाने की तैयारी है। इसके साथ ही सरकार ने एक और बड़ा फैसला लिया है, जिसके तहत मध्यप्रदेश के दूसरे जिले में फंसे मजदूर भी अपने गृहजनपद लौट सकेंगे।

ये भी पढ़ें: लॉकडाउन के दौर में अध्ययन- अध्यापन : चुनौतियां एवं अवसर प्रोफेसर राजीव सिजरिया

सोशल डिस्टेंसिंग का रखा जायेगा पूरा ध्यान

लेकिन सरकार ने फैसला लिया है कि मध्यप्रदेश के सभी संक्रमित क्षेत्रों और इंदौर जिले से किसी भी मजदूर को आने-जाने की अनुमति नहीं होगी क्योंकि इससे संक्रमण के फैलने का खतरा बना रहेगा। इस जानकारी देते हुए मुख्यमंत्री शिवराज ने बताया कि यह कार्य पूरी सावधानी से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए किया जाएगा।

ये भी पढ़ें: बड़ा खुलासा: मौलाना साद ने करा लिया है कोरोना टेस्ट, ‘क्राइम ब्रांच को सब है पता’

जमात के नाम पर मुस्लिमों का उत्पीड़न: पूर्व नौकरशाहों ने मुख्यमंत्रियों को लिखी चिट्ठी