कोरोना की तेज रफ्तार: भारत की लंबी छलांग, एक दिन में ही इन दो देशों को पीछे छोड़ा

पिछले कुछ दिनों में भारत में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में काफी तेजी आई है। यही कारण है कि भारत ने एक दिन में ही स्पेन और ब्रिटेन दोनों को पीछे छोड़ दिया।

अंशुमान तिवारी

नई दिल्ली: भारत में कोरोना संक्रमण के मामलों की तेज रफ्तार चिंता का विषय बन गई है। गुरुवार को लगातार 11,000 से ज्यादा मरीजों के मिलने के साथ ही देश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 2,98,238 तक पहुंच गई है। इसके साथ ही भारत संक्रमित मरीजों की संख्या के मामले में स्पेन और ब्रिटेन दोनों को पीछे छोड़ते हुए अब दुनिया में चौथे नंबर पर पहुंच गया है।

ये भी पढ़ें: उद्धव सरकार के एक और मंत्री को हुआ कोरोना, 5 कर्मचारी भी संक्रमित

भारत ने स्पेन और ब्रिटेन दोनों को पीछे छोड़ा

पिछले कुछ दिनों में भारत में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में काफी तेजी आई है। यही कारण है कि भारत ने एक दिन में ही स्पेन और ब्रिटेन दोनों को पीछे छोड़ दिया। संक्रमित मरीजों की संख्या के मामले में अमेरिका अभी भी टॉप पर बना हुआ है। अमेरिका में 20,76,094 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं। संक्रमण के मामले में ब्राजील दूसरे नंबर पर है जहां 7,87,060 ज्यादा मरीज हैं। पांच लाख से ज्यादा मरीजों के साथ रूस तीसरे नंबर पर है जबकि ब्रिटेन 2.91 लाख और स्पेन 2.89 लाख मरीजों के साथ क्रमश: पांचवें और छठे नंबर पर हैं। ताजा आंकड़ों के मुताबिक दुनिया में कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या 75 लाख तक पहुंच गई है।

ये भी पढ़ें: पत्नी के निधन पर एक शख्स ने सोनू सूद से मांगी मदद, तो एक्टर ने दिया ऐसा जवाब

अगस्त में हालात और खराब होंगे

विशेषज्ञों का कहना है कि अगर भारत में कोरोना के केस बढ़ने की यही रफ्तार बनी रहे तो 25 से 30 अगस्त के बीच भारत दुनिया में दूसरा सबसे ज्यादा संक्रमित देश बन जाएगा। वैसे तब तक ब्राजील की हालत भारत से भी ज्यादा खराब होगी। ब्राजील में मामले मौजूदा रफ्तार से ही आगे बढ़ते रहें तो वह 25 जुलाई तक अमेरिका को भी पीछे छोड़ते हुए कोरोना संक्रमित देशों की सूची में टॉप पर पहुंच जाएगा। भारत में 17 दिन में मामले दोगुने हो रहे हैं जबकि ब्राजील का डबलिंग रेट भारत से भी ज्यादा है। यहां 16 दिन में ही संक्रमित मरीजों की संख्या डबल हो रही है।

ये भी पढ़ें: इस सिंगर ने 3 साल तक छुपा रखी ये बात, अब किया इजहार

ग्रोथ रेट के मामले में भारत नंबर वन

कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित छह देशों में भारत का ग्रोथ रेट सबसे ज्यादा है। यहां कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या 4.30 फ़ीसदी की दर से बढ़ रही है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक ब्राजील दूसरे नंबर पर आया जहां 4.26 की ग्रोथ रेट है। सबसे कम ग्रोथ रेट स्पेन की है। यहां संक्रमितों की संख्या 0.10 फ़ीसदी की दर से बढ़ रही है।

रिकवरी रेट का बढ़ना अच्छी खबर

भारत के लिए एक अच्छी खबर यह है कि यहां मरीजों की रिकवरी रेट में लगातार बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक भारत में रिकवरी रेट बढ़ाकर 49.21 फ़ीसदी हो गई है। भारत इस मामले में अमेरिका से आगे है जहां रिकवरी रेट 39.12 फ़ीसदी है। दुनिया में इटली का रिकवरी रेट सबसे ज्यादा 72 फीसदी है। ब्राजील में रिकवरी रेट 51.14 फीसदी और रूस में 51.97 फीसदी है। ये दोनों देश भी रिकवरी के मामले में भारत से आगे हैं।

ये भी पढ़ें: पति-पत्नी और वो: प्रेमिका ने प्रेमी पर बरसाईं दनादन चप्पलें, सभी रह गए हैरान

महाराष्ट्र और दिल्ली ने बढ़ाई चिंता

भारत में मरीजों की संख्या बढ़ाने में महाराष्ट्र व दिल्ली सबसे आगे हैं। महाराष्ट्र में गुरुवार को 3607 नए मरीज मिले और 152 लोगों की कोरोना ने जान ले ली। राज्य में कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या साढ़े 97 हजार से भी ऊपर पहुंच गई है। वहीं दिल्ली में एक दिन में सबसे ज्यादा 1877 नए केस मिले और 151 मौतें दर्ज की गईं। दिल्ली में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या साढ़े 34 हजार से ऊपर पहुंच चुकी है। यहां अब तक 1085 लोग कोरोना वायरस के संक्मण से दम तोड़ चुके हैं।

संक्रमण में यूपी पांचवें नंबर पर

देश में संक्रमण के मामलों में महाराष्ट्र पहले, तमिलनाडु दूसरे, दिल्ली तीसरे, गुजरात चौथे और उत्तर प्रदेश पांचवें स्थान पर है। देश में सर्वाधिक आबादी वाले राज्य उत्तर प्रदेश में कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या 12000 से ऊपर पहुंच गई है और यहां अभी तक 478 लोगों ने इस वायरस के कारण जान गंवाई है।

ये भी पढ़ें: जिला अस्पताल में इलाज के अभाव में मरीज की मौत, प्रदर्शन पर उतरे ABVP के कार्यकर्ता

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App