दिल्‍ली-एनसीआर समेत इन राज्यों में लगे भूकंप के झटके, ऐसे करें बचाव

दिल्ली-एनसीआर में भूकंप के झटके महसूस किए गए। रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 5 मापी गई है। हालांकि अभी किसी प्रकार के नुकसान की खबर नहीं है। दिल्ली-एनसीआर के अलावा उत्तराखंड में भी भूकंप के झटके महसूस हुए हैं।

नई दिल्ली: दिल्ली-एनसीआर में भूकंप के झटके महसूस किए गए। रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 5 मापी गई है। हालांकि अभी किसी प्रकार के नुकसान की खबर नहीं है। दिल्ली-एनसीआर के अलावा उत्तराखंड में भी भूकंप के झटके महसूस हुए हैं।

दिल्ली-एनसीआर के अलावा लखनऊ, चंडीगढ़, नोएडा, गुरुग्राम समेत उत्तर भारत के अन्य कई शहरों में भी भूकंप झटके महसूस किए गए हैं। मिली जानकारी के मुताबिक यह भारत-नेपाल सीमा पर भूकंप का केंद्र रहा।

यह भी पढ़ें…मुकेश अंबानी की कंपनी ने RIL मचाया धमाला, इस मामले में बनी देश की पहली कंपनी

इसके चलते उत्तर प्रदेश के इलाकों में भूकंप की तीव्रता अधिक महसूस की गई। इसके अलावा उत्तराखंड को भी भूकंप के झटके लगे हैं।

भूकंप के झटके लगने के बाद लोग डरकर दफ्तर और घरों से बाहर निकल आए। हालांकि इस भूकंप की वजह से अब तक किसी भी तरह के जान-माल के नुकसान होने की कोई खबर सामने नहीं आई है। किसी के हताहत होने की खबर नहीं है।

भूकंप के झटके करीब 7 बजकर 1 मिनट पर महसूस किए गए।

यह भी पढ़ें…सरकार-सरकार-सरकार: आखिर कब बनेगी महाराष्ट्र सरकार? चल रहा मीटिंग का दौर

भूकंप का इपिसेंटर जमीन के 1.3 किलोमीटर नीचे रहा। 2015 में नेपाल में भूकंप की वजह से भारी तबाही मची थी। इस भूकंप की वजह से हजारों लोगों ने अपनी जान गंवा दी थी। नेपाल को इस भूकंप में बड़ी तबाही झेलनी पड़ी थी।

यह भी पढ़ें…संसद में प्रदूषण पर चर्चा: गंभीर बोले- वायू प्रदूषण से हर 3 मिनट में 1 बच्चे की मौत

इससे पहले गुजरात में सोमवार को भूकंप के झटके लगए थे। गुजरात के भुज में सोमवार को भूकंप के झटके महसूस किए गए। रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 4.3 मापी गई थी। भचाऊ के पास इस भूकंप का केंद्र था।

भूकंप आने पर अपनाएं ये उपाय

-मकान, दफ्तर या किसी भी इमारत में अगर आप मौजूद हैं तो वहां से बाहर निकलकर खुले में चले जाएं।

-खुले मैदान की ओर भागें। भूकंप के दौरान खुले मैदान से ज्यादा सुरक्षित जगह कोई नहीं होती।

-किसी बिल्डिंग के आसपास न खड़े हों।

-अगर आप ऐसी बिल्डिंग में हैं, जहां लिफ्ट हो तो लिफ्ट का इस्तेमाल कतई न करें। ऐसी स्थिति में सीढ़ियों का इस्तेमाल ही बेस्ट होता है।

-घर के दरवाजे और खिड़की को खुला रखें।

यह भी पढ़ें…इंदिरा ने राजीव गांधी को दी थी ये चेतावनी, कहा था- अमिताभ बच्चन को…

-घर की सभी बिजली स्विच को ऑफ कर दें।

-अगर बिल्डिंग बहुत ऊंची हो और तुरंत उतर पाना मुमकिन न हो तो बिल्डिंग में मौजूद किसी मेज, ऊंची चौकी या बेड के नीचे छिप जाएं।

-भूकंप के दौरान लोगों को इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि वो पैनिक न करें और किसी भी तरह की अफवाह न फैलाएं, ऐसे में स्थिति और बुरी हो सकती है।