×

ICICI बैंक ग्राहकों को खुशखबरी, अब घर बैठे खुलेगा खाता और जमा होगा KYC

बैंक के नए ग्राहकों के लिए KYC की प्रक्रिया को डिजिटल बनाती है और इस तरह वे बैंक की किसी भी शाखा में गए बिना कुछ ही मिनटों में अपना खाता खोल सकते हैं।

Aradhya Tripathi
Published on: 25 Jun 2020 11:45 AM GMT
ICICI बैंक ग्राहकों को खुशखबरी, अब घर बैठे खुलेगा खाता और जमा होगा KYC
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

नई दिल्ली: कोरोना संकट के बीच प्राइवेट सेक्टर के सबसे बड़े बैंक आईसीआईसीआई बैंक ने आज अप्बे ग्राहकों को एक नई सेवा शुरू की है। जिससे ग्राहकों को काफी सुविधा मिलेगी। बैंक की इस नई सुविधा के तहत रिटेल ग्राहक बैंक के साथ वीडियो बातचीत के माध्यम से कुछ ही मिनटों में 'नो योर कस्टमर' (KYC) की प्रक्रिया को कर सकते है। गौरतलब है कि नया अकाउंट खुलवाने के लिए केवाईसी की प्रक्रिया जरुरी होती है।

बैंक की किसी शाखा में मिनटों में खुलेगा खाता

ये नई सुविधा वाकई ग्राहकों को काफी आराम प्रदान करेगी। बैंक ने शुरुआती तौर पर ऐसे संभावित ग्राहकों के लिए यह सुविधा शुरू की है, जो बैंक में बचत खाता खोलने के लिए उत्सुक हैं, या जो बैंक के साथ अपना वेतन खाता खोलना चाहते हैं अथवा बैंक से पर्सनल लोन लेना चाहते हैं।

ये भी पढ़ें- अब Facebook करेगा भविष्यवाणी, जानिए क्या है पूरा मामला

यह सुविधा उन लोगों के लिए भी उपलब्ध होगी, जो 'अमेजन पे आईसीआईसीआई बैंक क्रेडिट कार्ड' के लिए आवेदन करना चाहते हैं। यह क्रेडिट कार्ड का सर्वाधिक लोकप्रिय वेरिएंट है। सैलेरी अकाउंट खोलने और पर्सनल लोन लेने वाले लोगों के लिए यह सुविधा देने वाला उद्योग का पहला बैंक है।

यह सुविधा बैंक के नए ग्राहकों के लिए KYC की प्रक्रिया को डिजिटल बनाती है और इस तरह वे बैंक की किसी भी शाखा में गए बिना कुछ ही मिनटों में अपना खाता खोल सकते हैं। वर्तमान समय में कोरोना वायरस के मद्देनजर सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखते हुए आईसीआईसीआई बैंक द्वारा ये महतवपूर्ण कदम उठाया गया है।

ये भी पढ़ें- थानों के कमैंट्स व केस डायरी देने में हीला हवाली पर पारित हो आदेश

वीडियो केवाईसी की सुविधा आईसीआईसीआई बैंक की उस परंपरा के अनुरूप है, जिसमें बैंक अपने ग्राहकों को डिजिटल प्रक्रियाओं के माध्यम से हरसंभव सुविधा उपलब्ध कराने का प्रयास करता है। यह प्रक्रिया रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के केवाईसी नियमों के अनुरूप भी है।

कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में निभाएगी अहम भूमिका- बैंक

इस नई लॉन्चिंग के बारे में जानकारी देते हुए आईसीआईसीआई बैंक के एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर अनूप बागची ने कहा, 'आईसीआईसीआई बैंक द्वारा लॉन्च वीडियो केवाईसी वेरिफिकेशन की सुविधा इंडस्ट्री में नए स्टैंडर्ड कायम करती है। क्योंकि इस तरह पूरी प्रक्रिया आसान और तेज है और इससे ग्राहकों को बहुत आसानी होगी।

यह इस समय 'न्यू नॉर्मल' के दिनों में विशेष महत्व रखता है जब लोगों को कोरोनो वायरस महामारी के खिलाफ उनकी लड़ाई के हिस्से के रूप में घर पर रहने की सलाह दी जाती है और उनसे अपेक्षा की जाती है कि वे बैंकिंग संबंधी अपने कामकाज डिजिटल तौर पर ही पूरे करें।''

ये भी पढ़ें- शिक्षा विभाग को लेकर अब आई ये बड़ी खबर, हुआ ये खुलासा

एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर ने आगे कहा कि हमने खाता खोलने, पर्सनल लोन और क्रेडिट कार्ड की प्रक्रिया के लिए एक मजबूत ‘वीडियो केवाईसी’ प्लेटफॉर्म को एकीकृत किया है जो ग्राहक के लिए खाता खोलने के अनुभव को सरल और सुरक्षित बनाता है। इस प्रक्रिया के माध्यम से, नए ग्राहक का सेविंग्स/सैलेरी खाता कुछ ही घंटों में पूरी तरह से चालू हो जाएगा।

हमारा मानना है कि कोविड- 19 महामारी और उसके बाद के समय में, ‘वीडियो केवाईसी’ की सुविधा ग्राहकों और उधारदाताओं को किसी के संपर्क में आए बिना नए बैंकिंग संबंधों को जल्दी और सुरक्षित रूप से कायम करने में मदद करेगी।

अकाउंट खोलने के लिए करें ये-

1. खाता खोलने के लिए आवेदन/पर्सनल लोन या क्रेडिट कार्ड की सुविधा लेना

बैंक की वेबसाइट पर जाएँ, इंस्टा सेव अकाउंट के लिए आवेदन करें। यहां ग्राहक को पेन का विवरण दर्ज करना होगा, आधार का उपयोग करते हुए इसे प्रमाणित करें और कुछ अन्य निजी जानकारियों का विवरण भरें।

ये भी पढ़ें- आतंकियों की कांपी रूह: सेना ने इनके ठिकानों का किया ये हाल, लगातार फायरिंग जारी

वे बचत खातों और व्यक्तिगत ऋण के अन्य वेरिएंट के लिए ऑनलाइन या बैंक शाखा में भी आवेदन कर सकते हैं। जबकि वे ‘अमेजन पे आईसीआईसीआई बैंक क्रेडिट कार्ड’ के लिए आवेदन करने के लिहाज से अमेजन ऐप का उपयोग भी कर सकते हैं।

2. वीडियो केवाईसी टैब पर क्लिक करें

एक बार जब 'इंस्टा सेव' खाता खुल जाता है या पर्सनल लोन/क्रेडिट कार्ड का आवेदन पूरा हो जाता है, तो ग्राहक को ‘वीडियो केवाईसी’ टैब पर क्लिक करना होगा या उन्हें बैंक अधिकारी की ओर से भेजे गए लिंक पर क्लिक करना होगा।

ये भी पढ़ें- खो गया आधार कार्ड और नहीं रजिस्टर्ड मोबाइल, ऐसे पा सकते हैं नया कार्ड

उन्हें नियामक दिशानिर्देशों के अनुसार, देश के भीतर जियो-टैगिंग के लिए डिवाइस के लोकेशन तक पहुंचने की अनुमति देने की भी आवश्यकता है। फिर उन्हें आईसीआईसीआई बैंक अधिकारी के पास डाइवर्ट किया जाएगा जो वास्तविक समय में केवाईसी का संचालन करते हैं। इस प्रक्रिया में कुछ ही मिनट लगते हैं।

3. वीडियो केवाईसी के लिए विवरण प्रस्तुत करें

ग्राहक को बस अपना पैन कार्ड, कागज की एक खाली सफेद शीट और एक नीली या काली कलम को संभाल कर रखना होगा। उन्हें अपने चेहरे को स्पष्ट रूप से रिकॉर्ड करने के लिए मजबूत डेटा कनेक्टिविटी और वीडियो केवाईसी प्रक्रिया के लिए एक अच्छी तरह से प्रकाशित जगह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है।

ये भी पढ़ें- Fair & Lovely की कहानी: 45 साल पुराना है ब्रांड, बदलेगा नाम

इसके अतिरिक्त, उन्हें मजबूत डेटा कनेक्टिविटी सुनिश्चित करने की भी आवश्यकता है, क्योंकि बैंक अधिकारी वीडियो कॉल के माध्यम से ग्राहक के हस्ताक्षर के साथ पैन छवि को रिकॉर्ड करता है। वीडियो केवाईसी प्रणाली ग्राहक के साथ आधार साइट पर उपलब्ध उसकी फोटो की जांच करती है। बैंक का सिस्टम सभी वीडियो केवाईसी को रिकॉर्ड और संग्रहीत करता है।

Aradhya Tripathi

Aradhya Tripathi

Next Story