दहला जम्मू-कश्मीर! राजोरी में आईईडी बरामद, सेना ने बढ़ाई सुरक्षा…

पाकिस्तान ने घाटी के हालात को असामान्य करने की कोशिश एक बार फिर की है। खबर है कि आर्मी की रोड ओपनिंग पार्टी ने राजोरी में मंगलवार को आईईडी बरामद की। सेना का बम निरोधक दस्ता मौके पर पहुंच चुका है। राजोरी पुंछ हाईवे पर दो घंटे से यातायात रुका हुआ है।

Published by Harsh Pandey Published: November 19, 2019 | 2:38 pm
Modified: November 19, 2019 | 2:41 pm

कश्मीर: आतंकियों के हालात दिन प्रतिदिन खराब होते जा रहे है, लेकिन दुश्मन देश की नापाक हरकतों पर कोई लगाम नहीं लग रहा है।

पाकिस्तान ने घाटी के हालात को असामान्य करने की कोशिश एक बार फिर की है। खबर है कि आर्मी की रोड ओपनिंग पार्टी ने राजोरी में मंगलवार को आईईडी बरामद की। सेना का बम निरोधक दस्ता मौके पर पहुंच चुका है। राजोरी पुंछ हाईवे पर दो घंटे से यातायात रुका हुआ है।

यह भी पढ़ें- वाह! कुछ ऐसा है ताज होटल, इतने रूपये में मिलेगा एक वेज थाली

बताते चलें कि आईईडी बरामद होने के बाद से हाईवे पर सतर्कता बढ़ा दी गई है। इसके साथ ही साथ सुरक्षा व्यवस्था के लिए प्रमुख स्थानों और सुरक्षा प्रतिष्ठानों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। जगह-जगह नाके लगाकर चेकिंग की जा रही है।

यह भी पढ़ें- सलमान अकेले में करते थे ये! गम था इस बात का, वजह थी ये हीरोइन

आतंकवादियों की कोशिश नाकाम…

बताते चलें कि राजोरी हाईवे स्थित शहर के कल्लर इलाके में आतंकवादियों ने सड़क किनारे आईईडी प्लांट किया था। हालांकि समय रहते आर्मी की रोड ओपनिंग पार्टी ने आतंकियों की इस साजिश को नाकाम कर दिया। आपको बता दें कि सेना का बम निरोधक दस्ता मौके पर पहुंच चुका है।

यह भी पढ़ें-  कांपा पाकिस्तान! अभी-अभी भारत को मिली बड़ी कामयाबी, आतंकियों में हायतौबा

वहीं राजोरी पुंछ हाईवे पर यातायात रोक दिया गया। इससे पहले मई महीने में भी इसी जगह आतंकियों ने आईईडी प्लांट लिया था। जिसे सेना ने बरामद करने के बाद नष्ट कर दिया था।

लगातार हो रही साजिश…

केन्द्र की मोदी सरकार द्वारा 5 अगस्त 2019 को जम्मू-कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा, आर्टिकल 370, को हटाया गया था, इसको लगभग 3 महिने का वक्त हो गया है, लेकिन जम्मू-कश्मीर को लेकर पाकिस्तान की चाहत कम नहीं हो रही है, प्रतिदिन सीमापार से नई नई चाल चली जा रही है।

यह भी पढ़ें. पाकिस्तान को आया चक्कर! सीमा पर तैनात हुए लाखों की संख्या में सैनिक

बता दें कि 17 नवंबर को एलओसी पर पलांवाला सेक्टर में जीरो लाइन पर फेंसिंग के बिल्कुल पास पाकिस्तान की ओर से आईईडी प्लांट की गई थी। इसकी जग में आए भारतीय सेना के वाहन में सवार एक जवान शहीद हो गए। दो अन्य जवान गंभीर रूप से घायल हो गए। विस्फोट में सेना का वाहन बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया।

यह भी पढ़ें. पाकिस्तान डरा! अब भारत करेगा बुरा हाल, वायुसेना का बहुत बड़ा है प्लान

17 नवंबर को हुए आईईडी ब्लास्ट में हवलदार संतोष शहीद

घटना रविवार सुबह 11 बजे की है। सेना का वाहन हर रोज की तरह रविवार की सुबह सैनिकों को लेकर सीमा की पोस्टों पर जा रहा था। इस बीच कच्ची सड़क पर पाकिस्तान की ओर से आईईडी लगाई गई थी। इस पर वाहन का अगला टायर चढ़ते ही विस्फोट हो गया, जिससे अगला हिस्सा बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया।

यह भी पढ़ें. तो इमरान देंगे इस्तीफा! मौलाना का प्लान-B हुआ तैयार, पाक PM की टेंशन टाइट

वाहन में सेना के चार जवान सवार थे, जिनमें से तीन गंभीर रूप से घायल हो गए। गंभीर रूप से घायल दो जवानों हवलदार संतोष तथा नायक जिमरा राम को एयरलिफ्ट कर सेना के कमान अस्पताल उधमपुर ले जाया गया।

कमान अस्पताल उधमपुर में तैनात डॉक्टरों ने हवलदार संतोष को मृत लाया घोषित कर दिया। जिमरा राम का इलाज चल रहा है, जहां उसकी स्थिति गंभीर बताई जाती है। तीसरे जवान नायक कृष्ण प्रताप का इलाज सेना के अखनूर स्थित अस्पताल में चल रहा है।

15 नवंबर को भी आतंकियों ने प्लांट की थी आईईडी…

इससे पहले 15 नवंबर को जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर आतंकियों ने आईईडी प्लांट की थी। हाईवे पर पांपोर के पास आतंकियों ने प्रेशर कुकर में पांच किलो का आईईडी प्लांट कर रखा था। जिसे समय रहते बरामद कर लिया गया था।

पुराने श्रीनगर-जम्मू हाईवे पर पांपोर के ईडीआई भवन के बाहर रोड ओपनिंग पार्टी (आरओपी) ने सड़क किनारे प्रेशर कुकर पड़ा देखा। इसके तुरंत बाद सुरक्षा बल हरकत में आ गए। बाद में की गई जांच में पाया गया कि आतंकियों ने प्रेशर कुकर में पांच किलो का आईईडी प्लांट कर रखा था।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App