Top

देश को मिली सफलता: इन खूंखार आतंकियों का सेना ने किया खात्मा

आज पुलवामा जिले के बेगपुरा में सेना के सुरक्षाबलों ने हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर रियाज नायकू को मार गिराया। इस आतंकी कमांडर का खेल बस आज तक ही था।

Vidushi Mishra

Vidushi MishraBy Vidushi Mishra

Published on 6 May 2020 12:52 PM GMT

देश को मिली सफलता: इन खूंखार आतंकियों का सेना ने किया खात्मा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली। देश के 5 होनहार जवानों को खोने का बदला तो अभी पूरा नहीं हुआ, पर सुरक्षाबलों ने जम्मू-कश्मीर में कई हद तक बड़ी सफलता हासिल की है। आज पुलवामा जिले के बेगपुरा में सेना के सुरक्षाबलों ने हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर रियाज नायकू को मार गिराया। इस आतंकी कमांडर का खेल बस आज तक ही था। आतंकी कमांडर रियाज अहमद नायकू घाटी का सबसे वांछित आतंकी था। मुठभेड़ में यासीन इट्टू की मौत के बाद से इसने ही कमान संभाली थी।ये दिसंबर 2012 में हिज्ब में शामिल हुआ और सिर्फ 5 सालों में ही संगठन के खास मुखिया बन गया था।

ये भी पढ़ें...मंत्री का बड़ा एलानः कहा लागू नहीं होने देंगे इन्स्पेक्टर राज

हिजबुल मुजाहिद्दीन के मुखिया का पद संभाला

रियाज नायकू सुरक्षा एजेंसियों के रडार पर 2016 में पोस्टर ब्वॉय बुरहान वानी की मौत के बाद आना शुरू हुआ था। उसके सिर पर 12 लाख रुपये का इनाम था।

आतंकी कमांडर ने घाटी में सब्जार भट की मौत के बाद हिजबुल मुजाहिद्दीन के मुखिया का पद संभाला। नायकू को पूरी घाटी में हिजबुल का कमांडर माना जाता था।

भारतीय सुरक्षा एजेंसियों ने इससे पहले उसे कई बार घेरा था लेकिन हर बार वह किसी तरह बचकर भाग निकलने में कामयाब हो जाता था। तो चलिए जानते हैं कि सुरक्षाबलों ने किन-किन बड़े आतंकियों का जड़ से खात्मा किया है।

ये भी पढ़ें...अब घर बैठे कराये इलाज, फोन पर ही उपलब्ध हैं हर रोग के डॉक्टर

लश्कर आतंकी नवीद जट उर्फ अबु हंजुला

सन् 2018 में जम्मू-कश्मीर में बड़गाम में भारतीय सुरक्षाबलों ने लश्कर-ए-तैयबा के टॉप आतंकी कमांडर नवीद जट को मार गिराया। इस मुठभेड़ में एक अन्य आतंकी भी मारा गया, साथ ही एक आतंकी भागने में सफल रहा था। आतंकवादी नावेद जट पत्रकार सुजात बुखारी की हत्या समेत कश्मीर घाटी में कई बड़ी आतंकी घटनाओं में शामिल रहा था।

तभी इसी साल 7 फरवरी शहर को हाई सिक्योरिटी जोन में एसएमएचएस हॉस्पिटल में आतंकियों ने पुलिसटीम पर हमला करके लश्कर आतंकी नवीद जट उर्फ अबु हंजुला को भगा लिया। नवीद पाकिस्तानी आतंकी था।

ये भी पढ़ें...रियाज नायकू: पिता ने कहा था- मेरा बेटा मर चुका है, मैथ टीचर से ऐसे बना था आतंकी

उसके साथ 6 आतंकियों को 6 फरवरी को सेंट्रल जेल से इलाज के लिए हॉस्पिटल लाया गया था। वहां पहले से मौजूद 2 आतंकियों ने पुलिसटीम पर ताबड़-तोड़ गोलियां चलाई थी। जिनमें 2 पुलिसकर्मी हेड कांस्टेबल मुश्ताक अहमद और कांस्टेबल बाबर अहमद शहीद हो गए थे।

हिजबुल कमांडर बुरहान वानी

हिजबुल कमांडर बुरहान वानी को बीते साल जुलाई में कश्मीर के अनंतनाग के पास मुठभेड़ में मार गिराया गया। बुरहान पर 10 लाख रुपये का इनाम था। घाटी में युवाओं को आतंकी संगठन में भर्ती करने के लिए बुरहान काफी चर्चित रहा है।

ये आतंकी पाकिस्तान की मदद के बिना ही आतंकी वारदातों को अंजाम देने तथा आतंकी संगठन को सक्रिय करने में जुटा हुआ था। पुलवामा तथा त्राल इलाके में वो बहुत एक्टिव था।

ये भी पढ़ें...मुफ्त गैस सिलेंडर: ऐसे उठाएं इस स्कीम का फायदा, 4.5 करोड़ लोगों मिला मौका

प्रेम में धोखा खाया आतंकी सब्जार भट्ट

आतंकी हिजबुल के पोस्टर ब्वॉय बुरहान वानी के मारे जाने के बाद अस्थायी रूप से हिज्ब की कमान सब्जार अहमद भट्ट को सौंपी गई थी। दक्षिणी कश्मीर के कई युवाओं को अपने संगठन में शामिल करने में सब्जार ने बड़ा किरदार निभाया था।

ये भी कहा जाता है कि सब्जार अहमद भट को मोहब्बत में मिली नाकामी ने खूंखार आतंकी सरगना बना दिया। लड़की के घरवालों द्वारा निकाह की गुजारिश ठुकरा देने के बाद 2015 में वह हिजबुल में शामिल हो गया।

वहीं इसके लिए उसने एक पुलिसकर्मी की राइफल छीनकर अपनी काबिलियत साबित की थी। अपनी क्रूरता के चलते जल्दी ही वह बुरहान वानी की एक्स कॉपी बन गया।

ये भी पढ़ें...लगा तगड़ा झटका: बढ़े पेट्रोल-डीजल समेत शराब के दाम, CM योगी का ऐलान

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Desk Editor

Next Story