Top

लॉकडाउन का ऐसे करें सही इस्तेमाल: इतना बुरा भी नहीं, घर पर रहना

भले ही कोरोना वायरस के मद्देनजर लाॅकडाउन घोषित कर दिया गया है, लेकिन यकीन मानिये घर पर रहना इतना बुरा भी नहीं। Newstrack.com बता रहा है, इन 21 दिनों की बंदी का कैसे करें सहीं इस्तेमाल

Shivani Awasthi

Shivani AwasthiBy Shivani Awasthi

Published on 27 March 2020 6:37 AM GMT

लॉकडाउन का ऐसे करें सही इस्तेमाल: इतना बुरा भी नहीं, घर पर रहना
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: कोरोना वायरस के कारण पूरे भारत में 21 दिनों का लॉक डाउन हो गया है। लोग घबराएं हुए हैं और परेशान हैं कि वह तीन हफ्ते घर में कैद होकर कैसे बिताएंगे। जरूरत की पूर्ति को लेकर भी लोगों में कुछ असमंजस्य हैं, लेकिन यकीन मानिये घर पर रहना इतना बुरा भी नहीं। भले ही केंद्र की मोदी सरकार ने ये फैसला कोरोना वायरस को बढ़ने से रोकने और देशवासियों की सुरक्षा के लिए लिया है, लेकिन आप इन 21 दिनों का भरपूर लाभ भी ले सकते हैं।

Newstrack.com आपको बता रहा है, इन 21 दिनों की बंदी का कैसे करें सहीं इस्तेमाल...

परिवार को दें वक्त

रोज की भाग दौड़ भरी जिंदगी में लोगों के पास इतना समय नहीं होता कि वह परिवार को ज्यादा समय दे सके। इन 21 दिनों को किसी आपदा के तौर पर नहीं बल्कि एक ऐसे मौके के तौर पर देखें, जिसमें आप अपने परिवार के और ज्यादा करीब आ सकते हैं। अपने बच्चों के साथ बैठे, गेम्स खेलें, बातें करें, एक साथ घर पर ही कोई मूवी देखें, आम बोल चाल में कहें तो चिल करें।

ये भी पढ़ेंः लॉक डाउन पर जेल: इन राज्यों में घर से निकलने पर मिलेगी कड़ी सजा

घर बैठे बढ़ाएं ज्ञान:

इन दिनों में आप कई ज्ञानवर्धक किताबे,मजेदार कहानियां पढ़ सकते हैं। स्टूडेंट्स के पास अच्छा मौका है, अपने कोर्स के रिवीजन का। भविष्य की प्लैनिंग का। माता पिता के साथ बैठ कर ये तय करने कि भविष्य में क्या करना है और कैसे करना है।

ये भी पढ़ेंः 21 दिन का लॉकडाउन: घबराएं नहीं, सरकार देगी आपको ये सुविधाएं

इसके अलावा नौकरी पेशा लोग, जो 8 घंटों के ऑफिस के बाद काम के अलावा किसी अन्य चीज के बारें में सोचने की फुरसत नहीं पा रहे थे, उनके पास अच्छा मौका है। ऑनलाइन किताबें पढ़े, नेट सर्फिंग करें और दुनिया में क्या चल रहा है और सब जाने।

रिश्तेदारों को करें याद:

व्यस्थता के कारण लोग रिश्तेदारों और दोस्तों से बात नहीं कर पाते। एक लिस्ट तैयार करें और अपने उन दोस्तों व् रिश्तेदारों को कॉल करें जिनसे लाफ़ी समय से आपकी बात नहीं हो सकी। गप्पे लड़ायें और रिश्तों में समय के चलते आई दूरी को दूर करें।

फोन कॉल का खौफ: उसे अपना बनाऊंगा तुम्हें मारकर, सुनते ही उड़ जाती है निंद

ये भी पढ़ेंः जाने, क्या है आर्थिक आपातकाल: भारत में हुआ लागू, तो ऐसे बन जाएंगे हालात

घर, फाइल करने व्यवस्थित:

हो सकता है कि आपका कबर्ड, स्टडी टेबल या किचन अव्यवस्थित हो, कई बार आप सोच कर भी समय न होने के कारण उसे व्यवस्थित नहीं कर पाते। अब तो समय ही समय है। सामान व्यवस्थित करें, अपने कागजातों, फाइलों को समेटें। देखें क्या काम का है या रद्दी है।

घर के इंटीरियर में करें बदलाव:

चाहें तो घर के इंटीरियर में कुछ बदलाव भी कर सकते हैं। घर को अच्छे से सजा सकते हैं। कुछ हेरफेर कर सकते हैं, जैसे सोफा, पलंग, फ्रीज, अलमारी आदि की जगह बदलकर देख सकते हैं कि किसे कहां रखने से कंफर्ट रहेगा। बस ध्यान रखे कि घर में जो सामान है, उसी से बदलाव करें।

ये भी पढ़ेंः कोरोना से जंग के लिए तैयार योगी सरकार, ये है एक्शन प्लान

योग करें, हेल्थ पर ध्यान देने का सही समय:

खाली हैं, योग करें, ध्यान लगाए। समय का सदुपयोग भी होगा और एक अच्छी आदत भी बनेगी। स्वास्थ्य के लिए भी बेहतर हैं। वेट लूज करने का सोच रहे हैं तो घर पर ही हल्की फुलकी एक्सरसाइज करें, नेट सर्फिंग और यू ट्यूब के जरिये आप योग और एक्सरसाइज के बारें में पता कर सकते हैं।

ये भी पढ़ेंः वर्क फ्रॉम होम: Jio लाया दमदार प्लान, तेज स्पीड के साथ मिलेगा 2GB डेटा

अपनी हॉबी को दे समय:

हो सकता है आपको पेंटिंग, कुकिंग या किसी अन्य काम का शौक हो, लेकिन बिजी लाइफ में आप अपनी हॉबी भूल से गए हो, तो ये टाइम है कि आप अपनी हॉबी को समय। कुछ नया सीखें, कुछ इनोवेटिव कर सकते हैं।

सेल्फी

ये भी पढ़ेंः घरों में रहेंगे तो ही बचेंगे, घरों में रहेंगे तो ही जिएंगे, जीतेंगे जंग न्यूजट्रैक के संग

स्वस्थ समाज और स्वच्छ वातावरण का करने निर्माण:

ये 21 दिन आपके पास हैं, समाज के लिए कुछ करने का। सबसे पहले तो खबर पर रह कर खुद के लिए और अपने परिवार के अलावा देश के लिए भी अच्छा काम कर रहे हैं।

इस बीच अगर आप पेड़ पौधे लगाकर, गार्डनिंग के लिए भी कुछ समय निकाल सके तो अपने आसपास एक स्वस्थ वातवरण भी बना सकेंगे तो इसमें भी आप सहयोग कर सकते है और अपने समय का सदुपयोग कर सकते हैं।


Newstrack.com को ट्वीट या व्हाट्सअप करके बताएं कि आप कैसे घर में बिता हैं ये 21 दिन। घर में आप बोरियत दूर करने के लिए ताश खेल रहे हैं, मोबाइल गेम खेल रहे, लूडो खेल रहे या डांस कर रहे हैं। जो भी आप ऐसा कर रहे हों, जो दूसरों के लिए उपयोगी हो, प्रेरणादायक हो, हमें वीडियो बनाकर मोबाइल न. 9305806772 पर भेजें। आप ट्वीट @newstrackmedia पर फोटोज भी टैग कर सकते है और अपने इन 21 दिनों की स्टोरी को शेयर भी कर सके हैं।



तो जुड़े न्यूज़ट्रेक के साथ और बने कोरोना योद्धा।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shivani Awasthi

Shivani Awasthi

Next Story