एक कैप्टन ऐसा भी: धोनी की प्रोफेशनल ही नहीं, लव लाइफ भी देती है सीख

प्रियंका झा धोनी का पहला प्यार थीं और माही अपनी पूरी जिंदगी भी उन्हीं के साथ बिताना चाहते थे। लेकिन एक कार ऐक्सिडेंट में गर्लफ्रेंड की मौत ने उन्हें बुरी तरह तोड़ कर रख दिया।

लखनऊ: भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) आज यानी 7 जुलाई को अपना 39वां जन्मदिन मना रहे हैं। धोनी की ना केवल टीम बल्कि विपक्षी टीम भी तारीफें करती नहीं थकती। झारखंड की राजधानी रांची में जन्मे माही ने अपने टैलेंट के दम पर एक शानदार मुकाम हासिल किया। आज माही ने क्रिकेट जगत और फैन्स के दिल में इस कदर जगह बना ली है कि क्रिकेट को ‘महेंद्र सिंह धोनी’ के नाम के बिना अधूरा समझा जाने लगा।

दुनिया के बेस्ट कैप्टन में शामिल महेंद्र सिंह धोनी

महेंद्र सिंह धोनी को ये मुकाम हासिल करने के लिए काफी मेहनत करनी पड़ी और उन्होंने की भी। उनकी मेहनत का ही नतीजा है कि वो आज ना केवल भारत बल्कि दुनिया के बेस्ट कैप्टन में से एक माने जाते हैं। उनकी कप्तानी में इंडिया ने कई सारे खिताब अपने नाम किए। उन्होंने अपने क्रिकेट करियर में कई रिकॉर्ड बनाए जिसे तोड़ना अन्य खिलाड़ियों के लिए आसान नहीं है। उन्होंने अपनी कप्तानी के लिए कैप्टन कूल का दर्जा भी दिया गया, जो शांत रहकर भी दुश्मन को हार का मुंह दिखाना जानता है।

यह भी पढ़ें: Love Marriage में पैरेंट्स बन सकते हैं दीवार, इन Tips की मदद से पाएं उनका साथ…

माही की पर्सनल लाइफ

अगर माही की पर्सनल लाइफ की बात की जाए तो वो काफी शांत हैं और अपने इमोशन को बयां करना शायद उन्हें नहीं आता। अगर पर्सनल लाइफ की बात हो और उसमें माही की लव लाइफ ना आए ऐसा तो हो ही नहीं सकता। अगर आप सब ने माही की जिंदगी पर आधारित फिल्म एमएस धोनी: द अनटोल्ड स्टोरी देखी होगी तो आपको ये भी पता होगा कि उनकी एक गर्लफ्रेंड भी थीं प्रियंका नाम की।

यह भी पढ़ें: फिल्में जो रुला गईं, फिर भी इन्हें मिला फैंस का बेतहाशा प्यार

गर्लफ्रेंड की मौत से ऐसे उभरे धोनी

प्रियंका झा धोनी का पहला प्यार थीं और माही अपनी पूरी जिंदगी भी उन्हीं के साथ बिताना चाहते थे। लेकिन एक कार ऐक्सिडेंट में गर्लफ्रेंड की मौत ने उन्हें बुरी तरह तोड़ कर रख दिया। लेकिन धोनी ने जिस तरह खुद को संभाला जो काबिलेतारीफ है। तो चलिए आपको बताते हैं कि आखिर धोनी को किन चीजों ने मदद की इस चैप्टर से बाहर आने में।

यह भी पढ़ें: विकास दुबे की लव स्टोरी: दोस्त की बहन से प्यार, फिर ऐसे की शादी

धोनी की वो बातें जो देती हैं सीख

धोनी के लिए प्रियंका ना केवल उनका पहला प्यार थीं, बल्कि उनके लिए एक बड़े सपोर्ट सिस्टम की तरह भी थीं। ऐसे में उनकी मौत के बाद धोनी के जिंदगी में दुख के बादल आना लाजमी थी। लेकिन उस दुख से खुद को उबारने के लिए धोनी ने कोशिश की और उनका पहला कदम था उनका पैशन यानी क्रिकेट। उन्होंने अपना पूरा ध्यान क्रिकेट में लगाना शुरू कर दिया। उन्होंने बुरे पहलु को ना देखते हुए केवल पॉजिटिव बातों की ओर ध्यान दिया और आगे बढ़ते चले गए। धोनी की इसी आदत ने उन्हें सफलता की ऊंचाईयों पर लाने में बहुत मदद की।

यह भी पढ़ें: चीन की चाल जानता है भारत: अलर्ट पर वायुसेना, लड़ाकू विमानों ने रातभर भरी उड़ान

निगेटिव नहीं बल्कि पॉजिटिव सोचने पर दिया जोर

अक्सर लोग अपना पहला प्यार खोने से या अपना दिल टूटने से किसी गलत आदत को अपना लेते हैं और निगेटिव बातों की ओर ध्यान देने लगते हैं। लेकिन धोनी ने इन सब से परे पॉजिटिव बातों को देखा और अपने लक्ष्य को पाने की ओर ही ध्यान दिया। ऐसे में धोनी की जिंदगी से ये भी सिख मिलती है कि निगेटिव बातों पर ध्यान देने से और खुद के लिए मौके बंद करने से बेहतर है मेहनत करो और अपने पैशन को हासिल करो।

यह भी पढ़ें: विकास दुबे ने अतीक-मुख्तार को फंसाया, ऐसे किया बर्बाद, पुलिस के निशाने पर ये…

खुद को माही ने दिया दूसरा मौका

कोई भी अपने पहले प्यार को भूला नहीं पाता है और शायद धोनी भी अपने पहले प्यार यानी प्रियंका और अपने चैप्टर को भुला नहीं सके हों, लेकिन उन्होंने खुद को दूसरा मौका दिया। साक्षी से मुलाकात के बाद उन्होंने खुद को दूसरा मौका दिया और अपने ऊपर दिल टूटने के डर को हावी नहीं होने दिया। धोनी ने मूव ऑन किया और साक्षी को अपने जीवनसाथी के रूप में चुना। माही ने साक्षी को प्रपोज किया और दोनों ने शादी कर ली। आज दोनों एक-दूसरे के साथ हैपी मैरिड लाइफ जी रहे हैं। दोनों की एक प्यारी सी बच्ची भी है, जिसका नाम जीवा धोनी है।

यह भी पढ़ें: अमेरिका का बड़ा बयान, चीन के खिलाफ भारत को देंगे सैन्य मदद, बौखलाया ड्रैगन

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।