bjp

दिल्ली विधानसभा चुनाव में भी जनता के मुद्दों पर चर्चा की जगह अब पाकिस्तान और शाहीनबाग की ही ज्यादा चर्चा हो रही है। मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के मुफ्त बिजली और पानी पर चर्चा करने के बजाय भाजपा ने बड़ी चतुराई से सीएए के खिलाफ चल रहे प्रदर्शनों का मुद्दा उछाल दिया।

मप्र के मुरैना जिले में एक ऐसा जंगल भी है, जहां लगे पेड़ों को देखने पुलिस भी पहुंचती है। ऐसा नहीं है कि यह पुलिस का पर्यावरण संरक्षण के लिए पेड़-पौधों के....

जम्मू-कश्मीर को लेकर कुछ न कुछ नया सुनने या देखने को मिलता ही है। खबर है कि जम्मू-कश्मीर में शनिवार को 2जी इंटरनेट सेवा बहाल हुई और उसके बाद से पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला की एक फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो गई।

उप्र. कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने भाजपा की गंगा यात्रा को प्रदेश की जनता की धार्मिक आस्था के साथ खिलवाड़ बताया है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि चाहे केंद्र की सरकार हो या प्रदेश की, गंगा सफाई सिर्फ कागजों में हुई है।

दिल्ली विधानसभा चुनाव सर पर है और इस वक्त विपक्ष पार्टियां एक दूसरे पर हमलावर हैं। पार्टियों के बीच शाहीन बाग का मुद्दा हर रोज गर्मा रहा है। दिल्ली के शाहीन बाग इलाके में पिछले एक महीने से नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन चल रहा है।

शाहीन बाग के मसले पर उन्होंने कहा कि लिखकर ले लो शाहीन बाग के रास्ते 8 से पहले नहीं बल्कि 9 तारीख को खुल जाएंगे। बीजेपी चाहती ही नहीं है कि रास्ता खुले।

देश में विभिन्न क्षेत्रों में बढ़ रही बेरोजगारी को लेकर कांग्रेस ने केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधा है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला...

पश्चिम बंगाल के हावड़ा में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) युवा इकाई के कार्यकर्ताओं की गणतंत्र दिवस के मौके पर पुलिसकर्मियों के साथ झड़प हो गई। बीजेपी यूथ विंग के कार्यकर्ता गणतंत्र दिवस के दौरान भारत माता की पूजा का आयोजन कर रहे थे।

बॉलीवुड में बहुत से कलाकारों को पद्मश्री से नवाज़ा गया है। अब इस लिस्ट में एक और कालकार का नाम जुड़ने वाला है। केंद्र सरकार ने संगीतकार और गायक अदनान सामी को पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित करने का ऐलान कर दिया है।

 इस बार के दिल्ली विधानसभा चुनाव में बड़ी संख्या में अमीर उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं। ये लोग पूरी कोशिश कर रहे हैं कि उनकी पार्टी बहुमत के जादुई आंकड़े तक पहुंच जाए। साल 2015 के विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी, भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस  के 143 उम्मीदवारों के पास एक करोड़ रुपये या उससे अधिक की संपत्ति थी। लेकिन, इस बार 11 फीसदी की वृद्धि के साथ ऐसे उम्मीदवारों की संख्या 164 हो गई है।