bjp

महाराष्ट्र में राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी की तरफ से राष्ट्रपति शासन की सिफारिश को केंद्रीय कैबिनेट ने मंजूरी दे दी है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की मंजूरी के बाद प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लग जाएगा।

महाराष्ट्र में पिछले 19 दिनों से राजनीति हलचल में गजब का भूचाल देखा गया है। मतगणना के बाद से ही महाराष्ट्र में सरकार निर्माण को लेकर सभी राजनीति पार्टियों के नये-नये वादे और दावे देखे गये।

महाराष्ट्र के बाद अब विधानसभा चुनाव से पहले झारखंड में बीजेपी को बड़ा झटका लगा है। प्रदेश में बीजेपी की अगुवाई वाले एनडीए में फूट पड़ गई है। रामविलास पासवान की पार्टी लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) ने झारखंड विधानसभा चुनाव में बीजेपी से अलग होकर चुनाव लड़ने का ऐलान किया है।

महाराष्ट्र में सत्ता की लड़ाई चरम पर पहुंच चुकी है। प्रदेश में बीजेपी के सरकार बनाने से इंकार करने के बाद राज्यपाल के द्वारा पहले शिवसेना और अब राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) को सरकार बनाने के लिए न्योता दिया गया है।

हिदुत्व की राजनीति करने वाली बीजेपी और शिवसेना के रास्त अब लगभग अब अलग हो चुके हैं। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद पर अड़ी शिवसेना के सांसद अरविंद सावंत ने मोदी मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया है।

बीजेपी पर हमला करते हुए शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा है कि दोनों पार्टियों के बीच गठबंधन टूटने की जिम्मेदारी शिवसेना नहीं बल्कि बीजेपी की बनती है। बीजेपी ने ही आज महाराष्ट्र को इस स्थिति में भेजा है।

इस दौरान भाजपा के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि  झारखंड में रघुवर दास जी के नेतृत्व में और मोदी जी के राष्ट्रीय नेतृत्व में सभी सरकारी योजनाओं के माध्यम से झारखंड की तस्वीर और तकदीर बदली है।

उत्तराखंड में भारतीय जनता पार्टी के सांसद तीरथ सिंह रावत की गाड़ी हादसे का शिकार हो गई। उन्हें हरिद्वार के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया। सिंह की हालत अब स्थिर है और उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया है।