flood

केरल, कर्नाटक, आंध्रप्रदेश, महाराष्ट्र और गुजरात में बारिश और बाढ़ का कहर बना हुआ है जिस वजह से 241 लोगों की जान जा चुकी है। मौसम विभाग ने राजस्थान, पंजाब, हिमाचल प्रदेश और मध्य प्रदेश में भी भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है।

देश के बहुत से राज्य भीषण बारिश से जूझ रहे हैं। उत्तराखंड समेत देश के कई हिस्सों में बारिश और बाढ़ का प्रकोप जारी है। हर तरफ बारिश और बाढ़ का कहर बना हुआ है चाहे वो पहाड़ी क्षेत्रों हो या मैदानी भागों हर जगह स्थिति जानलेवा बनी हुई है। पहाड़ी राज्यों में भूस्खलन और बारिश की खबरें सामने आ रही हैं।

देश के कई राज्यों जैसे केरल, कर्नाटक, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, उत्तराखंड, राजस्थान बाढ़ की चपेट में आ चुका है। भयंकर बाढ़ की वजह से अब तक 238 लोगों की मौत हो चुकी है। बाढ़ से बेहाल केरल में सबसे ज्यादा 92 लोगों की मौत हुई है।

वैसे सिर्फ पाकिस्तान ही नहीं भारत के भी कई राज्यों में भारी बारिश की वजह से तबाही मची हुई है। बाढ़ और भारी बारिश की वजह से कई लोगों की मौत हो गयी है, जबकि कई लोग लापता हो गए हैं। देश के हर कोने में राहत कार्य जारी है।

केरल, कर्नाटक, गुजरात और महाराष्ट्र में कुदरत ने तबाही मचा रखी है। कुदरत का ऐसा हमला हुआ है कि दक्षिण डूब रहा है और पश्चिम तक हाहकार और चीखपुकार मची हुई है। देश के नौ राज्यों में बाढ़ से अब तक 221 लोगों की जान जा चुकी है। इसके साथ ही सैकड़ों लोग लापता हैं।

देश के कई राज्यों में बाढ़ और बारिश से हाहाकार मचा हुआ है। बाढ़ और बारिश ने तबाही मचा कर रख दी है। केरल, कर्नाटक, गुजरात और महाराष्ट्र में कुदरत ने तबाही मचा रखी है। कुदरत का ऐसा हमला हुआ है कि दक्षिण डूब रहा है और पश्चिम तक हाहकार और चीखपुकार मची हुई है।

बारिश और बाढ़ से प्रभावित कर्नाटक, केरल, महाराष्ट्र व मध्यप्रदेश में हालात बहुत खराब हो गए है। बाढ़ चार राज्यों में इस प्राकृतिक आपदा में अब तक 125 लोगों की मौत हो चुकी है। कर्नाटक में बाढ़ से सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है। महाराष्ट्र के सांगली में भी हाहाकार मचा हुआ है।

देश के कई राज्यों में बारिश और बाढ़ से हाहाकार मचा हुआ है। केरल, गुजरात, कर्नाटक, महाराष्ट्र में अब तक 108 लोगों ने अपनी जान गवां दी है। सिर्फ केरल में ही मृतक संख्या 42 हो गई है, वहीं करीब एक लाख लोगों को राज्य के बाहर 800 से अधिक राहत शिविरों में भेजा गया है।

यही नहीं, भारी बारिश के कारण रेल, सड़क और हवाई यातायात भी काफी प्रभावित है। सरकार इससे निपटने के इंतजाम में लगी हुई है। महाराष्ट्र में भी अब तक 29 लोगों की मौत हो चुकी है। यह संख्या शुक्रवार को और बढ़ गयी। कोल्हापुर में 34 राहत दल और सांगली में 36 राहत दल काम कर रहे हैं।

केरल में भीषण बारिश का कहर लगा तार जारी है। एर्नाकुलम, त्रिशूर, पठानमथिट्टा, मलप्पुरम जिलों में बीती रात भारी बारिश हुई। जिस वजह से कई घरों में पानी भर गया। मलप्पुरम और कोझीकोड को जोड़ने वाली प्रमुख सड़कें जल भराव के कारण बंद हैं।