ISI

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। तिलमिलाया पाकिस्तान और उसकी खुफिया एजेंसी आईएसआई लगातार भारत के खिलाफ साजिश रच रही है।

जम्मू- कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद से पाकिस्तान पूरी तरह से बौखलाया हुआ है। वह भारत में अशांति फैलाने की साजिशें रच रहा है। भारतीय खुफिया एजेंसी को पाकिस्तान की ऐसी ही बड़ी साजिश का पता चला है।

दिवाली से पहले सीमा पर भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ गया। पाकिस्तान लगातार सीजफायर का उल्लंघन कर रहा है जिसका भारतीय सेना करारा जवाब दे रही है। हाल ही सेना ने पीओके में कई आतंकी कैंपों, आतंकियों और पाक रेंजर्स को ढेर कर दिया था।

5 अगस्त, 2019 को केंद्र की मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 को कमजोर कर दिया था। इसके बाद से पाकिस्तान काफी तिलमिलाया हुआ है और वह लगातार भारत के लिए दिक्कतें पैदा कर रहा है।

पंजाब में खलिस्तानी आतंकी मॉड्यूल के बारे में बड़ा खुलासा हुआ है। राज्य के तरनतारन में पिछले दिनों हुए धमाके के बाद चल रही जांच में कई बड़े खुलासे हुए हैं। ड्रोन के जरिए हथियारों की सप्लाइ की गई थी।

इस दौरान इमरान ने ISI के बारे में कहा कि वह दुनियाभर के मुस्लिमों को बुलाकर उनको आतंकी बनाता है। वह पहले से ऐसा करता आ रहा है। इमरान ने ट्रंप की ओर इशारा करते हुए कहा कि यह बात वर्ल्ड लीडर को समझ आती कि पाकिस्तान में कट्टरता कैसे आई।

बीएसएफ ने भारत-पाक अंतरराष्ट्रीय सीमा को पार कर आए एक युवक को गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है कि तारबंदी को पार करके भारत आए किशोर ने पूछताछ में कई राज उगले हैं।

धारा-370 हटने के बाद से ही पाकिस्तान अपने फैसलों में ही फंसता जा रहा है । कुछ ऐसा ही बेतुका फैसला लेते हुए एक बार फिर पाकिस्तानी सेना और खुफिया एजेंसी, इंटर सर्विसिस इंटेलिजेंस ने आतंकी संगठनों को निर्देश दिया है कि वे जम्मू एवं कश्मीर में प्रमुख धर्मस्थलों को निशाना बनाएं।

जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाने के बाद देश की खुफिया एजेंसी इंटेलीजेंस ब्यूरो ने दिल्ली पुलीस को एनसीआर में एक बड़े आतंकवादी का अलर्ट जारी किया है।

सिंह ने ये भी कहा कि मोदी राज में न तो नौकरियां हैं और अर्थव्यवस्था बिगड़ रही है। ऐसे में सब कुछ छोड़कर मोदी को अर्थव्यवस्था पर ध्यान देना चाहिए। बता दें, ये पहला मौका नहीं है जब सिंह की ओर से इस तरह का विवादित बयान आया हो।