kashmir

दुश्मन देश पाकिस्तान की तरफ से लगातार सीज़फायर उल्लघन करता आया है। इसी बीच बड़ी खबर है कि बारामूला के सोपोर इलाके में सुरक्षा बलों ने 5 संदिग्ध आतंकियों को दबोचा है।

जम्मू-कश्मीर के किश्तवाड़ में एक दर्दनाक हादसा हुआ है। खबर है कि यह भीषण घटना टैक्सी के खाई में गिरने से हुआ है। इस हादसे में 12 लोगों की घटनास्थल पर ही मौत हो गई, जबकि कई लोग घायल हुए हैं।

कश्मीर घाटी में बृहस्पतिवार को हजारों लोगों ने सड़कों पर आकर कर शांतिपूर्ण आंदोलन को बंद करने की पुलिस की कार्रवाई पर विरोध प्रदर्शन जताया। घाटी में ये शांतिपूर्ण आंदोलन 22 अक्टूबर को हुआ था।

5 अगस्त, 2019 को मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटा लिया था। संसद की सिफारिश पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने आर्टिकल 370 को प्रभावी रूप से खत्म कर दिया था।

मोदी सरकार अगर कश्मीर की ओर अंतरराष्ट्रीय ध्यान खींचना चाहती थी और अगर सरकार मानती है कि कश्मीर में हालात सामान्य हैं तो उनको पहले देश की संसद के प्रतिनिधियों को कश्मीर भेजना चाहिए था, ताकि वह वहां की स्थिति का जायजा ले सकें।

कश्मीर के हाल देखने के लिए इधर से 23 यूरोपीय सांसद श्रीनगर पहुंचे और उधर कुलगाम में आतंकवादियों ने पांच मजदूरों की हत्या कर दी।

आतंक फैलाने में असफल हो रहे आतंकी कश्मीर घाटी में अब डर पैदा करने के लिए गैर-प्रांतीय लोगों को निशाना बना रहे हैं। इसमें सेब कारोबारी, ट्रक के चलाने वाले यहां तक काम करने वाले मजदूर भी शामिल हैं।

दुश्मन देश पाकिस्तान ने एकबार फिर परमाणु हमले की धमकी दी है। इमरान खान सरकार के एक मंत्री ने भारत को एकबार फिर परमाणु युद्ध की धमकी दी है। कश्मीर और गिलगित-बाल्टिस्तान मामलों के मंत्री अली अमीन गंडापुर ने कहा, 'अगर भारत के साथ कश्मीर को लेकर तनाव बढ़ता है तो पाकिस्तान युद्ध के लिए मजबूर हो जाएगा।