kids

भगवान शिव को भोला भंडारी भी कहते हैं। मान्यता है कि शिव जी को प्रसन्न करने के लिए  बहुत सारी चीजों की जरूरत नहीं होती, बल्कि सच्चे मन और भाव से दिया गया एक फूल भी भगवान आशुतोष को प्रसन्न कर सकता है।इस बार महाशिवरात्रि 21  फरवरी को मनाई जा रही है।

बच्चों के लिए अपने मम्मी पापा ही सब कुछ होते हैं। पापा हर बच्चे का हीरो उसके पापा होते हैं। अच्छा पिता बनना आसान नहीं है क्योंकि जब एक पिता बनते हैं तो पुरानी बहुत सी आदतों में बदलाव लाने होते हैं।एक अच्छा पिता बनना आसान नहीं है।

सर्दी का मौसम है।  और इस समय जो सर्दी है उसमें अगर खुद का और बच्चों का ध्यान नहीं रखा जाएं तो बीमारी दस्तक देना लाजिमी है।  इसलिए सर्द हवाओं वाली सर्दी में बच्चों का विशेष ध्यान रखने की आवश्यकता है। बच्चों प्यार से संभालने की जरूरत है

बारिश का मौसम है। जो लोग बारिश में घूमने का मजा लेना चाहते है। घूमने का मजा लेते हैं लेकिन कुछ लोग ऐसे भी है जो बरसात मे घूमना चाहते तो है लेकिन अपने बच्चों की वजह से कहीं नहीं जा पाते हैं तो वो भी घूमने का मजा ले सकते है। जानते है कैसे लें बच्चों के साथ घूमने का असली मजा...

अधिकतर पैरेंट्स की दिल से इच्छा होती है कि उनका बच्चा हर क्षेत्र में टॉपर हो। इसके कुछ पैरेंट्स तो बच्चे के जन्म के साथ ही यथा शक्ति तैयारी शुरु कर देते है। बच्चो के बड़े होते ही तरह तरह की किताबे लाने लगते है ताकि उनका बच्चा कुछ सीखे व जानें। स्कूल जाने से पहले घर में ही पढ़ाई शुरु कर देते हैं।

बच्चों के कमरे के वास्तु का भी ध्यान रखना चाहिए। बच्चों के कमरे की सजावट उनके अनुकूल होना जरूरी है, तभी वे निरोगी रहेंगे। बच्चों के कमरे में रोशनी और प्राकृतिक उजाले का होना बहुत जरूरी है।

ये बचपन भी थोड़ा अजीब है कंधों पर किताबों का नहीं जीवन का बोझ है। ना कोई उल्लास है ना कोई रोमांच है, आंखों में नींद नहीं, पेट में अजब सी आग है हाथों में खिलौने हैं ना आंखों में खेलने  की ललक इन्हें तो अपने समान ही बच्चों को खिलाने का काम है। बाल …

स्मार्टफोन रिबूट होने के बाद रिलॉक होना या फोन कॉल के साथ ही टेक्स्ट मैसेज का ब्लॉक कर पाना इसके कुछ खास फीचर्स हैं। बच्चा यदि जरूरत से ज्यादा इंटरनेट का उपयोग करता है तो इस एप्लिकेशन से उसको भी ब्लॉक किया जा सकता है।

जयपुर: काम की वजह से माता  पिता बच्चों को समय नहीं दे पाते है जिसकी वजह से उनके रिश्तों में दूरियां आने लगती है। ऐसे में बड़ों को चाहिए कि अपने बच्चों के लिए समय निकाले और उनकी मनपसंद चीजें करें। इसके लिए बच्चों के एग्जाम के बाद छुट्टियों से बेहतर कोई समय हो नहीं …

जयपुर: जब तक आपका बच्चा छोटा है उसे कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है। कभी-कभी वह अचानक से रोने लगता है ,उसके रोने का कारण जानना में के लिए जरूरी होता हैं।बच्चों के रोने का कारण पेट में दर्द  का होना होता हैं। कभी उसे भूख लगी होती हैं ,तो कभी अधिक दूध पी …