prime minister narendra modi

पूरी राजनीति से दूर यज्ञ और पूजन करने वाले पंडित लोकेश शास्त्री का कहना है कि यज्ञ का आयोजन हरचंदपुर से कांग्रेस के विधायक राकेश सिंह कर रहे हैं।

प्रधानमंत्री मोदी के बचपन का काफी हिस्सा इसी चाय की दुकान पर बीता है। यही वजह है कि पीएम मोदी अक्सर ही अपनी रैलियों में इस चाय की दुकान का फिक्र करते रहे हैं।

ऐसा नहीं है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पहले कोई नेहरु जैकेट नहीं पहनता था। मगर इसे नया लुक और ट्रेंड पीएम मोदी ने दिया है। पीएम मोदी को ये अच्छे से पता है कि इसे परफेक्ट तरीके से कैरी कैसे करना है।

इस बार भारत को कांफ्रेंस ऑफ द पार्टीज की मेजबानी मिली है। यह कार्यक्रम 2 सितंबर से शुरू हुआ है और 13 सितंबर तक चलेगा। इसमें दुनियाभर के वैज्ञानिकों और विशेषज्ञों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया।

नई दिल्ली: केंद्र सरकार की नजर बिजली क्षेत्र में सुधारों को आगे बढ़ाने की है। इसमें सबसे पहले नई टैरिफ नीति का कैबिनेट नोट सभी संबंधी मंत्रालयों को भेज दिया गया है। नई टैरिफ नीति से देशभर में ग्राहकों को चौबीसों घंटे बिजली की आपूर्ति सुनिश्चित होगी। बिजली मंत्री आरके सिंह ने इस बात के …

प्रधानमंत्री मोदी के बचपन का काफी हिस्सा इसी चाय की दुकान पर बीता है। यही वजह है कि पीएम मोदी अक्सर ही अपनी रैलियों में इस चाय की दुकान का फिक्र करते रहे हैं। पीएम मोदी ने 2014 लोकसभा चुनावों के दौरान भी अपनी इस चाय की दुकान का जिक्र किया था।

'मन की बात' में पीएम मोदी ने पिछले महीने 28 जुलाई को चंद्रयान-2 को लेकर बातचीत की थी। उन्होंने हरियाणा और मेघालय में जल संरक्षण को लेकर भी चर्चा की थी। यही नहीं, पीएम मोदी ने बच्चों की रुचि विज्ञान के प्रति बढ़ाने के लिए क्विज कॉम्पीटिशन का जिक्र भी अपने भाषण के दौरान किया था।

दोनों नेता बातचीत करेंगे। साथ ही, रविवार को पीएम मोदी और शेख हमाद बिन इसा अल खलीफा जी7 शिखर बैठकों में शामिल होने के लिए फ्रांस लौटेंगे। इससे पहले दोनों नेता खाड़ी क्षेत्र में सबसे पुराने श्रीनाथजी के मंदिर के पुनरुद्धार की औपचारिक शुरुआत के गवाह भी बनेंगे।

उन्होंने कहा कि तीन तलाक को खत्म करना आसान नहीं था। मोदी सरकार सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद बिल लेकर आई। लोकसभा में बीजेपी का बहुमत था हमने पास कराया। पर राज्यसभा में कांग्रेस का बहुमत था उन्होने बिल को गिराया।

वैसे रिलायंस की एनुअल जनरल मीटिंग में रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी का साथ देने उनकी पत्नी नीता अंबानी तो मौजूद थीं। साथ में, अंबानी का हौसला बढ़ाने के लिए एनुअल जनरल मीटिंग में उनकी मां कोकिलाबेन अंबानी भी शामिल हुईं।