terrorism

सूफ़ी संत ख्वाजा मोईनुद्दीन हसन चिश्ती के वंशज और अजमेर दरगाह के प्रमुख दीवान सैयद ज़ैनुल आबेदीन अली खां ने पकिस्तान को आतंकी पनाहगार बताया

पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने शनिवार को कहा कि देश और क्षेत्र में शांति सुनिश्चित करने के लिए आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई को पाक और मजबूती प्रदान करेगा।

ऑपरेशन मां' शुरू करने वाले लेफ्टिनेंट जनरल कंवर जीत सिंह (केजेएस) ढिल्लों बताते हैं कि इससे काफी युवकों को वापस लाया गया है और अभियान बहुत ज्यादा सफलता बटोर चुका है।

गृह मंत्री ने पिछले पांच वर्षों में आतंकी मॉड्यूल्‍स का खुलासा करने में खुफिया ब्‍यूरो द्वारा किए गए कार्य का विशेष रूप से उल्‍लेख करते हुए वर्षों से पूर्वोत्‍तर विद्रोह से बहुत प्रभावी रूप से निपटने के लिए भी खुफिया ब्‍यूरो की सराहना की।

पाकिस्तान ने इस बार संयुक्त राष्ट्र की संस्था यूनेस्को में कश्मीर का मुद्दा तो उठाया ही साथ ही अयोध्या फैसले का मुद्दा भी यूनेस्को में रखा।

आतंकवाद एक ऐसा मुद्दा है जो शायद कभी खत्म नहीं होगा। आए-दिन बताया जाता है यहां आतंकी पकड़ा गया या वहां पकड़ा गया।

भारत में जिन आतंकियों को दिल्ली व जम्मू कश्मीर में आतंकी हमला करने का जिम्मा सौंपा गया है उनका हैंडलर पाकिस्तानी है। जैश के आतंकी कश्मीर के रास्ते जम्मू कश्मीर व दिल्ली में घुस चुके हैं। खुफिया विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक आईएसआई ने इस बार भारत में आतंकी हमले की जिम्मेदारी जैश ए मोहम्मद को दी है।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सूरत में आयोजित एक कार्यक्रम में पाकिस्तान पर जमकर हमला बोला। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि पाकिस्तान ने अगर आतंकवाद का साथ देना नहीं छोड़ा तो उसके टुकड़े होने से कोई नहीं रोक सकता।

आजमगढ़ की पहचान ऋषियों-मनीषियों की तपोस्थली और विद्वानों-साहित्यकारों की जन्मस्थली से थी, उस आजमगढ़ को आतंकगढ़ और आतंकियों की नर्सरी कहा जाने लगा। अपने ऊपर लगे इस बदनुमा दाग से आजमगढ़ जहां मर्माहत हुआ, वहीं यहां के युवाओं के लिए गैरजनपदों व गैरप्रान्तों में रोजगार के रास्ते भी बन्द हो गये। पूरे देश में यहां के लोगों को शक-संदेह की दृष्टि से देखा जाने लगा।

कश्मीर को लेकर पाक की ओर से लगातार नापाक हरकतों को अंजाम दिया जा रहा है। पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान और उनके मंत्री भी भारत को हर तरह के हमले की धमकी देते रहते हैं। हालांकि, भारत को उसकी धमकियों से फर्क नहीं पड़ता है। ये बात पाक को नहीं समझ आ रही है।