Top

कमलेश तिवारी हत्याकांड: ATS ने किया बड़ा खुलासा, 3 आरोपी गिरफ्तार, दो फरार

हिंदू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी की हत्या मामले को एटीएस ने सुलझा लिया है। गुजरात एटीएस ने 3 आरोपियों को सूरत से गिरफ्तार कर लिया है। मिली जानकारी के मुताबिक कमलेश तिवारी की हत्या में 5 लोग शामिल थे।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 19 Oct 2019 3:49 AM GMT

कमलेश तिवारी हत्याकांड: ATS ने किया बड़ा खुलासा, 3 आरोपी गिरफ्तार, दो फरार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: हिंदू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी की हत्या मामले को एटीएस ने सुलझा लिया है। गुजरात एटीएस ने 3 आरोपियों को सूरत से गिरफ्तार कर लिया है। मिली जानकारी के मुताबिक कमलेश तिवारी की हत्या में 5 लोग शामिल थे। जिन दो लोगों ने हिंदूवादी नेता की हत्या की वह अभी फरार हैं। आरोपियों की पहचान कर ली गई है।

बता दें कि शुक्रवार को उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में हिंदू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी की गला रेतकर हत्या कर दी गई। बदमाशों ने कमलेश तिवारी की उनके कार्यालय में ही हत्या की थी।

यह भी पढ़ें...कमलेश तिवारी मर्डर: सोशल मीडिया पर फूटा लोगों का गुस्सा, पढ़ें किसने क्या कहा?

एटीएस सीसीटीवी फुटेज, हत्या के वक्त इस्तेमाल किया गया मोबाइल नेटवर्क और सूरत के मोबाइल नेटवर्क को खंगाला रही है ताकि और जानकारी मिल सके।

इसके अलावा अहमदाबाद, भरुच और सूरत से कुछ अन्य लोगों को भी हिरासत में लिया गया है, इन के साथ पूछताछ जारी है। अबतक की जानकारी के मुताबिक कमलेश तिवारी हत्याकांड की साजिश सूरत में रचे जाने की संभावना है।

गुजरात के सूरत के एक दुकान से मिठाई खरीदते हुए दो संदिग्धों की तस्वीर भी सामने आई है। तस्वीर में मिठाई खरीद रहे दो युवक एक साथ दिख रहे हैं। एक युवक ने नीली रंग की शर्ट पहन रखी है, तो दूसरे युवक ने ग्रे कलर की टी शर्ट पहनी है।

गुजरात एटीएस ने हत्याकांड में जिन तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। उनके नाम शमीम पठान, फैजान पठान और मोहसिन शेख है। मोहसिन शेख पेशे से मौलवी है।

यह भी पढ़ें...हाई अलर्ट पर सेना: पाकिस्तान घाटी में रच रहा बड़े हमले की साजिश

सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के मुताबिक यूपी पुलिस ने गुजरात एटीएस के साथ खुफिया जानकारियां साझ की है। गुजरात एटीएस और यूपी पुलिस संपर्क में है। यूपी से सभी इनपुट साझा कर दिए गए हैं।

सूत्रों ने बताया कि पुलिस इस हत्याकांड में स्थानीय लोगों के शामिल होने की भी जांच कर रही है। घटनास्थन के पास से मिले CCTV फुटेज में दो युवकों के साथ एक महिला भी जाती हुई दिख रही है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि हत्यारों को कमलेश तिवारी के घर तक ले जाने और हत्या करने के बाद उन्हें भगाने में स्थानीय ने मदद की होगी।

यह भी पढ़ें...हिंदू नेता हत्याकांड: बहुत बड़ा खुलासा, ISIS के निशाने पर थे कमलेश तिवारी

हमलावर भगवा कपड़े पहने हुए थे और हाथ में मिठाई का डिब्बा लेकर उनके कार्यालय पहुंचे थे। हत्यारों ने मिठाई के डब्बे में ही चाकू और असलहे को छिपाकर रखा था।

यह भी पढ़ें...कौन हैं कमलेश तिवारी और कैसे आये थे चर्चा में? यहां पढ़ें पूरी डिटेल

इस हत्या मामले में सूरत कनेक्शन सामने आया था। सूरत की मिठाई के डिब्बे में हथियार छिपाकर लाए थे। डिब्बा सूरत के नामचीन धरती ब्रांड की मिठाई दुकान का था। इस मामले में सीसीटीवी फुटेज सामने आया है जिसमें भगवा कुर्ता पहने आरोपियों के साथ एक महिला भी नजर आ रही है।

यह भी पढ़ें...हिन्दू समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष की हत्या का यहां जानें पूरा मामला

कमलेश तिवारी हत्या मामले में एक और जानकारी सामने आई है कि वह इस्लामिक स्टेट(आईएसआईएस) आतंकियों के निशाने पर भी थे। हिंदूवादी नेता कमलेश तिवारी का नाम गुजरात एटीएस के हत्थे चढ़े आतंकियों से पूछताछ में आया था। पकड़े गए आंतकी उबेद मिर्जा और कासिम ने पूछताछ में कमलेश तिवारी का नाम लिया था। दोनों आतंकियों को अक्टूबर 2017 में गुजरात से दबोचा गया था।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story