धमाके से हिली दुनिया: 100 लोगों के हो गए टुकड़े-टुकड़े, हजारों की जान खतरे में

राजधानी बेरूत में इजरायल से संघर्ष हुआ, युद्ध हुआ और आतंकी हमलों भी तमाम हुए, लेकिन मंगलवार को जो धमाका हुआ, वैसा धमाका इससे पहले कभी नहीं देखा गया। इस हादसे से शहर में हर तरह तबाही का मंजर नजर आ रहा है।

lebnan blast

धमाके से हिली दुनिया: 100 लोगों के हो गए टुकड़े-टुकड़े, हजारों की जान खतरे में

बेरूत। राजधानी बेरूत में इजरायल से संघर्ष हुआ, युद्ध हुआ और आतंकी हमलों भी तमाम हुए, लेकिन मंगलवार को जो धमाका हुआ, वैसा धमाका इससे पहले कभी नहीं देखा गया। इस हादसे से शहर में हर तरह तबाही का मंजर नजर आ रहा है। मरने वालों का तो पता ही नहीं, और घायलों को इलाज के लिए अस्पतालों में बेड तक नहीं मिल रहे। यहां का माहौल किसी जंग के बाद का जैसा दृश्य है। धमाके से अब तक कम से कम 100 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं 4000 से ज्यादा लोग अस्पतालों में भर्ती हैं।

ये भी पढ़ें… आतंकियों से कांपा देश: मचा दिया कोहराम, 12 लोगों की मौत

इतनी तबाही कभी नहीं देखी

बेरूत में हुआ ये धमाका इतना भयानक था, कि इसका अंदाजा बेरूत के गवर्नर मारदन अबोद के बयान से लगाया जा सकता है। वे रोते हुए बोले, ‘जैसा जापान के हिरोशिमा और नागासाकी में हुआ, मुझे वैसा ही महसूस हुआ। जिंदगी में इतनी तबाही कभी नहीं देखी।’

इस धमाके की गूंज 160 किलोमीटर दूर साइप्रस तक सुनाई दी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस घटना पर गहरा दुख जताया है। बता दें, यह धमाका बेरूत बंदरगाह के पास स्थित एक गोदाम में हुआ।

ये भी पढ़ें…बादल फटने से तबाही: ठप हुआ यातायात, बाढ़ के चलते ऐसे हो गए हालात

 

बेरूत में हुआ ये धमाका इतना भयानक
बेरूत में हुआ ये धमाका इतना भयानक

बिना किसी सुरक्षा इंतजाम के

राष्ट्रपति मिशेल ओउन ने कहा कि 2014 में एक जहाज से जब्त 2,700 टन अमोनियम नाइट्रेट यहां रखा हुआ था। इसका इस्तेमाल फर्टिलाइजर और बम बनाने में किया जाता है। बिना किसी सुरक्षा इंतजाम के, यह छह साल तक यूं ही पड़ा रहा। ऐसी लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जा सकती।

लेकिन अभी भी यह स्पष्ट नहीं है कि आग कैसे लगी, जिससे बाद में धमाका हुआ। एक अंदाजा लगाया जा रहा है कि आग वेल्डिंग की चिंगारी से भड़की। वहीं, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि हमारे सैन्य अधिकारियों का अनुमान है कि यह कोई दुर्घटना नहीं थी। यह किसी बम हमले का नतीजा हो सकता है।

ये भी पढ़ें…किसानों की रेलगाड़ी: रेलवे शुरू की ये विशेष पार्सल ट्रेन, यहां देखें बुकिंग के तरीके

बेरूत में हुआ ये धमाका इतना भयानक
बेरूत में हुआ ये धमाका इतना भयानक

हेल्पलाइन नंबर जारी

संकटग्रस्त इन हालातों में राजधानी बेरूत में लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की गई है। वहीं, भारतीय एंबेसी ने बेरूत में फंसे लोगों के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किया है।

ऐसे में बेरूत में हुए धमाकों को लेकर भारतीय दूतावास की ओर से कहा गया है कि सभी संयम बनाए रखें। साथ ही अगर किसी भी भारतीय को मदद की जरूरत हो तो वो दूतावास के हेल्पलाइन नंबर 01741270, 01735922, 01738478 पर संपर्क कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें…मोदी ने रचा इतिहास: भूमि पूजन से पहले किया ये काम, 1991 में दिया था ये वचन

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App