कोरोना का नया खुलासा: 239 वैज्ञानिकों ने WHO को दी बड़ी चेतावनी, कही ये बात

इस वक्त पूरी दुनिया कोरोना वायरस को लेकर जंग लड़ रहा है। इस बीच दुनियाभर के 239 वैज्ञानिकों ने विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) को पत्र लिखकर चेतावनी दी है।

नई दिल्ली: इस वक्त पूरी दुनिया कोरोना वायरस को लेकर जंग लड़ रहा है। इस बीच दुनियाभर के 239 वैज्ञानिकों ने विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) को पत्र लिखकर चेतावनी दी है। इन वैज्ञानिकों का कहना हैकि कोरोना वायरस हवा में भी मौजूद रहता है। साइंटिस्ट्स ये बात आने वाले समय में जर्नल में प्रकाशित करना चाहते थे, लेकिन इससे पहले ही ये बात मीडिया में लीक हो गई। अब 32 देशों के इन वैज्ञानिकों ने संगठन से गाइडलाइंस बदलने की मांग की है।

यह भी पढ़ें: कानपुर से बड़ी खबर: मुठभेड़ के शहीद पुलिसकर्मियों को लेकर पत्र, सीएम को दिया ये सुझाव

हवा में मौजूद मामूली कणों से भी लोग कोरोना से हो सकते हैं संक्रमित

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन को लिखे खत में साइंटिस्ट्स ने कहा कि हवा में मौजूद मामूली कणों से भी लोगों में संक्रमण फैल रहा है। वैज्ञानिकों का मानना है कि कोरोना वायरस लंबे समय तक हवा में मौजूद रह सकते हैं और यह कई मीटर तक सफर करके आसपास के लोगों को अपनी चपेट में ले सकते हैं।

यह भी पढ़ें: 15 मिनट में दो राज्य थरथराए: भूकंप से कांपा गुजरात-मिजोरम, सहमे गए लोग

ऐसे लोगों को बरतनी होगी अतिरिक्त सावधानी

अगर साइंटिस्ट्स का ये दावा सच हुआ तो बंद कमरे या ऐसी दूसरी जगहों पर संक्रमण तेजी से फैल रहा होगा। ऐसे में ऐसी जगहों पर काम करने के लिए लोगों को अतिरिक्त सावधानी बरतनी होगी। वहीं अगर ये बात सच है तो बस में यात्रा करना भी खतरनाक साबित हो सकता है। क्योंकि बस में दो मीटर की दूरी पर बैठने पर भी लोगों को कोरोना वायरस हो सकता है।

यह भी पढ़ें: एक्टर का बिजली संकट: यहां सुनाया अपना दुखड़ा, कंपनी ने दिया ये जवाब

वैज्ञानिक ने कहा हम इसे लेकर 100 पर्सेंट आशवस्त हैं

विश्व स्वास्थ्य संगठन को पत्र लिखने वाले वैज्ञानिकों की टीम में शामिल ऑस्ट्रेलिया की क्वींसलैंड यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी की प्रोफेसर लिडिया मोरावस्का ने कहा कि हम इस बात को लेकर 100 प्रतिशत आशवस्त हैं। वहीं अब वैज्ञानिकों के नए दावे को ध्यान में रखते हुए संगठन को अपनी गाइलाइंस को बदलना पड़ सकता है।

यह भी पढ़ें: रक्षा मंत्री का बड़ा बयान, अस्पताल हो या बॉर्डर हम हमेशा तैयार

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।