ट्रंप का फर्जीवाड़ा: आज सच आया सबके सामने, खुद की भतीजी ने बताई ये बात

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की जिंदगी से जुड़े राज खोलने वाली किताबों का आना जारी है। इन किताबों के जरिए ट्रंप के कई राज खुलकर सामने आ रहे हैं।

वाशिंगटन: अमेरिका में इस साल के अंत में राष्ट्रपति चुनाव होने वाले हैं। इसके लिए नेताओं की तैयारियां भी जोरो-शोरो पर है। इस बीच लगातार राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की जिंदगी से जुड़े राज खोलने वाली किताबों का आना जारी है। इन किताबों के जरिए ट्रंप के कई राज खुलकर सामने आ रहे हैं। अब उनके भतीजी मैरी ट्रंप ने अपनी किताब में यह दावा किया है कि ट्रंप ने कॉलेज एडमिशन के लिए फर्जीवाड़ा किया था।

अपनी जगह किसी और को बैठाया एग्जाम में

उन्होंने पैसे देकर अपनी जगह किसी और को परीक्षा देने भेज दिया था। ‘टू मच ऐंड नेवर इनफ: हाऊ माई फैमिली क्रिएटेड द वर्ल्ड्स मोस्ट डेंजरस मैन’ में दावा किया गया है कि डोनाल्ड ट्रंप उस दौरान हाईस्कूल के स्टूडेंट थे और कॉलेज एडमिशन के लिए उन्हें अच्छे नम्बर चाहिए थे।

यह भी पढ़ें: SBI का बड़ा ऐलान: करोड़ों ग्राहकों को दिया ये शानदार तोहफा, आ गई खुशियां

बेस्ट सेलर की लिस्ट पर नंबर वन पर है किताब

मैरी ट्रंप की किताब ‘टू मच ऐंड नेवर इनफ: हाऊ माई फैमिली क्रिएटेड द वर्ल्ड्स मोस्ट डेंजरस मैन’ पहले 28 जुलाई को रिलीज होने थी, लेकिन अब यह 14 जुलाई को ही रिलीज की जाएगी। पब्लिशर्स के मुताबिक, ज्यादा मांग और लोगों के इंटरेस्ट की वजह से यह किताब पहले ही बेस्ट सेलर की लिस्ट पर नंबर वन पर हो चुकी है।

यह भी पढ़ें: भारत में इस शख्‍स पर होगा कोरोना वैक्सीन का मानव परीक्षण, जानिए इनके बारे में

ट्रंप के पिता करते थे उन्हें प्रताड़ित

डोनाल्ड के बड़े भाई फ्रेड जूनियर की बेटी मैरी ट्रंप ने अपनी किताब में बताया है कि डोनाल्ड ट्रंप को उनके पिता फ्रेडी ट्रंप सीनियर प्रताड़ित करते थे। मैरी ट्रंप ने दावा किया है कि ट्रंप सीनियर को प्यार का मतलब नहीं पता था, वो केवल अपनी आज्ञा का पालन कराना चाहते थे, जो डोनाल्ड ट्रंप को जबरदस्ती करना पड़ता था।

यह भी पढ़ें: UP में दर्दनाक हादसा: 6 लोगों की मौत, कई घायल, खून से सनी सड़क

इसलिए ट्रंप ने दूसरे को एग्जाम में भेजा

मैरी के मुताबिक, ट्रंप को कॉलेज एडमिशन के लिए उन्हें अच्छे नंबर्स की जरूरत थी और उन्हें भरोसा नहीं था कि वे इस एग्जाम को पास कर पाएंगे, इसलिए उन्होंने अपने नंबर पाने के लिए पैसे देकर अपनी जगह किसी और को एग्जान देने के लिए बैठा दिया था। ट्रंप के पास यूनिवर्सिटी ऑफ पेन्सिल्वेनिया के मशहूर वोर्टन बिजनेस स्कूल की डिग्री है।

व्हाइट हाउस ने मैरी के दावों को किया खारिज

वहीं मैरी ट्रंप के इस दावे पर व्हाइट हाउस की काउंसलर केलेनी कॉनी ने कहा कि मैरी क्लिनिकल साइकोलॉजिस्ट हैं लेकिन ट्रंप उनके मरीज नहीं बल्कि उनका परिवार हैं। व्हाइट हाउस की तरफ से पहले भी मैरी के दावों को झूठा करार दिया जा चुका है।

यह भी पढ़ें: खतरनाक प्यार: प्रेमिका के चक्कर में मिली ऐसी दर्दनाक मौत, कांप उठे लोग

ट्रंप परिवार चीटिंग को देता है बढ़ावा

यहीं नहीं मैरी ने यह भी लिखा है कि ट्रंप परिवार में गलतियों की जिम्मेदारी लेना नहीं बल्कि चीटिंग करने को बढ़ावा दिया जाता रहा है। मैरी ने यह भी आरोप लगाया है कि ट्रंप परिवार ने फ्रेड सीनियर की मानसिक हालत का फायदा उठाते हुए उन्हें और उनके भाई फ्रेड ट्रंप- lll को प्रॉपर्टी से बाहर कर दिया। बता दें कि मैरी और फ्रेड के पिता फ्रेड जूनियर की साल 1981 में शराब पीने की वजह से मौत हो गई थी।

यह भी पढ़ें: विकास पर बड़ी कार्रवाई: 68 पुलिसकर्मी पर गिरी गाज, अब नए संभालेंगे कमान

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App