लाखों लोग सड़क पर: जला दी इमारतें और लूट ली दुकानें, मचाया हंगामा

अमेरिका में कोरोना का संक्रमण तो कम होने का नाम ले नहीं रहा है, साथ ही अमेरिका में करीब 25 से ज्यादा शहरों में भयंकर प्रदर्शन, हिंसा, आक्रोश और हंगामा हो रहा है।

नई दिल्ली। अमेरिका में कोरोना का संक्रमण तो कम होने का नाम ले नहीं रहा है, साथ ही अमेरिका में करीब 25 से ज्यादा शहरों में भयंकर प्रदर्शन, हिंसा, आक्रोश और हंगामा हो रहा है। तमाम जगहों पर प्रदर्शन ने दंगे का रूप ले लिया है। दंगों के दौरान लोगों ने पुलिस की गाड़ियों, इमारतों में आग लगा दी और दुकानों से सामान लूटकर अफरा-तफरी मचा दी है।

ये भी पढ़ें… अभी-अभी बड़ा फैसला: अब सील होगा ये पूरा इलाका, मौत का बढ़ा प्रकोप

अमेरिका के ये शहर प्रमुखता से हैं

अमेरिका में नैशविले में कोर्ट की ऐतिहासिक इमारत को दंगों के चलते आग के हवाले कर दिया है। इन हंगामों के दौरान 2 लोगों की मौत भी हो गई। प्रदर्शन में अमेरिका के ये शहर प्रमुखता से हैं- न्यूयॉर्क, लॉस एंजिलिस, कैलिफोर्निया और वॉशिंगटन। हालातों को देखते हुए मिन्नेसोटा और जॉर्जिया राज्य में इमरजेंसी की घोषणा करनी पड़ी।

ऐसे में बीते सोमवार को पुलिस कस्टडी में एक अश्वेत नागरिक जॉर्ज फ्लॉयड की मौत हो गई थी। उसे न्याय दिलाने के लिए ये प्रदर्शन शुरू हुए। यहां हो रहे प्रदर्शन की वजह से अमेरिका में गोरे की तरफ से अश्वेत लोगों पर किए जा रहे अत्याचार का मुद्दा जोर पकड़ता जा रहा है।

ये भी पढ़ें…राशनकार्ड धारकों के लिए खुशखबरी: शुरू हुई राहत देने वाली ये योजना

कर्फ्यू के बाद भी प्रदर्शन खत्म नहीं

बीते शनिवार को प्रदर्शन का पांचवा दिन था। सूत्रों से सामने आई रिपोर्ट के अनुसार, 25 शहरों में दंगे होने की वजह से कर्फ्यू तक लगाना पड़ा। हालांंकि कर्फ्यू के बाद भी प्रदर्शन खत्म नहीं हुए।

अमेरिका में दंगे प्रभावित इन राज्यों में मिन्नेसोटा, जॉर्जिया, ओहियो, कोलोराडो, विस्कोन्सिन, केन्टकी, उटाह, टेक्सास आदि शामिल हैं।

ये भी पढ़ें…भाजपा को लगा झटका: कांग्रेस में शामिल हो रहे अब यहां के पू्र्व सांसद

मौत से ठीक पहले का वीडियो

बात ये है कि अश्वेत नागरिक जॉर्ज फ्लॉयड की मौत से ठीक पहले का एक वीडियो सामने आया था। इस वीडियो में साफ दिखाई दे रहा था कि जॉर्ज जमीन पर गिरे हुए हैं और एक गोरा पुलिसकर्मी उनकी गर्दन को घुटना से दबाए हुए है। इस बीच जॉर्ज कहते हैं कि उन्हें सांस लेने में दिक्कत हो रही है।

वहीं इस वीडियों को लेकर अब अमेरिका में सवाल उठ रहे है कि अश्वेत लोगों पर सालों से हो रहे अत्याचार को खत्म करने के लिए व्यवस्था में बदलाव की बहुत जरूरत है। प्रदर्शनकारियों ने मांग की है कि जॉर्ज फ्लॉयड को गिरफ्तार करने वाले पुलिस कर्मियों पर हत्या का मुकदमा चले।

ये भी पढ़ें…आसमान से हुई मौत की बारिश: कई लोगों ने तोड़ा दम, जिले में मचा हाहाकार

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App