SBI के नियमों में बदलाव! कस्‍टमर्स को राहत देकर लगाया ये चार्ज

त्योहार भरे इस महीने में देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई लगातार अपने नियमों में बदलाव कर रही है। अब खबर आ रही है कि एसबीआई ने बड़ा बदलाव करते हुए लोन पर सीमांत लागत आधारित ब्याज दर (MCLR) में कटौती कर की है। साफ शब्दों में कहें तो, होम या ऑटो लोन पर ब्‍याज दर पहले के मुकाबले अब कम हो गया है।

खाताधारकों सावधान! SBI ने लोगों को किया अलर्ट, अगर करेंगे ऐसा तो...

खाताधारकों सावधान! SBI ने लोगों को किया अलर्ट, अगर करेंगे ऐसा तो...

यह भी पढ़ें.  अरे ऐसा भी क्या! बाथरूम में लड़कियां सोचती हैं ये सब

नई दिल्ली: त्योहार भरे इस महीने में देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई लगातार अपने नियमों में बदलाव कर रही है। अब खबर आ रही है कि एसबीआई ने बड़ा बदलाव करते हुए लोन पर सीमांत लागत आधारित ब्याज दर (MCLR) में कटौती कर की है। साफ शब्दों में कहें तो, होम या ऑटो लोन पर ब्‍याज दर पहले के मुकाबले अब कम हो गया है।

यह भी पढ़ें.  झुमका गिरा रे…. सुलझेगी कड़ी या बन जायेगी पहेली?

दरअसल, ऐसी बात सामने आ रही थी कि एसबीआई से होम लोन लेना सस्‍ता हो गया है, लेकिन अब बैंक ने होम लोन पर ”प्रो‍सेसिंग फीस” एक बार फिर लगा दिया है।

यह भी पढ़ें. लड़की का प्यार! सुधरना है तो लड़के फालो करें ये फार्मूला

आपको बता दें कि एसबीआई के ग्राहकों को लोन की ब्‍याज दर पर कटौती का फायदा तो मिलेगा लेकिन साथ ही साथ प्रो‍सेसिंग फीस का भी बोझ पड़ेगा।

प्रोसेसिंग फीस…

SBI की बल्ले-बल्ले! बंदी से पहले बैंक ने दिया ये बड़ा तोहफा

यह भी पढ़ें. असल मर्द हो या नहीं! ये 10 तरीके देंगे आपके सारे सवालों के सही जवाब

बताते चलें कि एसबीआई ने हाल में ही फेस्टिव ऑफर निकाला था, जिसके मुताबिक 31 दिसंबर 2019 तक तक लोन के लिए कोई प्रोसेसिंग फीस नहीं लेने की बात कही गई थी।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक एसबीआई के नए फैसले के मुताबिक सिर्फ 15 अक्टूबर तक लोन प्रपोजल पर ही इस ऑफर का लाभ उठाया जा सकता है। इसके बाद के लोन पर प्रो‍सेसिंग फीस की छूट का फायदा नहीं उठाया जा सकता है।

आपको बता दें कि बैंक, लोन देने की प्रक्रिया के दौरान प्रोसेसिंग फीस के नाम पर एक खास रकम वसूलते हैं। नये नियम के अनुसार होम लोन पर प्रोसेसिंग फीस 0.40 फीसदी तक हो गई है।

ब्याज दर 0.10 फीसदी कम…

यह भी पढ़ें. बेस्ट फ्रेंड बनेगी गर्लफ्रेंड! आज ही आजमाइये ये टिप्स

ज्ञात हो कि बीते दिनों एसबीआई ने सभी तरह के लोन पर सीमांत लागत आधारित ब्याज दर (MCLR) को 0.10 फीसदी कम कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें. ओह तेरी! पत्नी कहेगी पति से, बिस्तर पर ‘ना बाबा ना’

इस कटौती के बाद 1 साल के लोन का MCLR कम होकर 8.05 फीसदी पर आ गया है, हालांकि यह कटौती रेपो रेट से जुड़े लोन पर प्रभावी नहीं होगी।