भारत की 10 बात! जानकर आपकी आंखे रह जायेंगी खुली की खुली

विश्वगुरू कहा जाने वाला भारत की संस्कार एवं संस्कृति के बारे में भला कौन नहीं जानता हैं। अद्भुत, अद्वितीय भारत एक ऐसा देश जो अपनी खूबसूरती और मेहमान नवाजी के लिए विश्व भर में प्रसिद्ध है।

नई दिल्ली: विश्व गुरु कहा जाने वाला भारत की संस्कार एवं संस्कृति के बारे में भला कौन नहीं जानता हैं। अद्भुत, अद्वितीय भारत एक ऐसा देश जो अपनी खूबसूरती और मेहमान नवाजी के लिए विश्व भर में प्रसिद्ध है।

पर्यटक भारत में घूमने के लिए लालायित रहते हैं। बताते चलें कि भारत दुनिया का सातवाँ सबसे बड़ा और दूसरा सबसे अधिक आबादी वाला देश है।

यह भी पढ़ें. एटम बम मतलब “परमाणु बम”, तो ऐसे दुनिया हो जायेगी खाक!

हालाँकि विदेशी फिल्मों ने भारत को हमेशा गरीब देश के रूप में दिखाया है, विदेशी फिल्मों ने भारत के बारे में ऐसा भ्रामक प्रचार किया है, जहाँ भिखारी और रोगी भरे हैं।

हालांकी नौजवान पीढ़ी इसे गलत साबित करने का पूरा प्रयास कर रही है। आइये हम भारत के कुछ ऐसे ही तथ्यों पर नजर डालते हैं जो शायद आपने सुना न होगा….

यह भी पढ़ें:   मारी गई पाकिस्तानी सेना! इमरान को आज नहीं आएगी नींद

1. भारत की युवा शक्ति…

भारत एक युवाओं से भरा हुआ परिपक्व देश है। यहाँ 50 प्रतिशत से अधिक लोग 25 वर्ष से कम आयु के हैं। रिपोर्ट के मुताबिक 35% लोग 35 वर्ष से कम आयु के हैं। जिसके कारण भारत युवा शक्ति का ओर बढ़ रही है। इन युवाओं के स्वप्न अलग हैं, युवाओं में अलग ही जोश और जज्बा देखने को मिलता है। इसके साथ ही मन में कुछ कर दिखाने की चाह रखते हैं।

2. देश का एक भाग नहीं देता है कर…

भारत एक कृषि-प्रधान देश है। यहाँ के 50 प्रतिशत लोगों का व्यवसाय कृषि पर आधारित है। यह देश मूल रूप से खेती और किसानी पर चलता है। और कृषि यहाँ कर मुक्त है। इसके साथ ही साथ आबादी का एक बड़ा हिस्सा शारीरिक श्रम करता है।

यह भी पढ़ें. अजगर की तरह सुस्त हुआ मसूद, भाई बना आतंक का सरगना

3. वेडिंग डिटेक्टिव…

भारत की संस्कार एवं संस्कृति विभिन्न देशों से अलग है। भारत एक ऐसा देश है जहाँ आज भी अधिकतर विवाह माता-पिता की पसंद से होते हैं। ये किसी भी माध्यम से वर और वधु के मित्रों और रिश्तेदारों से मन मुताबिक जानकारी निकाल लेते हैं और अगर माता-पिता को सभी कुछ अनुकूल मिलता है, तो वह विवाह की मंजूरी दे देते हैं।

4. हार्न प्लीज…

क्षेत्रफल की दृष्टी से भारत 7वां और आबादी को मामले में दूसरा घनी आबादी वाला देश है। जहाँ रोड पर ट्रैफिक होना एक आम बात है। यहाँ लगभग हर ट्रक और लारी के पीछे लिखा रहता है ‘हार्न प्लीज’ ऐसा इसलिए है कि ओवर टेकिंग करते समय दुर्घटना न हो।

यह भी पढ़ें. सावधान पाकिस्तानियों! INS Khanderi याद दिलायेगा छठी का दूध

5. समाचार पत्र….

अधिकांश विकसित देश समाचार पत्र को छोड़ रहे हैं। सभी समाचार वह अपने स्मार्ट फोन पर पढ़ लेते हैं। लेकिन भारतीयों के दिन की शुरूआत आज भी समाचार पत्र के साथ होती है। आपको बता दें कि भारत में 70,000 से अधिक समाचार पत्र छपते हैं।

ये समाचार पत्र विभिन्न भाषाओं में छपते हैं। भारत में समाचार पत्र खरीदना इंटरनेट की तुलना में सस्ता है। सबसे अच्छी बात यह है।

6. फास्ट फूड…

जहाँ एक तरफ कुछ देश फास्ट फूड और पैक्ड प्रोसेस्ड फूड का बहिष्कार कर रहे हैं। वहीं भारतीय काम पर अधिक फोकस कर रहे हैं जिससे उनके पास भोजन पकाने का समय नहीं है।

यह भी पढ़ें.  मोदी का मिशन Apple! अब दुनिया चखेगी कश्मीरी सेब का स्वाद

इसलिए वह काम पर जाने से पहले खाना खरीद कर ले जाते हैं और वापस आकर डिब्बाबंद खाना खाते हैं। जिससे उनमें मोटापा बढ़ रहा है।

7. हर घर में प्लास्टिक की कुर्सियाँ…

घर, अस्पताल, होटल, स्कूल, कार्यालय कहीं भी प्लास्टिक की कुर्सियां आपको आसानी से दिख जाएगी। ऐसा इसलिए है कि सस्ती होने के साथ-साथ हल्की और टिकाऊ भी होती हैं। कोई भी इन्हें सरलता से खरीद सकता है।

8. जहाँ देखो वहाँ पीक…

यह कुछ ऐसा है जिस पर कोई भी भारतीय गर्व नहीं करना चाहेगा, बस बदलाव की थोड़ी जरूरत है। भारत में कभी भी कहीं भी थूक देना एक आम बात है। चाहे वह रोड हो या अन्य कोई जगह। इसके अतिरिक्त भारतीय किसी भी स्थान को शौचालय के रूप में प्रयुक्त कर लेते हैं ।

यह भी पढ़ें: अफवाह या हकीकत, भारत का चंद्रयान उठायेगा इस झूठ से पर्दा

9. अंधविश्वास…

आधुनिकता, विज्ञान की ओर बढ़ रहा भारत का एक बड़ा हिस्सा आज भी शकुन-अपशकुन और अंधविश्वास पर विश्वास करता है। अमीर हो या गरीब उनके लिए रीति-रिवाज प्रमुख हैं। नई गाड़ी खरीदने पर वह माला चढ़ा कर और नारियल फोड़कर आशीर्वाद लेना आवश्यक समझते हैं। इस तरह के कई उदाहरण अभी भी देखने को मिलते हैं।

10. भारत की सड़कें…

भारत एक ऐसा देश है जहाँ हर चीज अलग स्तर पर है। जो अद्भुत है। यहाँ की सड़कों पर आपको कुछ भी मिल सकता है। जैसे मोची, कान और नाक साफ करने वाले, आयुर्वेदिक डाक्टर, हड्डी विशेषज्ञ औरा फास्ट फूड की दुकानें। इसके अतिरिक्त बड़े-बड़े गड्ढे जो आपको कभी मैदान की सैर कराएँगे तो कभी पहाड़ की।