chamki fever

पूर्णिमा श्रीवास्तव गोरखपुर: इसे मित्र राष्ट्र नेपाल की चीनपरस्ती कहें या फिर राष्ट्रवाद का उभार। सिर्फ सोशल मीडिया पर फैली एक अफवाह ने भारत-नेपाल के बीच 60 अरब के कारोबार को बुरी तरह प्रभावित कर दिया है। फल-सब्जी से लेकर कई खाद्य पदार्थों और जरूरी वस्तुओं का आयात-निर्यात करने वाले दोनों देशों के हजारों कारोबारियों …

शिशिर कुमार सिन्हा पटना: राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के राजनीतिक उत्तराधिकारी तेजस्वी यादव की अनुपस्थिति में पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने विपक्ष को एकजुट कर ‘चमकी’ के बहाने बिहार की नीतीश कुमार सरकार को घेरने में पूरी ताकत झोंक दी, लेकिन सब कुछ बेकार गया। विपक्ष पहले स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय को हटाने में पूरी …

बारिश के साथ ही जिस ‘चमकी’ बुखार के खत्म होने का दावा बिहार सरकार के जिम्मेदारों की ओर से किया जा रहा था, उसने एक और बच्चे की जान ले ली। एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) से रविवार को हुई एक बच्चे की मौत के बाद इससे मरने वाले बच्चों का सरकारी आंकड़ा भी 135 पहुंच गया है।

बिहार में ‘चमकी बुखार’ से मासूम बच्चों का 'काल के गाल' में समाने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। इस मामले पर सुनवाई करते हुए आज सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार और बिहार सरकार की जमकर फटकार लगाई।

बिहार में ‘चमकी बुखार’ का जो कहर शुरू हुआ है वह थमने का नाम नहीं ले रहा है। लगातार इससे जुड़े मामले सामने आ रहे हैं और मौतों का आंकड़ा 152 तक पहुंच गया है। बुखार की वजह से मचे हाहाकार के बीच आज इस मसले पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होनी है।

मीडिया रिर्पोटस् के मुताबिक, अस्पताल के पीछे नर कंकालों के कई टुकड़े पाए गए हैं। अस्पताल प्रशासन ने इस मामले को लेकर जांच कराने की बात कही है। अस्पताल की एक टीम ने कंकाल मिलने की जगह का निरीक्षण भी किया है।

बिहार के मुजफ्फरपुर के सबसे बड़े सरकारी हॉस्पिटल के पीछे इंसानों के कंकाल पाए गए हैं। पिछले कुछ वक्त से मुजफ्फरपुर का श्रीकृष्ण मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल बदइंतजामी की वजह से चर्चा में है।

किसी को कुछ नहीं पता। वर्षों से इसी सीजन में अजीब बीमारी के साथ बच्चे आते हैं। लेटे-लेटे शरीर उछलता है। चमक की तरह। सो, चमकी नाम रख दिया। इलाज कुछ नहीं। वक्त मिला तो ग्लूकोज-सोडियम चढ़ाया। जान बचनी होगी तो बची, वरना परिवार वालों की सिसकियां बेकाबू चीत्कार में बदल कर अस्पताल से बाहर। …

मनीष श्रीवास्तव लखनऊ :  बिहार में एक्यूट इंसेफिलाइटिस सिंड्रोम यानी चमकी बुखार से होने वाली मौतों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। हालांकि यूपी में जेई या एईएस से होने वाली मौतों के आंकड़ों में कमी आई है, लेकिन अभी यह खतरा टला नहीं है। इसकी रोकथाम में लगे प्रदेश सरकार के 12 विभागों का …

स्वास्थ्य विभाग ने उत्तराखंड के इस जिले में चमकी बुखार को लेकर अलर्ट जारी किया है। इसलिए माता-पिता को अपने बच्चों की देखभाल करने की बहुत आवश्यकता है।