corona

मुख्य सचिव ओम प्रकाश ने सचिवालय में कोविड-19 पर प्रभावी नियंत्रण के लिए वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से सभी जिलाधिकारियों एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ, कानपुर नगर, प्रयागराज, झांसी, अयोध्या, मेरठ तथा गोरखपुर की विशेष मॉनिटरिंग करते हुए इन जिलों में उपचार व्यवस्था सुदृढ़ की जाए।

कोरोना संक्रमण की जांच के बाद उसकी रिपोर्ट के लिए मरीजों को बड़ी बेसब्री से इंतजार रहता है। कई बार यह रिपोर्ट काफी देर से भी आती है और इस समय में कोरोना मरीज को लगातार रिपोर्ट के नतीजें को लेकर घबराहट रहती है।

राज्य सरकार प्रदेश में दवाईयों का उत्पादन बढ़ाए जाने के प्रयास कर रही है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का मानना है कि प्रदेश की बड़ी जनसंख्या को देखते हुए यहां पर मेडिकल डिवाइस के साथ ही फार्मा उत्पादन की क्षमता बढ़ाए जाने की जरूरत है।

पिछले छह महीनों से अधिक समय से वैश्विक बीमारी कोरोना से लड़ रही प्रदेश की योगी सरकार के लिए आने आने वाला समय और भी चुनौती पूर्ण होने जा रहा है।

यहां एक 28 वर्षीय युवक कोरोना पॉजिटिव का बहाना बनाकर अपनी पत्नी को मुम्बई में छोड़कर चला गया और प्रेमिका के साथ इंदौर में जाकर रहने लगा।

एक ओर जहां पूरा देश कोरोना महामारी से परेशान है और वैक्सीन का इंतजार कर रहा है तो वहीं दूसरी ओर अच्छी खबर यह है कि देश के लोगों के शरीर में एंटीबाडी तेजी से विकसित हो रही हैं।

कोरोना से बचाव के लिए प्रदेश के भीड़-भाड़ वाले सार्वजनिक स्थानों पर पब्लिक एड्रेस सिस्टम स्थापित किए जाएगें। इसके लिए प्रयास शुरू कर दिए गए है।