idea

कंपनी की माने तो आने वाली डेट 29 जून से बिलिंग सिस्टम में भी बदलाव किया जायेगा। इसी वजह से आइडिया निर्वाणा पोस्‍टपेड के ग्राहकों को ऑटोमैटिकली वोडाफोन में शिफ्ट कर दिया जाएगा। इसके बाद ग्राहकों का मौजूदा प्‍लान वोडाफोन रेड के ऐसे ही पोस्‍टपेड प्‍लान में तब्‍दील हो जाएंगे।

अगर आप घर बैठे पैसा कमाना चाहते हैं तो ये खबर आपके लिए उपयोगी साबित हो सकती है। दरअसल एयरटेल और जियो की तर्ज पर अब वोडाफोन आइडिया ने भी एक नए #रिचार्जफॉरगु़ड प्रोग्राम को शुरू किया है।

देश की ये टेलीकॉम कंपनियां एडजस्टेड ग्रॉस रेवेन्यू (AGR) बकाये को लेकर काफी तनाव में हैं इस बकाये का सबसे बड़ा दबाव वोडाफोन-आइडिया पर है। दरअसल, वोडाफोन-आइडिया को सरकार के 53 हजार करोड़ रुपये का बकाया चुकाना है, जिसमें से कंपनी ने 3500 करोड़ रुपये दे दिए हैं।

कस्टमर्स को टेलीकॉम कंपनियां बढ़ा झटका देने वाली है। सुप्रीम कोर्ट के ऑर्डर के बाद ही Vodafone और Idea बड़े संकट में फंस गई हैं।

भारत में जानी-मानी कंपनी वोडाफोन आइडिया लिमिटेड नई घोषणा करने जा रही है। दूरसंचार सेवा प्रदाता वोडाफोन आइडिया लिमिटेड ने अपने सभी पोस्टपेड उत्पाद और सेवाएं अपने प्रीमियम ब्राण्ड अब केवल ‘वोडाफोन रैड’ के अंदर पेश करने की घोषणा की है।

टेलीकॉम कंपनियों के लिए 1.47 लाख करोड़ रुपये के समायोजित सकल राजस्व (एजीआर) के भुगतान की समयसीमा बृहस्पतिवार को बीत गई। इससे पहले भारती एयरटेल और वोडाफोन आइडिया ने दूरसंचार विभाग (डॉट) को सूचित कर दिया

टेलीकॉम कंपनियां वोडाफोन, आइडिया, टाटा टेलीसर्विसेज और भारती एयरटेल ने सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दाखिल कर दूरसंचार विभाग के साथ राशि भुगतान पर बातचीत करने की अनुमति देने के लिए अपने पहले के आदेश में संशोधन की मांग की है।

बहुत दिन से सभी सिम कंपनियां अपने कॉल रेट्स बढ़ा चुकी है। लेकिन अब भी कुछ कंपनियां ऐसी है जो अपने कालिंग रेट्स बढ़ाने वाली है।

रिलायंस जिओ  के नए प्रीपेड प्लान आज (6 दिसंबर) लागू हो गए। इससे पहले  एयरटेल और वोडाफोन आइडिया ने 3 दिसंबर को ही नए टैरिफ लागू कर दिए थे। नए टैरिफ के तहत इन तीनों कंपनियों ने तो अपने प्रीपेड प्लान महंगे कर दिए हैं, या फिर उनके साथ मिलने वाले बेनिफिट्स कम किए हैं।

वोडाफोन आइडिया और एयरटेल के साथ-साथ रिलायंस जियो ने भी मोबाइल सेवाओं की बढ़ी हुई दरों की रविवार को घोषणा की। जियो की नयी दरें छह दिसंबर से प्रभावी होंगी और 40 प्रतिशत तक महंगी होंगी।