life

कहते हैं किस्मत हमारे हाथ में ही होती है। यह किस्मत हाथ की उन रेखाओं में है जो समय के साथ बदलती रहती हैं। हथेली की रेखाओं को पढ़ कर भविष्य बताने की कला को हस्तरेखा कहते है। हस्तरेखा में उंगलियों, नाखूनों, उंगलियों के निशान, हथेली की त्वचा की बनावट व रंग, आकार, हथे

दिसंबर का महीना  करीब-करीब गुजर चुका है। आज से ठीक कुछ दिन बाद नया साल आ जाएगा। उससे पहले आज क्रिसमस पर्व विश्वभर में धूमधाम से मनाया जा रहा है। लोगों ने इस पर्व को मनाने की तैयारी पहले कर ली थी।

आर्थिक रुप से समृद्ध व जीवन में शांति की हर कोई कामना करता है। इसके लिए लोग मेडिटेशन भी करते है। धर्म कर्म करते हैं दान-पुण्य करते हैं, लेकिन कभी कभी ये सारी चीजें भी शांति नहीं देती है। उन चीजों के जानते हैं जिनके घर में रहने से सुख-समृद्धि आती हैं...

जयपुर:आज पुरुषों की तरह ही महिलाऐं भी कदम बढाकर आगे बढ़ रही हैं। लेकिन ऐसे महिलाओं के सामने कई चुनौतियां  हैं क्योंकि उन्हें अपना घर भी संभालना पड़ता और बच्चों को समय देना पड़ता हैं, नहीं तो बच्चों की परवरिश सही नहीं हो पाती है और बच्चे खुद को अकेला महसूस करते हैं। इसलिए  वर्किंग …

इंडिया फैंस क्लब का प्लास्टिक के उपयोग के खिलाफ निरंतर अभियान चला रहा है। अपने जंजगुर्कता अभियान के माध्यम से लोगों को नातने का यह प्रयास किया जा रहा है कि प्लास्टिक के उपयोग से हम अपनी पीढ़ियों को क्या सन्देश देना चाहते हैं।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को आईआईएम के प्रशिक्षण कार्यक्रम में कहा कि जीवन सीखने के लिए होता है। जीवन की प्रत्येक घटना से कुछ न कुछ सीखने को मिलता है।

आसपास की ऊर्जा का हमारे काम और जीवन पर सीधा असर पड़ता है। अगर यह ऊर्जा सकारात्मक है तो हम सकारात्मक और खुश रहेंगे, लेकिन नकारात्मक ऊर्जा हमारे मन-मस्तिष्क पर ऐसा असर डालती है कि हम कुछ ऐसा कर बैठते हैं कि जिसका परिणाम भयावह होता है।

हर इंसान सुखी जीवन की कामना करता है। इसके अच्छी नौकरी व अच्छा खासा बिजनेस करने की चाहत ज्यादातर लोग करते है, जिससे अपने परिवार का भरण-पोषण कर सके।

हिन्दू धर्म में तो पत्नी को पति की अद्धांगिनी कहते हैं। इसी के साथ पत्नी को घर की लक्ष्मी भी मानते हैं। महाभारत व गरुड़ पुराण में पत्नी की कुछ अच्छाई बताई गई हैं और जिनकी पत्नी में ये गुण होते हैं, उनके पति को भाग्यशाली मानते हैं।

बड़े बुजुर्ग कहते हैं कि दिन काम करने के लिए बना है और रात सोने के लिए।। ले​किन आज कल की लाइफस्टाइल में ये बात कहीं बहुत पीछे छूट गयी है।नींद पूरी न होने के कारण जीवन में काफी दिक्कतें बढ़ जाती है।