married

दो वर्ष पूर्व जटपुरा गांव निवासी 60 वर्षीय विधवा केसरबती की मिस काॅल के जारिये जिला हरदोई निवासी बीस वर्षीय राकेश पाल से हो हुई थी, धीरे-धीरे दोनों की दोस्ती प्यार में बदल गई और दोनों ने एक दूसरे को जीवन साथी बनाने का फैसला कर लिया।

अवनी चतुर्वेदी देश की पहली महिला फाइटर पायलट अब शादी के बंधन में बंध गईं। देश की पहली तीन महिला फाइटर पायलटों में एक अवनी चतुर्वेदी हैं। समलाखा निवासी फ्लाइंग लेफ्टिनेंट विनीत छिकारा के साथ मध्यप्रदेश में मंगलवार को उनका विवाह हुआ और गुरुवार को ससुराल पहुंचीं जहां नवदंपती को बधाई देने के लिए आसपास के लोग पहुंचे और उन्हें शुभकामनाएं दीं। 

चाहे लड़की हो या लड़का जीवन के एक पड़ाव पर दोनों को साथ की जरूरत पड़ती है। कहने का मतलब कि जीवन में एक साथी जो जीवनभर आपका रहे उसकी आवश्यकता हमेशा रहती ही है। लेकिन अब सोच बदली है। आजकल लड़के तो दूर लड़कियां ही शादी नहीं करना चाहती वो सिंगल रहना ही पसंद करती हैं।

इसरो के वैज्ञानिक के नाम शादी के नाम पर झांसा देने मामला सामने आया है। दिल्ली के द्वारका में एक शख्स ने खुद को इंडियन स्पेस रिसर्च ऑर्गेनाइजेशन (इसरो) का वैज्ञानिक बताकर युवती से शादी कर ली।

नई दिल्ली: ये सुनकर आपकी हंसी रूकेगी नहीं, लेकिन आप ये खबर जरूर पढ़ें। पूरा मामला यह है कि क‍ि एक 70 साल के बुजुर्ग 24 साल की लड़की से शादी करना चाहते हैं। यह भी पढ़ें.  झुमका गिरा रे…. सुलझेगी कड़ी या बन जायेगी पहेली? इसके ल‍िए वह कलेक्ट्रेट कार्यालय में याच‍िका लेकर भी पहुंच …

आपने ढेरों प्यार की कहानियां सुने या पढ़े होंगे, लेकिन आइये हम आपको एक नये प्यार-ए-दास्तान के बारे में बताते है, जहां 83 साल का दूल्हा और 27 साल की दुल्हन शादी के बंधन में बंध कर हमेशा के लिए एक दूसरे के हो गए।83 साल का दूल्हा और 27 की दुल्हन...

आसपास की ऊर्जा का हमारे काम और जीवन पर सीधा असर पड़ता है। अगर यह ऊर्जा सकारात्मक है तो हम सकारात्मक और खुश रहेंगे, लेकिन नकारात्मक ऊर्जा हमारे मन-मस्तिष्क पर ऐसा असर डालती है कि हम कुछ ऐसा कर बैठते हैं कि जिसका परिणाम भयावह होता है।

हिन्दू धर्म में तो पत्नी को पति की अद्धांगिनी कहते हैं। इसी के साथ पत्नी को घर की लक्ष्मी भी मानते हैं। महाभारत व गरुड़ पुराण में पत्नी की कुछ अच्छाई बताई गई हैं और जिनकी पत्नी में ये गुण होते हैं, उनके पति को भाग्यशाली मानते हैं।

शादीशुदा हिंदू महिलाओं के सिर पर लाल रंग का सिंदूर बहुत फबता है। महिलाओं के लिए सिंदूर, हर गहने से बढ़कर है। औरतों को सिंदूर के अलावा मंगलसूत्र भी उन्हें किसी भी अन्य मूल्यवान वस्तु से अधिक प्रिय है। महंगे से महंगे अभूषण भी उनके लिए मंगलसूत्र के आगे कम हैं। ये मान्यताएं और उनका विश्वास ही है,

मियां बीबी राजी तो क्या करेगा काजी। ये कहावत तोआपने जरूर सुना होगा। लेकिन क्या आपने यह कभी सुना है कि 'मियां बीवी राजी और थाने में आया काजी?' लेकिन इस कहावत के पीछे बड़ी ही दिलचस्प कहानी है। क्योंकि ये वाली कहावत आज उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जनपद के थाना पडरौना में चरितार्थ होते हुए दिखा है।