ram naik

उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने कहा कि देशभर में अनगिनत स्थानों पर देशवासी स्वतंत्रता के लिये अपना योगदान दे रहे थे। लखनऊ भी स्वतंत्रता की लड़ाई का प्रमुख केन्द्र रहा है।

यूपी के राजभवन में आज उस समय बडा ही सुंदर दृश्य पैदा हुआ जब पूर्व राज्यपाल और वर्तमान के राज्यपाल एक साथ मिले। राजभवन का स्टाफ भी यह देखकर बेहद खुश हुआ।

 राज्यपाल राम नाईक ने कहा कि लोकतंत्र में कार्यपालिका, न्यायपालिका तथा विधायिका के साथ ही चतुर्थ स्तम्भ पत्रकारिता का भी बहुत महत्व है। देश में पत्रकारिता ने स्वाधीनता संग्राम से लेकर समाज के उत्थान तक में अपनी विशिष्ट भूमिका का निर्वहन किया है।

हम दोनों ने अलग-अलग विचारधारा से राजनीति की शुरूआत की पर हम दोनों को करीब लाने वाला प्रेम था रेलवे कर्मचारी और प्रतिदिन यात्रा करने वाले यात्रियों की सुविधा की बात करना।

यूपी के राज्यपाल राम नाईक से आज राजभवन में ‘राष्ट्रीय सुरक्षा और सामरिक अध्ययन’ पर निकले केन्द्रीय रक्षा मंत्रालय के राष्ट्रीय रक्षा महाविद्यालय के 16 सदस्यीय अधिकारियों के एक दल ने रियर एडमिरल डीएम सुडान, एसडीएस राष्ट्रीय सुरक्षा महाविद्यालय नई दिल्ली के नेतृृत्व में शिष्टाचारिक भेंट की।

यूपी के राज्यपाल राम नाईक ने आज भातखण्डे संगीत संस्थान अभिमत विश्वविद्यालय के जीर्णोद्वारित मुक्ताकांशी मंच तथा नवनिर्मित सभागृह ‘कला मण्डपम् प्रेक्षालय’ का उद्घाटन किया। इस अवसर पर अभिमत विश्वविद्यालय की कुलपति श्रुति सडोलीकर काटकर सहित शिक्षकगण, अधिकारी, कर्मचारी तथा विद्यार्थीगण उपस्थित थे।

राज्यपाल ने सर्वधर्म सम्मेलन में आये हुए सभी अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि हम हिन्दू, मुस्लिम, सिख, ईसाई, बौद्ध, जैन होते हुए भी पहले भारतीय हैं। वसुधैव कुटुम्बकम का लघु चित्र इस कार्यक्रम में देखने को मिल रहा है, यही सन्देश ऐसे उत्सव के माध्यम से पूरे विश्व में जाता है। इस समय का खिचड़ी भोज कार्यक्रम नया रूप लेकर उत्तर प्रदेश आ रहा है।

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने आज स्वामी विवेकानन्द की जयंती पर अमीनाबाद के झण्डे वाले पार्क स्थित स्वामी विवेकानन्द की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित करके अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की। इस अवसर पर पूर्व विधान परिषद सदस्य विन्धवासिनी कुमार, नगर निगम के अधिकारीगण व अन्य विशिष्टजन भी उपस्थित थे। ये भी पढ़ें—  मैं मानता …

राम बरना पीजी कालेज जयसिंहपुर में स्वामी विवेकानंद ग्राम्य युवा चेतना कुम्भ कार्यक्रम के मौके पर पहुंचे उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने कुम्भ पर विस्तार से चर्चा किया। उन्होंने कहा कि इस समय का कुम्भ दुनिया में ऐतिहासिक बन जाएगा।

दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय में 11 से 13 जनवरी तक चलने वाले गोरखपुर महोत्सव का राज्यपाल राम नाईक ने दीप प्रज्वलित कर उद्घाटन किया। इस अवसर पर राज्यपाल नाईक ने अपने संबोधन में कहा कि इस तरह के महोत्‍सव से बच्‍चों का मानसिक और शारीरिक विकास होता है।