मर्दों जान लों! लड़कियों की चोली में छिपा है गहरा राज़, तो इसलिए पसंद बैकलेस

हम लड़कियों की कपड़े की बात करें तो आज कल बैकलेस ड्रेस का काफी ट्रेंड चल गया है। अगर आप नहीं जानती की बैकलेस तो इसमें कोई हिचकिचाने की बात नहीं है। आपको बताते है बैकलेस मतलब क्या होता है? जिस ड्रेस से आपकी पूरी पीठ दिखाई दे और वो एक तरह का डिज़ाइन शो करे उसे बैक लेस कहेंगे।

लखनऊ: हम लड़कियों की कपड़े की बात करें तो आज कल बैकलेस ड्रेस का काफी ट्रेंड चल गया है। अगर आप नहीं जानती की बैकलेस तो इसमें कोई हिचकिचाने की बात नहीं है। आपको बताते है बैकलेस मतलब क्या होता है? जिस ड्रेस से आपकी पूरी पीठ दिखाई दे और वो एक तरह का डिज़ाइन शो करे उसे बैक लेस कहेंगे।

ड्रेस को अलग अलग तरीके से शो किया जाता है ताकि पीठ दिखे या स्ट्रिप के ज़रिए आप उससे दिखा सकते है।

बैकलेस ड्रेस को लोग आमतौर पर खास अवसर पर या शाम के वक़्त पहनते हैं और यह ड्रेस लंबी या छोटी हो सकती मेन ये होता है की ड्रेस बैक हो।

ड्रेस के अलावा बात करे तो इसमें बैकलेस स्विमसूट्स और टॉप शामिल हैं, जैसे कि हॉल्टरटॉप।

ये भी देखें:खट्टर के बयान पर भड़कीं स्वाति मालीवाल, बोला- इन पर तो FIR होनी चाहिए

सबसे पहले 1920 के दशक आई ये ड्रेस

बैकलेस कपड़े पहली बार 1920 के दशक में दिखाई दिए। 1930 के दशक में, शैली उस समय के सन टैनिंग फैशन से जुड़ी हुई थी, और बैकलेस ड्रेस टैन दिखाने का एक तरीका था, वैसे तो लोगों को ये पहने के लिए अपने स्किन टोन को सही रखना पड़ता है।

बैक लेस पहनने वाले को अक्सर पतला होना पड़ता है ताकि उस पर ड्रेस का फिट अच्छा आए।

दिसंबर 1937 में, बैकलेस ड्रेस पहनने के दौरान अभिनेत्री माइकेल पैटन को विवादास्पद रूप से पीछे से फ़िल्माया गया था। उसके बाद लोगों ने इसको नग्नता के भ्रम के कारण शिकायत करने के लिए लिखना शुरू कर दिया।

ये भी देखें:सीडब्ल्यूसी की बैठक जारी, अध्यक्ष पर फैसले की उम्मीद

बैकलेस स्टाइल

बैकलेस ड्रेस को कई तरीकों से रखा जा सकता है। सबसे आम कपड़े या पट्टा के एक टुकड़े से होता है जो पहनने वाले की गर्दन के पीछे से गुजरता है, हॉल्टर्न-स्टाइल।

गर्दन का पट्टा खुद पहनने वाले के बालों से ढका हो सकता है, इसके पीछे से यह आभास होता है कि कुछ भी नहीं है जो ड्रेस को पकड़ रहा है।

वैकल्पिक रूप से, पोशाक को छोटी आस्तीन या एक स्पेगेटी पट्टियों के साथ पहना जा सकता है, जो कपड़े को कंधों पर रखते हैं।

स्टिक-ऑन ड्रेस या न्यूड नेटिंग अन्य तरीके हैं जिनसे ड्रेस को ऊपर रखा जा सकता है।

बैकलेस ड्रेस के से पीठ दिखने की मात्रा अलग-अलग होती है, कुछ ड्रेस में ऊपर या बीच का पार्ट छोड़ दिया जाता है, और कंधे के ब्लेड को उजागर किया जाता है।

कुछ आर्महोल की गहराई से शुरू होते हैं।

ये भी देखें:CWC मीटिंग: कांग्रेस अध्यक्ष के लिए दलित नाम पर लग सकती है मोहर

टाइम फैक्टर

बैकलेस ड्रेस का डिजाइन आप टाइम को ध्यान में रखकर ही बनवाएं। मसलन, डे टाइम के लिए सोबर कलर्स व डिजाइंस चुनें।

इसके अलावा, ब्लैक कलर व सिक्विन वर्क को अवॉइड करें।

वैसे, इस सीजन में सॉफ्ट फ्लोरल प्रिंट्स ज्यादा पसंद किए जा रहे हैं। वहीं, ईवनिंग वियर में ब्लैक व दूसरे ब्राइट कलर्स की ड्रेस चुन सकती हैं।

ये भी देखें:जानिए, मोदी की कामयाबी के पीछे प्राणों की आहुति किस-किस ने दी

शाइनिंग बैक

बैक की ब्यूटी पर ध्यान देंगी, तभी आप पर बैकलेस ड्रेस अच्छी लगेगी। इसके लिए सबसे पहले स्क्रब से बैक क्लीन करें। पांच मिनट स्क्रबिंग से स्किन क्लीन होती है और डेड स्किन भी हट जाती है।

फिर टैन रिमूविंग क्रीम लगाएं। बैक को अट्रैक्टिव बनाने के लिए होममेड चीजें भी भी यूज कर सकती हैं। इसके लिए मड पैक व कर्ड का मिक्सचर बनाएं और बैक पर लगा लें।

इससे स्किन के सारे दाग-धब्बे दूर हो जाएंगे। ब्यूटी एक्सपर्ट रेखा कहती हैं कि बैकलेस ड्रेस तभी पहनें, जब आपकी बैक एकदम क्लीन हो। बैक को सॉफ्ट बनाने के लिए ऑइल फ्री मॉइश्चराइजर यूज करें और शाइनिंग के लिए शिमर पाउडर लगाएं।

ये भी देखें:यहां है पॉर्न यूनिवर्सिटी, इंडस्ट्री में करियर बनाने वालों को दी जाती है ट्रेनिंग

ड्रेस पहने से पहले करे पीठ के लिए ये काम

महिलाओं की पीठ आकर्षक ना हो, तो उनका सौंदर्य अधूरा-अधूरा सा लगता हैं। कई बार पीठ की त्वचा पर काले दाग-धब्बे पड़ जाते हैं, जिसकी वजह से वो खराब दिखती है, तो आइए जानते हैं पीठ को सुंदर और आकर्षक कैसे बनाया जाए।

1. नहाने के बाद कोल्ड क्रीम या माइस्चराइजर का प्रयोग करें।
2.पीठ को सुंदर और आकर्षक बनाना चाहती हैं तो सप्ताह में एक बार पीठ की मालिश जरूर कराएं। आप इस मसाज को ब्यूटी पार्लर में जाकर भी करवा सकती हैं।
3. पीठ को गोरा बनाने के लिए हल्दी और नींबू के पैक का इस्तेमाल करें। जिससे आपकी पीठ की त्वचा में रंगत आएगी।
4. पीठ की त्वचा को खूबसूरत और मुलायम बनाने के लिए चार चम्मच चीनी में नींबू का रस मिलाएं और फिर इसे अपनी पीठ पर लगाएं।

ये भी देखें:कश्मीर लड़की से करेंगे शादी… सेब खरीदने की औकात नहीं- बिदिता बाग

चोली में भी आ गया ये डिज़ाइन

अब तो चोली में बैकलेस स्टाइल भी पाया जाता है, जो साड़ी और घागरा के साथ भारतीय महिलाओं द्वारा पहना जाता है। महिलाओं की चोली अक्सर बैक लेस होती है। जिसे वो शादियों या पार्टियों में पहनती है। बैकलेस स्टाइल खास तौर से पश्चिमी फैशन के प्रभाव के लिए बनाए गए थे।

ये भी देखें:7 जन्मों के 7 सात फेरे, इसके पीछे छिपे इतने गूढ़ रहस्य, हर परिस्थिति में करें याद

बैक लेस ड्रेस से मर्द होते है आकर्षित

मर्दों को अक्सर महिलाओं की पीठ आकर्षित करती है चाहे वो बैक लेस चोली पहने या बैक लेस ड्रेस। क्योंकि महिलाओं के शरीर के कुछ पार्ट्स होते है जिस पर मर्दों की नज़र पहले जाती है। जो महिलाएं अपने बॉडी पर टैटू बनवा ती और बैक लेस पहनती है उन पर मर्दों की नजर पहले पड़ती है। लड़कियों का पीठ शो करना मर्दों के लिए सेक्स अपील बनने लगता है। वो महिलाओं को ले कर गलत सोचने लगते है। लेकिन सारे मर्दों को यह कहना गलत होगा। सब एक जैसा नहीं सोच सकते हैं क्योंकि कुछ महिलाओं को बैकलेस ड्रेस के लिए तारीफ भी करते हैं।