पुलिस पर गौ तस्करों का बड़ा हमला, कई पुलिसकर्मी घायल, गाड़ियों में तोड़फोड़

शामली में जिला बदर गो तस्कर को पकड़ने गयी पुलिस पर उसके परिजनों और गांव वालों ने हमला कर दिया और जमकर जमकर तोड़फोड़ की।

Published by Ashiki Patel Published: May 27, 2020 | 10:06 am
Modified: May 28, 2020 | 6:58 am

शामली: जिले में जिला बदर गो तस्कर को पकड़ने गयी पुलिस पर जिला बदर गो तस्कर, उसके परिजनों और गांव वालों ने हमला कर दिया और पुलिस कर्मियों के साथ मारपीट की और उन पर पथराव भी किया और पुलिस की गाड़ियों में भी तोड़फोड़ की। पुलिस पार्टी पर हमले और पथराव में दो दरोगा सहित कई पुलिसकर्मी गंभीर रूप से घायल हो गए। घायल पुलिसकर्मियों को इलाज के लिए शामली के जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। वहीं, गंभीर रूप से घायल हुए पुलिस की गाड़ी के एक ड्राइवर को डॉक्टरों ने हायर सेंटर के लिए रेफर कर दिया है। पुलिस पार्टी पर हमला और पथराव की सूचना मिलते ही पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया और आनन-फानन में जिले के तमाम पुलिस अधिकारी भारी पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और मौके से मुख्य आरोपी सहित 30 लोगों को हिरासत में ले लिया है।

ये भी पढ़ें: असम-मेघालय में बाढ़ से भारी तबाही, IMD ने इन राज्यों में जारी किया रेड अलर्ट

धरपकड़ में जुट गई है टीम

दरअसल आपको बता दें कि पूरा मामला जनपद शामली के झिंझाना थाना क्षेत्र के गांव टपराना का है जहां पर बीती रात पुलिस जिला बदर गो तस्कर की गांव में होने की सूचना पर उसे पकड़ने के लिए गांव में पहुंची थी। जैसे ही पुलिस पार्टी गांव में पहुंची तो जिला बदर गौ तस्कर व उसके परिजनों और गांव वालों ने पुलिस पार्टी पर हमला कर दिया और पुलिस पार्टी के साथ मारपीट करते हुए उन पर पथराव भी किया। जिसमें 2 दरोगा सुनील कुमार सोलंकी और संजय सहित कई पुलिसकर्मी घायल हो गए।

पुलिस पार्टी पर हमले की सूचना झिंझाना इंस्पेक्टर पीके सिंह ने जैसे ही आला अधिकारियों को दी तो जनपद शामली पुलिस के तमाम आला अधिकारियों में हड़कंप मच गया और आला अधिकारी भारी पुलिस फोर्स के साथ गांव में पहुंचे और मौके से मुख्य आरोपी अफजाल सहित 30 लोगों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया और स्थिति पर नियंत्रण किया। वहीं पुलिस ने 45 लोगों को नाम दर्ज तथा 80 लोगों को अज्ञात करते हुए मुकदमा दर्ज किया है और नाम दर्ज में अज्ञात लोगों की धरपकड़ में जुट गई है। सभी घायल पुलिसकर्मियों को इलाज के लिए शामली के जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। वहीं पीआरवी पर तैनात पीआरवी के ड्राइवर को गंभीर हालत के चलते हायर सेंटर रेफर कर दिया है।

ये भी पढ़ें: चीन को उसी की भाषा में जवाब देगा भारत, ड्रैगन के आगे किसी भी मोर्चे पर नहीं झुकेगा देश

अब तक 30 हुए हिरासत में

वह इस पूरे मामले पर एसपी शामली विनीत जयसवाल ने बताया कि कल देर रात झिंझाना थाना पुलिस द्वारा ग्राम टकराना में एक शातिर जिला बदर गोकशी के यहां दबिश देकर उसे रास्ते में लिया गया। उस अभियुक्त को छुड़ाने के लिए उसके परिजनों ने सैकड़ों ग्रामीणों के साथ पुलिस पार्टी पर हमला बोल दिया गया। इस हमले में 3 पुलिसकर्मियों को चोटें आई हैं तथा 2 गाड़ियों के शीशे टूट गए।

सूचना पाकर तत्काल उच्च अधिकारी कई थानों की फोर्स लेकर मौके पर पहुंचे तथा उक्त शातिर जिला बदर गोपेश्वर को गिरफ्तार किया तथा 30 व्यक्तियों को हिरासत में लिया कुल 45 नामजद अभियुक्त तथा 80 अज्ञात के विरुद्ध गंभीर धाराओं में अभियोग पंजीकृत कर के पुलिस द्वारा आवश्यक वैधानिक कार्यवाही की जा रही है। शेष अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए टीमें लगा दी गई हैं तथा इनकी शीघ्र गिरफ्तारी की जाएगी पर्याप्त पुलिस बल मौके पर मौजूद है। जिन पुलिसकर्मियों को चोटें आई हैं उनका मेडिकल करा दिया गया है। सभी खतरे से बाहर हैं। स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है और पुलिस द्वारा आवश्यक वैधानिक कार्यवाही की जा रही है।

ये भी पढ़ें: देश में यहां मुर्गियां दे रही हैं हरा अंडा, वैज्ञानिकों में मचा हड़कंप

‘बैट वुमन’ ने दी चेतावनी: दुनिया के लिए खतरा बनेगा कोरोना से भी खतरनाक वायरस

कोरोना पर वैज्ञानिकों का दावा, हाथ की ये उंगली बताएगी मौत का कितना है खतरा

भीषण गर्मी का कहर: चूरू में पारा 50 डिग्री पर पहुंचा, दिल्ली-हरियाणा में टूटा रिकॉर्ड

रिपोर्ट: पंकज प्रजापति